Police Encounter Prayagraj : संघ पदाधिकारी पर हमले में फरार आरोपितों की पुलिस से मुठभेड़, एक अपराधी को लगी गोली

फरार तीन अन्य आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है।

जनपद के मऊआइमा थाना क्षेत्र के शिवपुर सुल्तानपुर खास गांव के समीप शुक्रवार भोर में आरएसएस के खंड कार्यवाह दिनेश मौर्य को गोली मारने के मामले में फरार आरोपितों में दो की शनिवार रात पुलिस से मुठभेड़ हो गई। इसमें एक गोली लगने से जख्मी हो गया।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 11:12 PM (IST) Author: Ankur Tripathi

प्रयागराज, जेएनएन। जनपद के मऊआइमा थाना क्षेत्र के शिवपुर सुल्तानपुर खास गांव के समीप शुक्रवार भोर में आरएसएस के खंड कार्यवाह दिनेश मौर्य को गोली मारने के मामले में फरार आरोपितों में दो की शनिवार रात पुलिस से मुठभेड़ हो गई। इसमें एक आरोपित गोली लगने से जख्मी हो गया। पुलिस ने उसे और उसके साथी को धर दबोचा। बदमाशों के पास से दो तमंचा, कारतूस और बाइक बरामद की गई है। वहीं, फरार तीन अन्य आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है। 

पहले भी दर्ज हैं मुकदमे, अन्य आरोपितों की तलाश में कई जगह दी गई दबिश

मरखामऊ गांव निवासी दिनेश मौर्य रोडवेज में संविदा पर परिचालक होने के साथ ही आरएसएस के खंड कार्यवाह भी हैं। शुक्रवार को भोर में ड्यूटी से छूटने के बाद घर जाते समय शिवपुर सुल्तानपुर खास गांव के समीप बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी गई थी। मामले में अबुल उर्फ जैद, गुलफाम, अतीक, माशूक व सुल्तानपुर खास गांव के पूर्व प्रधान वाजिद अली उर्फ बचऊ को नामजद किया गया था। एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने क्राइम ब्रांच समेत तीन टीमों को आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए लगाया था। जांच में जुटी पुलिस को पता चला कि खंड कार्यवाह दिनेश मौर्य अपने मित्र के एक मामले की पैरवी कर रहे थे, जिसमें आरोपित ही नामजद किए गए थे। इससे आरोपित उनसे खुन्नस खाए थे।

जवाबी फायरिंग में अतीक के पैर में गोली लग गई

फरार आरोपितों की तलाश में जुटी पुलिस को शनिवार रात पता चला कि कुछ बदमाश मऊआइमा की तरफ से गुजरने वाले हैं। सूचना पाकर पुलिस बताए गए स्थान पर पहुंची तो बाइक सवार दो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में अतीक के पैर में गोली लग गई, जबकि उसके साथ अबुल उर्फ जैद ने आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस ने अतीक को अस्पताल में भर्ती कराया है। मुठभेड़ की जानकारी होने पर आला अफसर मौके पर पहुंचे। एसपी गंगापार धवल जायसवाल का कहना है कि अन्य तीन आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है। गिरफ्तार आरोपित पहले भी कई मामले में नामजद हैं। 

चौकी प्रभारी किए गए लाइन हाजिर

आरएसएस के खंड कार्यवाह दिनेश मौर्य को गोली मारने के मामले में कस्बा चौकी प्रभारी अजीत ङ्क्षसह को एसएससपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने शनिवार को लाइन हाजिर कर दिया। दारोगा पर कार्य में लापरवाही का आरोप है। हालांकि, बताया जाता है कि खंड कार्यवाह पर हमले की सूचना पाकर पहले वे ही मौके पर पहुंचे थे। अपनी निजी कार से घायल दिनेश मौर्य को लेकर पहले स्थानीय अस्पताल पहुंचे और वहां जब डॉक्टरों ने हालत गंभीर बताई तो एसआरएन अस्पताल ले आकर भर्ती कराया था। अब उनके लाइन हाजिर होने के बाद इंटरनेट मीडिया के ट्विटर आदि पर तमाम चर्चाएं हो रही हैं। 

अस्पताल पहुंचकर उप मुख्यमंत्री ने जाना हालचाल

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या शनिवार दोपहर स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल पहुंचे। यहां भर्ती आरएसएस के खंड कार्यवाह दिनेश मौर्य से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। उन्होंने चिकित्सकों को बेहतर इलाज के लिए निर्देशित किया। स्वजनों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। पुलिस अधिकारियों से वार्ताकर आरोपितों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.