Covid-19 के लिए और निजी अस्पतालों को करें चिह्नित : डिप्टी सीएम

Covid-19 के लिए और निजी अस्पतालों को करें चिह्नित : डिप्टी सीएम
Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 09:40 PM (IST) Author: Brijesh Srivastava

प्रयागराज,जेएनएन। कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए शनिवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए और अधिक प्रभावी ढंग से प्रयास करें। टेस्टिंग की संख्या और बढ़ाएं। कांटेक्ट ट्रेसिंग शत-प्रतिशत हो। यह भी कहा कि मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कुछ और निजी अस्पताल को चिह्नित करें, जिससे लोगों का बेहतर इलाज हो सके।

भर्ती मरीजों के साथ चिकित्सक, नर्स व वार्ड ब्वाय अच्छा व्यवहार करें

उप मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि परीक्षण केंद्रों पर आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराएं। परीक्षण कराने के लिए लोगों को प्रेरित करें। होम आइसोलेशन की अनुमति प्राप्त मरीजों की निगरानी और प्रभावी ढंग से करें। कहा कि अस्पताल में भर्ती मरीजों को प्रतिदिन अटेंड किया जाए और उनका स्वास्थ्य परीक्षण भी नियमित करें। भर्ती मरीजों के साथ चिकित्सक, नर्स व वार्ड ब्वाय अच्छा व्यवहार करें। कहा कि कोविड-19 के लिए चार-पांच और प्राइवेट अस्पतालों को चिह्नित करें। जहां पर लोग चाहें तो सरकार से निर्धारित रेट पर अपना उपचार करा सकें। उनको इलाज के लिए दूसरे शहर न जाना पड़े।

डीएम भानुचंद्र गोस्वामी ने बताया कि अधिक उम्र वालों और पूर्व में किसी बीमारी से ग्रस्त लोगों के होम आइसोलेशन की अनुमति में विशेष सावधानी बरती जा रही है। जिससे कि ऐसे लोगों को बीमारी की गंभीरता से बचाया जा सके। बैठक में कमिश्नर आर रमेश कुमार, एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी, शहर उत्तरी विधायक हर्षवर्धन वाजपेई, पीडीए उपाध्यक्ष अंकित अग्रवाल, नगर आयुक्त रवि रंजन, सीडीओ आशीष कुमार, सीएमओ डा. जीएस वाजपेई, नगर अध्यक्ष गणेश केशरवानी, सांसद फूलपुर प्रतिनिधि दीपक पटेल आदि थे।

विकास कार्यो में लाएं तेजी

कोविड-19 से निपटने की तैयारियों की समीक्षा के बाद उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विकास कार्यों समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जो भी परियोजनाएं स्वीकृत हैं, उन पर तेजी से कार्य करें। जमीन अधिग्रहण सहित अन्य कार्रवाई को प्राथमिकता पर कराए। उन्होंने मलाक हरहर से म्योराबाद तक गंगा पर बनने वाले छह लेन पुल, राम वन गमन मार्ग, रिंग रोड, बक्शी बांध एवं सलोरी में बनने वाले आरओबी सहित तथा अन्य परियोजनाओं को प्राथमिकता पर पूरा करने का निर्देश दिया। गांवों में बन रहे पंचायत भवनों के निर्माण समय से पूरा करने को कहा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.