Coronavirus Effect in Prayagraj : संक्रमण रोकने को आधे शहर के 51 और मोहल्ले सील, आवश्यक वस्तुओं की होगी होम डिलीवरी

इन मोहल्लों में कई जगह 200 मीटर के दायरे में 70 से 100 मरीज तक हैं।

Coronavirus Effect in Prayagraj एडीएम सिटी अशोक कनौजिया ने बताया कि जिन मोहल्लो को सील किया गया है वहां पर 14 दिन आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। लोगों से अपील की जा रही है कि वह कोरोना की चेन तोडऩे में प्रशासन का सहयोग करें।

Rajneesh MishraMon, 19 Apr 2021 09:22 PM (IST)

प्रयागराज,जेएनएन। कोरोना की चेन तोडऩे के लिए जिला प्रशासन सख्त कदम उठाने लगा है। रविवार को शहर के आठ उन मोहल्लों में उस एरिया को सील कर दिया था, जहां  कोरोना के सबसे अधिक मामले हैं। उसी क्रम में सोमवार को 51 और मोहल्लों में कोविड संक्रमित इलाकों को सील करने की कार्रवाई की गई। इस तरह करीब आधे शहर में कोविड प्रभावित   क्षेत्र सीलिंग के दायरे में आ गए हैैं। इन क्षेत्रों में 14 दिन तक आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। इन दिनों में कोरोना के नए मामले न आने पर प्रतिबंध में ढील दी जाएगी। अगर कोरोना के मामले मिले तो आगे भी यह सख्ती जारी रहेगी।

जिले में खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है कोरोना का संक्रमण

कोरोना का संक्रमण जिले में खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है। खासकर शहरी इलाकों मे ज्यादा लोग संक्रमित हो रहे हैं। संक्रमण की चेन तोडऩे के लिए जिला प्रशासन ने पिछले दिनों जो लोग संक्रमित हुए हैं, उनकी गूगल मैपिंग कराई। गूगल मैप के जरिए यह देखा जा रहा है कि वह कहां रह रहे हैं। इससे पता चला कि शहर के बाई का बाग, छोटा बघाड़ा, अग्निपथ कॉलोनी, गोविंदपुर, तेलियरगंज मार्केट क्षेत्र, शांतिपुरम फाफामऊ, लेबर कॉलोनी नैनी, जीटीबी नगर करेली सहित कुल 51 मोहल्लों में कोरोना के ढेर सारे मरीज हैं। इसमें ममफोर्डगंज, राजरूपपुर और कालिंदीपुरम की कई गलियों में ज्यादा लोग संक्रमित हैैं। इन मोहल्लों में कई जगह 200 मीटर के दायरे में 70 से 100 मरीज तक हैं। इसलिए इन मोहल्लों की कई गलियों को सील किया गया है। इन क्षेत्रों में आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। केवल आवश्यक वस्तुओं की दुकानें ही खुलेंगी। सभी लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। न लगाने पर चालान की कार्यवाही होगी। आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी होगी। इन क्षेत्रों में सफ़ाई, स्वास्थ्य और प्रशासनिक टीम को ही जाने की अनुमति होगी।

 एडीएम सिटी अशोक कनौजिया ने बताया कि जिन मोहल्लों को सील किया गया है, वहां 14 दिन आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। लोगों से अपील की जा रही है कि वह कोरोना की चेन तोडऩे में प्रशासन का सहयोग करें। दो सप्ताह तक यह घर से नहीं निकलेंगे तो कोरोना का संक्रमण थम जाएगा।

 

इन मोहल्लों में की गई सीलिंग की कार्यवाही

बाई का बाग, छोटा बघाड़ा, अग्निपथ कॉलोनी, गोविंदपुर, तेलियरगंज मार्केट क्षेत्र, शांतिपुरम सेक्टर ए, ई और जी फाफामऊ, लेबर कॉलोनी नैनी, जीटीबी नगर करेली, पुराना कटरा, एलनगंज, शिवपुरी, त्रिवेणीपुरम, जार्जटाउन, ओम गायत्री नगर, शिवकुटी, बलरामपुर हाउस, मास्टर जहीरउल हसन रोड, ममफोर्डगंज में मस्जिद के निकट, महादेव मंदिर मंफोर्डगंज, लाला लाजपत राय मार्ग, अनुपमा विहार ओल्ड कटरा, मौलवी नगर, करेली, खुल्दाबाद, लूकरगंज, राजरूपपुर, 20 फीट रोड राजरूपपुर, कालिंदीपुरम, जागृति चौराहा आदि क्षेत्रों में ज्यादा संक्रमण है। इन मोहल्लों में संक्रमण वाले क्षेत्र को सील किया गया है।

आवश्‍यक वस्‍तुओं की ही दुकानें खुलेंगी

केवल आवश्यक वस्तुओं की दुकानें ही इन क्षेत्रों में खुलेंगी। इधर सभी लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। न लगाने पर चालान की कार्यवाही होगी। आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी होगी। इन क्षेत्रों में सफाई, स्वास्थ्य और प्रशासनिक टीम को ही जाने की अनुमति होगी।  एडीएम सिटी अशोक कनौजिया ने बताया कि  जिन मोहल्लो को सील किया गया है, वहां पर 14 दिन आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। लोगों से अपील की जा रही है कि वह कोरोना की चेन तोडऩे में प्रशासन का सहयोग करें। दो सप्ताह तक यह घर से नहीं निकलेंगे तो कोरोना का संक्रमण थम जाएगा।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.