कोरोना की पाबंदियों का प्रयागराज में असर, सब्जियों, वनस्पति तेल और फलों की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि

थोक की तुलना में फुटकर दामों में करीब डेढ़ से ढाई गुना का अंतर है।

खाद्य सामग्रियों खाद्य तेलों सब्जियों और फलों की आवक में कमी का बहाना बनाकर दुकानदारों द्वारा कीमतों में बेतहाशा वृद्धि की जा रही है। थोक की तुलना में फुटकर दामों में डेढ़ से ढाई गुना का अंतर है। आम जनता की जेब पर दुकानदारों द्वारा खुलेआम कैची चलाई जा रही।

Ankur TripathiThu, 22 Apr 2021 06:00 AM (IST)

प्रयागराज, जेएनएन। बेकाबू होते कोरोना संक्रमण के कारण सारी प्रशासनिक मशीनरी इसी व्यवस्था में लगी है। बाजार में बढ़ती महंगाई पर अफसरों का कोई ध्यान नहीं है। खाद्य सामग्रियों, खाद्य तेलों, सब्जियों और फलों की आवक में कमी का बहाना बनाकर दुकानदारों द्वारा इनकी कीमतों में बेतहाशा वृद्धि की जा रही है। थोक की तुलना में फुटकर दामों में करीब डेढ़ से ढाई गुना का अंतर है। आम जनता की जेब पर दुकानदारों द्वारा खुलेआम कैची चलाई जा रही है। लोग क्या करें, उन्हें मुंह मांगी कीमत देने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

सरसों का तेल 180, दाल 120 रुपये किलो
सरसों के तेल का फुटकर रेट गुणवत्ता के आधार पर 160 से 180 रुपये किलो है। रिफाइंड 160 से 170 रुपये लीटर और पॉमोलीन 130 से 135 रुपये किलो है। अरहर की दाल की कीमत 120 रुपये किलो हो गई है। तेल, रिफाइंड और पॉमोलीन के दाम में होली के बाद से ही तेजी का रुख बना है। करीब 20 दिन में तेल के दाम में 30 से 40 रुपये किलो की वृद्धि हुई है। अरहर के दाम में लगभग 10 दिनों में 20 रुपये किलो तक की बढ़ोत्तरी हुई है। डालडा का रेट भी बढ़कर 135 से 140 रुपये किलो हो गया है। मसाले की कीमत में वृद्धि नहीं हुई है। पैकेट में सौ ग्राम मसाला 58 रुपये में है।


चीनी के दाम में भी दो रुपये का उछाल
फुटकर में आटा 26 से 28 रुपये किलो बाजार में है। चीनी का रेट 40 रुपये से बढ़कर 42 रुपये किलो हो गया। दो रुपये की वृद्धि हुई है। फुटकर कारोबारी सतीश कुमार का कहना है कि खाद्य सामग्रियों और खाद्य तेलों का रेट अभी और बढ़ सकता है।

कीवी 60 और नींबू आठ रुपये पीस
फलों की कीमतों में डेढ़ गुना तक की तेजी आई है। कीवी सौ रुपये की चार पीस बिकती थी लेकिन, करीब सप्ताह भर से कीवी 60 रुपये पीस बिक रही है। नींबू भी आठ रुपये का एक पीस बिक रहा है। कीवी, संतरा, केला, नींबू कोरोना के लिए बेहद फायदेमंद माना जा रहा है।

थोक रेट (पिछले और इस सप्ताह)
सरसों का तेल-2400-2500
रिफाइंड-2300- 2350
पॉमोलीन-2250-2250
डालडा घी-1750-1850
आटा-21-21
चीनी-35-36.50
अरहर की दाल-98-101

फलों एवं सब्जियों के थोक और फुटकर दाम
संतरा-50-60-120
अंगूर-40-45-120
केला-45-50-70
अनार-70-80-120-140
सेब देशी-70-160
सेब विदेशी-200-240
आलू-10-13-20
प्याज-12-14-20
टमाटर-5-6-14
परवल-35-40-60-80
भिंडी-20-22-40
करैला-20-22-40
नेनुआ-20-25-50
लौकी-10-12-20

नोट: तेल, रिफाइंड, पॉमोलीन, डालडा का रेट रुपये प्रति 15 किलो अथवा लीटर टिन और अन्य सामानों के दाम रुपये प्रति किलो में। 


खाद्य तेलों की कीमतों में कंपनियां लगातार वृद्धि कर रही हैं। सरसों के तेल और रिफाइंड के रेट में बुधवार को भी 50 रुपये टिन की वृद्धि हुई। डालडा घी का रेट भी 100 रुपये 15 किलो का टिन बढ़ा है। अरहर के दाम में पिछले सप्ताह करीब तीन-चार रुपये किलो की वृद्धि हुई थी। इधर, तीन रुपये दाम फिर बढ़ गया है।
सतीश चंद्र केसरवानी, अध्यक्ष इलाहाबाद गल्ला तिलहन व्यापार मंडल।

आलू का रेट कुछ दिन पहले बढ़ा था। गोला आलू 10-11 और जी फोर 12-13 रुपये किलो है। परवल के दाम में कुछ तेजी आई है। अन्य सब्जियों के थोक रेट कम हैं। सब्जियों की आवक में कमी नहीं है।
सतीश कुशवाहा, अध्यक्ष मुंडेरा सब्जी एवं फल व्यापार मंडल।  

फलों के थोक रेट में करीब 30 से 40 फीसद की वृद्धि हुई है। माल बाहर से नहीं आ पाने के कारण रेट में तेजी आई है। संतरा मंडी में बिल्कुल नहीं आ रहा है।
बच्चा यादव, महामंत्री मुंडेरा सब्जी एवं फल व्यापार मंडल

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.