उत्तर प्रदेश में दुखी और भयभीत हैं दलित व ब्राह्मण, प्रयागराज में बोले बसपा महासचिव सतीशचंद्र मिश्र

मुख्य अतिथि बसपा महासचिव ने सावन के पहले सोमवार पर हुए इस आयोजन को स्वयं के लिए सौभाग्य बताया। करीब 40 मिनट के संबोधन में उनके निशाने पर भाजपा ही मुख्य रूप से रही। कहा कि प्रदेश में अनुसूचित जाति और ब्राह्मणों पर हमले हो रहे हैं।

Ankur TripathiMon, 26 Jul 2021 08:53 PM (IST)
प्रयागराज के सैदाबाद में प्रबुद्धजनों की विचार संगोष्ठी में बोले बसपा महासचिव

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। बहुजन समाज पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने सोमवार को यहां अनुसूचित जाति, ब्राह्ममण गठजोड़ के पुराने फार्मूले से मिशन 2022 साधने की कोशिश की। कहा कि यूपी में दलित और ब्राह्मण दुखी व भयभीत हैं। युवाओं पर हमले और बेटियों पर ज्यादती हो रही है। उन्होंने पूछा कि क्या यही रामराज्य है? अयोध्या में रामलला मंदिर निर्माण का जिक्र करते हुए कहा कि यह तो सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर बन रहा है, भाजपा सरकार का इसमें कोई योगदान नहीं है। भाजपा के लोग तो मंदिर के नाम पर जुटाए गए हजारों करोड़ रुपये खा गए।

अयोध्या के रामलला के मंदिर में भाजपा सरकार का योगदान नहीं

सैदाबाद स्थित गेस्ट हाउस में पार्टी के बैनर तले हुई ब्राह्मण सम्मान, सुरक्षा और तरक्की के मुद्दे पर प्रबुद्धजन विचार संगोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि बसपा महासचिव ने सावन के पहले सोमवार पर हुए इस आयोजन को स्वयं के लिए सौभाग्य बताया। करीब 40 मिनट के संबोधन में उनके निशाने पर भाजपा ही मुख्य रूप से रही। कहा कि प्रदेश में अनुसूचित जाति और ब्राह्मणों पर हमले हो रहे हैं। हाथरस कांड की पीडि़ता की मौत के बाद उसके शव को पेट्रोल डालकर जला दिया गया। कानपुर के बिकरू कांड में सह आरोपित अमर दुबे की पत्नी खुशी दुबे को बेल नहीं मिल रही है। प्रदेश में कानून का राज नहीं रह गया है। ब्राह्मणों की तादाद 13 फीसद यानी 25 करोड़ की आबादी वाले यूपी में तीन करोड़ है। बिखरने, बंटने की बजाए सभी एकजुट हो जाएं तो बसपा की पूर्ण बहुमत से सरकार बन जाएगी और ब्राह्णमण को सम्मान, सुरक्षा और तरक्की मिलेगी।

भाजपा और सपा तो भाई भाई

सतीश चंद्र मिश्र ने भाजपा और समाजवादी पार्टी को एक ही थैली का चट्टा बट्टा बताया। कहा कि दोनों की फितरत एक जैसी है। कुछ मामलों में सपा, भाजपा से आगे है। जानकारी दी कि शुरुआत रामलला के दर्शन से की है और अब वह मथुरा वृंदावन जाएंगे। बताया कि वृंदावन में सुश्री मायावती ने अपनी सरकार रहते 550 करोड़ रुपये का विकास कार्य कराया था। पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने सतीश चंद्र मिश्र से यह वचन दिलवाया कि सरकार बनने पर ब्राह्मïणों को वाजिब सम्मान दिलाया जाएगा। इस कार्यक्रम के आयोजक पूर्व ब्लाक प्रमुख नरेंद्र कुमार त्रिपाठी 'मुन्ना थे। बसपा जिलाध्यक्ष अभिषेक गौतम की भी उपस्थिति रही।

गणेश प्रतिमा, गदा देकर किया सम्मानित

आयोजकों ने सतीश चंद्र मिश्र को प्रथम पूज्य गणेश की प्रतिमा और गदा स्मृति चिह्न के रूप में दिया। उन्हें अंगवस्त्रम और लाल रंग के कपड़े का मुकुट भी पहनाया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.