top menutop menutop menu

जांच कराने में न करें लापरवाही, जीतना है कोरोना से जंग

जांच कराने में न करें लापरवाही, जीतना है कोरोना से जंग
Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 08:44 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, प्रयागराज : कोरोना का कहर जिस तरह बढ़ता जा रहा है, वह सभी के लिए चिंता का विषय है। इसलिए कोरोना का लक्षण दिखते ही तुरंत जांच कराएं। बीमार हैं तो लापरवाही न करें। गुरुवार को दैनिक जागरण के लोकप्रिय कार्यक्रम प्रश्न पहर में सवालों का जवाब देते हुए जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी ने कहा कि अभी पूरा अमला वैश्विक महामारी कोरोना से जूझ रहा है। इसके चलते अन्य विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। फिलहाल हमारा प्रयास है कि इस महामारी से लोगों को बचाया जाय। उसके लिए सभी इंतजाम किए गए हैं। कोरोना के लक्षण वालों को खोजने, उनकी जांच और इलाज करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ अन्य विभागों की टीम लगा दी गई है। समय रहते कोरोना की जांच होने पर मरीजों की जान बचाई जा सकती है। इसके अलावा कोरोना से अलग भी कई लोगों डीएम से ने सवाल पूछे। प्रस्तुत है एक घंटे तक सवाल जवाब के इस कार्यक्रम के प्रमुख अंश..

सवाल : कोरोना से ठीक होने के बाद निजी कंपनियों द्वारा रिपोर्ट मांगी जा रही हैं। दोबारा जांच नहीं हो रही है, कैसे करें।

जवाब : अगर कोरोना हुआ है तो 17 दिन बाद वह आफिस जा सकते हैं। पहले 10 दिन होम आइसोलेशन और फिर सात दिन का क्वारंटाइन का समय है। इसके लिए किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं होगी। अगर मरीज स्वस्थ्य है तो दोबारा जांच की भी जरूरत नहीं है। निजी कंपनियों को इसके लिए निर्देशित किया जाएगा कि वह रिपोर्ट के लिए दबाव नहीं बनाएं। सवाल : चांदपुर सलोरी के शुक्ला गली में कोरोना पॉजिटिव केस मिले, लेकिन सैनिटाइजेशन नहीं हो रहा है।

जवाब : वहां पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की टीम लगाकर सर्वे कराया जा रहा है। सैनिटाइजेशन भी कराया जाएगा।

सवाल : पन्नालाल रोड के उपवन अपार्टमेंट में कोरोना पॉजिटिव के मामले आए हैं, लेकिन सैनिटाइजेशन नहीं कराया गया।

जवाब : वहां पर टीम जाएगी। अगर न पहुंचे तो क्षेत्रीय सभासद को सूचित करें। उनको जिम्मेदारी दी गई है कि वह सैनिटाइजेशन करवाएं।

सवाल : कोरोना के चलते कोचिंग बंद है। हमारी तैयारी प्रभावित हो रही है।

जवाब : कोरोना का संक्रमण जब तक कंट्रोल नहीं होगा, कोचिंग बंद रहेगी और आप लोग आनलाइन पढ़ाई करें।

सवाल : अलोपशंकरी अपार्टमेंट में सैनिटाइजेशन नहीं हो रहा है। यहां पर गंदगी भी है।

जवाब : अपार्टमेंट सोसाइटी को चाहिए कि अपने यहां खुद ही सफाई करवाएं। सैनिटाइजेशन के लिए निगम से संपर्क कर लें।

सवाल : कौंधियारा में कोरोना के कई मरीज मिले हैं। इनके घर में होम आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं है फिर भी इन्हें अस्पताल नहीं ले जाया जा रहा है।

जवाब : कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घर टीम जाएगी। उनको अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।

