Dengue Danger: प्रयागराज में बढ़े डेंगूृ रोगी, एक दिन में मिले 14 मरीज, डीएम ने किया निरीक्षण

मलेरिया विभाग के अनुसार मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज परिसर में एक छोटा बघाड़ा में दो कालिंदीपुरम कालोनी गोविंदपुर शिवकुटी तेलियरगंज स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय परिसर मनौरी एयरफोर्स कालोनी और म्योराबाद में एक-एक मरीज में डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई।

Ankur TripathiThu, 16 Sep 2021 09:00 AM (IST)
शहर में प्रीतमनगर निवासी एक मरीज की पिछले दिनों मेदांता अस्पताल में हो गई मौत

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। डेंगू बुखार से सुरक्षित रहने के लिए मलेरिया विभाग, नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग की कवायद आखिर काम न आई। डेंगू अब पूरे जिले में फैल गया है और बुधवार को तो यह दोगुनी रफ्तार से बढ़ा। एक ही दिन में नगर क्षेत्र में 14 लोगों को डेंगू हो गया। गोविंदपुर और शिवकुटी में लगातार नए लोगों को डेंगू हो रहा है। उधर, डेंगू से प्रीतमनगर निवासी एक मरीज जय प्रकाश यादव की मेदांता हास्पिटल गुडग़ांव में बीते दिनों मौत हो गई। बुधवार को जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री उनके घर पहुंचे और परिवार वालों को सांत्वना दी।

कूलर में नहीं जमा रहनें दें पानी

मलेरिया विभाग के अनुसार मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज परिसर में एक, छोटा बघाड़ा में दो, कालिंदीपुरम कालोनी, गोविंदपुर, शिवकुटी, तेलियरगंज, स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय परिसर, मनौरी एयरफोर्स कालोनी और म्योराबाद में एक-एक मरीज में डेंगू की पुष्टि हुई। धूमनगंज, बैंक रोड, मनमोहन पार्क क्षेत्र, भुसौली टोला खुल्दाबाद में एंटी लार्वा का छिड़काव कर डेंगू मच्छरों के लार्वा को नष्ट किया गया। जनपद में डेंगू रोग फैलने से लोगों में घबराहट भी होने लगी है जबकि डाक्टरों का कहना है कि डेंगू से घबराने की जरूरत नहीं, केवल जागरूक होकर मच्छरों से बचने की जरूरत है। जिला मलेरिया अधिकारी आनंद सिंह ने बताया कि लोग अपने घरों में कूलर की टंकियों में पानी भरना बंद कर दें। छत पर, सीढिय़ों पर या अन्य किसी स्थान पर गमले रखे हैं, उनमें पानी कई दिनों से भरा हो तो बहा दें।

डेंगू अब तक स्थिति

नए मरीज - 14

अब तक मिले मरीज-116

नगरीय क्षेत्र-84

ग्रामीण क्षेत्र-32

कुल भर्ती-07

सक्रिय मरीज-13

फाफामऊ के अस्पतालों में नौ मरीज भर्ती

फाफामऊ : फाफामऊ के कई इलाकों में डेंगू फैल गया है। अस्पतालों में डेंगू रोग से पीडि़त नौ मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रामक बीमारियां भी बढ़ रही हैं।

शांतिपुरम कालोनी में स्थित निजी अस्पताल में पांच और फाफामऊ बाजार स्थित निजी अस्पताल में चार लोग भर्ती हैं। अस्पताल संचालकों का दावा है कि इनकी जांच रिपोर्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है। डा. बीएन सिंह और डा. बिंदू विश्वकर्मा ने बताया कि डेंगू के मरीजों में तेज बुखार व शरीर में दर्द बना रहता है।

प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचे डीएम और कराई फागिंग

- मलेरिया विभाग और नगर निगम ने निकाली जनजागरूकता रैली

- डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में दवा के लगातार छिड़काव के निर्देश

धूमनगंज के प्रीतमनगर कालोनी स्थित कबीर मंदिर क्षेत्र में बुधवार को डेंगू से बचाव के लिए जनजागरूकता रैली निकाली गई। इसमें जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री भी पहुंचे। उन्होंने लोगों को संचारी रोगों से बचाव और लक्षण के बारे में जागरूक किया। जिलाधिकारी ने डेंगू से मेदांता अस्पताल में मृत जय प्रकाश यादव के स्वजन से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। डेंगू पीडि़त रीता पत्नी परमानंद के घर भी जिलाधिकारी पहुंचे। इस दौरान नगर आयुक्त रवि रंजन व मुख्य चिकित्साधिकारी डा. नानक सरन भी शामिल रहे।

निजी अस्पताल संचालकों की बुलाएं बैठक

डीएम को जय प्रकाश यादव के स्वजन ने बताया कि शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान उनकी (जय प्रकाश) डेंगू जांच नहीं कराई गई थी। जय प्रकाश मधुमेह और यूरिन की बीमारी से भी पीडि़त थे। हालत में सुधार न होने पर मेदांता हास्पिटल ले गए, वहां जांच हुई तो डेंगू पाजिटिव पाया गया। इस पर जिलाधिकारी ने सीएमओ से कहा कि सभी निजी अस्पतालों में सर्कुलर जारी करें कि बुखार से पीडि़त जो भी लोग आ रहे हैं उनकी डेंगू जांच जरूर कराई जाए। कहा कि गुरुवार को ही निजी अस्पताल संचालकों की बैठक बुलाकर उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.