Double murder Case: कत्ल के बाद चाबी से ताला खोलकर सोरांव में घर के भीतर घुसे थे कातिल

देवनारायण सीधे और सरल स्वभाव के थे। उनका किसी से कोई विवाद नहीं था। ऐसे में उनके साथ उनकी पत्नी की हत्या क्यों की गई यह सवाल पुलिस के साथ ही परिवार और गांव वालों के भी सामने हैं।

Ankur TripathiThu, 29 Jul 2021 09:21 AM (IST)
, परिवार वालों ने लूट का लगाया आरोप, पुलिस ने कहा केवल मोबाइल गायब

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। सोरांव इलाके के चांदपुर सराय भारत गांव में मंगलवार रात हुए दोहरे हत्याकांड की जांच कर रही पुलिस का कहना है कि बरामदे में सो रहे देवनारायण पटेल और उनकी पत्नी की नृशंस हत्या के बाद अभियुक्त मकान का ताला चाबी से खोलकर भीतर घुसे थे। बदमाशों को चाबी रंजना की चारपाई के सिरहाने पर मिली थी। बरामदे में चाबी लगा ताला मिलने के बाद ऐसा पुलिस ने माना है। दो कमरे के मकान में रखी आलमारी व बक्शा खुला था। दोनों कमरों में सामान, कपड़ा इधर-उधर बिखरा पड़ा था। परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि हत्यारोपित घर से लैपटाप, जेवरात समेत कई कीमती सामान उठा ले गए हैं, जबकि पुलिस का कहना है कि केवल मोबाइल ही गायब है।

बरामदे में सोता था परिवार

पड़ोसियों का कहना था कि पूरा परिवार लगभग रोजाना ही बरामदे में सोता था। देवनारायण पहले अपने बड़े भाई के साथ राइस मिल में हाथ बंटाते थे। इसके बाद उन्होंने काम छोड़ दिया। इसके बाद खेती करते रहे, लेकिन आमदनी बढ़ाने के लिए बेटे दिव्यांश के नाम पर जन सेवा केंद्र खोला था। दूसरे भाई और उनके घरवालों का कहना है कि देवनारायण के पास ज्यादा जेवरात और कीमती सामान नहीं थे, लेकिन थोड़ा बहुत जरूर था, जो कमरे की आलमारी व बक्शे में नहीं मिला है। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि कत्ल के पीछे लूट वजह भी हो सकती है, मगर इस बिंदु पर पुलिस पूरी तरह से मुतमईन नहीं है।

वारदात में दो से अधिक बदमाश थे शामिल

जिस तरह से पति, पत्नी की धारदार हथियार से हत्या की गई, उससे साफ है कि वारदात में दो से अधिक शख्स शामिल रहे होंगे। कोई व्यक्ति अकेले दंपती की हत्या नहीं कर सकता है क्योंकि एक साथ ही दोनों पर धारदार हथियार से वार किया गया होगा। अगर ऐसा न होता तो पति या पत्नी जाग जाते और विरोध जताते, मगर ऐसा नहीं हुआ। दोनों के गर्दन पर पहले वार किए गए, जिसके बाद वह तख्त व चारपाई पर ही पड़े रहे। हालांकि देवनारायण के हाथ में भी जख्म मिला है। ऐसे में माना गया कि उसने विरोध का प्रयास किया होगा।

आखिर क्या है कत्ल की असल वजह

देवनारायण सीधे और सरल स्वभाव के थे। उनका किसी से कोई विवाद नहीं था। ऐसे में उनके साथ उनकी पत्नी की हत्या क्यों की गई, यह सवाल पुलिस के साथ ही परिवार और गांव वालों के भी सामने हैं। पुलिस का दावा है कि घर में सामान बिखेरकर लूट का ड्रामा किया गया है, जबकि सच्चाई अलग हो सकती है। दोहरे हत्याकांड की सही वजह क्या है, इसका जवाब पुलिस तलाश रही है। हालांकि अभी तक रंजिश, पारिवारिक विवाद, प्रेम प्रसंग, लूट और दूसरे बिंदुओं पर छानबीन चल रही है। पुलिस ने अलग-अलग स्थान से कई संदिग्ध बदमाशों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

सीडीआर से मिलेगा सुराग

कत्ल के बाद अभियुक्त देवनारायण का मोबाइल उठा ले गए हैं। अब पुलिस उस मोबाइल की काल डिटेल रिपोर्ट (सीडीआर) निकलवा रही है। साथ ही लोकेशन भी ट्रेस की जाएगी। ताकि उनके भागने और छिपने के बारे में पता चल सके। साथ ही यह भी साफ हो जाएगा कि मंगलवार को देवनारायण की किस-किस से बात हुई थी, जिसके बाद उनसे भी पूछताछ की जाएगी। एसपी गंगापार धवल जायसवाल का कहना है कि सीडीआर आने पर कुछ अहम सुराग मिल सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.