सवाल : बाकराबाद का रास्ता खराब है। बारिश में परेशानी बढ़ गई है।

जवाब : उसकी जांच करवाई जाएगी कि अब तक क्यों नहीं बना। उसे बनवाया जाएगा।

सवाल : खीरी थाना क्षेत्र में मई में मर्डर हुआ था। लेकिन अब तक आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई।

जवाब : इस मामले में एसएसपी से मिल लें, आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सवाल : नैनी में अरैल तिराहे से मलहरा तक नाले पर कब्जा है। इससे बारिश में पानी निकासी नहीं हो रहीं है और घरों में पानी भर रहा है।

जवाब : वहां से अवैध निर्माण ढहाया जाएगा। नगर निगम के अफसरों को इसके लिए निर्देशित किया गया है।

सवाल : पीपलगांव में गाटा नंबर 393 पर अवैध कब्जा हो रहा है। इसके अलावा एयरपोर्ट की बाउंड्री के निकट पेट्रोल पंप खुल रहा है, जो मानक के विपरीत है।

जवाब : तालाब पर कब्जा करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा और उसे खाली कराया जाएगा। पेट्रोल पंप अगर मानक के विपरीत खुल रहा है तो कार्रवाई की जाएगी।

सवाल : जयंतीपुर के गोकुल आवास योजना में पानी निकाली का इंतजाम नहीं है, इससे जलभराव हो रहा है।

जवाब : इसकी जानकारी नगर निगम को दे दी जाएगी। क्षेत्रीय सभासद से मिलकर इसके लिए समाधान निकाल सकते हैं।

डोर टू डोर हो रहा सर्वे

कोरोना के मरीज जितनी जल्द सामाने आ जाएंगे, उतनी जल्दी इसके संक्रमण पर रोक लगेगी। इससे उनका इलाज हो सकेगा और उनकी जान बच जाएगी। इसके लिए चार सौ टीमें लगाकर शहर में और 13 सौ टीमें लगाकर गांव में जांच की जा रही है। सर्वे की टीम का लोग नंबर भी लें लें। अगर बाद में उन्हें कोरोना के लक्षण दिखे तो उन्हें वह सूचित करके जांच करवाएं। लक्षण आधारित किया जा रहा इलाज

कोरोना होने पर लोग घबराए नहीं है। इसकी भले अभी वैक्सीन नहीं आई, लेकिन लक्षण के आधार पर इलाज किया जा रहा है। अधिकतर लोग ठीक हो रहे हैं। जिन लोगों को पहले से कोई बीमारी है, उनके लिए खतरा है। शहर से लेकर गांव तक फ्री में जांच हो रही है। इन्होंने पूछे सवाल

मुन्नू भाई पटेल बाकराबाद, राजेंद्र मालवीय मीरापुर, विकास अल्लापुर, अजय सिंह कचेहरी, मनीष पांडेय मांडा, सुमित शुक्ला चांदपुर सलोरी, निर्भय पांडेय अलोपीबाग, राजपथ पांडेय होलागढ़, रजनीकांत श्रीवास्तव नैनी, राजेंद्र जुनेजा सिविल लाइन, आशीष वाजपेई अल्लापुर, संदीप मिश्रा खीरी, रोहिणी पाल भड़ेसर, सतीश यादव झूंसी, नीरज प्रतापपुर, अनुग्रह साहू कटरा, सुभाष तिवारी बैरहना, अभिजात कीडगंज, श्याम कुमार राजापुर, नीरज शुक्ला होलागढ़, अशोक जयंतीपुर, विजय कुमार तुलाराम बाग, शशि शुक्ला सोरांव, कुंवर अजय बाई का बाग, विजय प्रताप गऊघाट, शुभम तिवारी नैनी, अभिजीत मिश्रा दारागंज, अनिल मिश्रा जसरा, धीरेंद्र सिंह अल्लापुर, अनुभव मिश्रा सलोरी, बीपी मिश्रा गोविंदपुर, ब्रजेश त्रिपाठी हेतापट्टी, ब्रजेश शुक्ला सलोरी, रमेश नेवादा, आनंद पांडेय सेवना।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.