याद किए गए केपी ट्रस्ट के पूर्व अध्यक्ष चौधरी नौनिहाल सिंह, प्रयागराज के छात्रावास में लगवाई जाएगी उनकी प्रतिमा

चौधरी जीतेंद्रनाथ ने कहा कि उन्हें संगीत का शौक था इसलिए बड़े-बड़े संगीतकार आते थे। संगीत संध्या होती थी। चौधरी नौनिहाल जी का जन्म 26 जुलाई 1926 को हुआ था। वह 25 वर्ष तक ट्रस्ट के महामंत्री एवं 12 वर्ष अध्यक्ष रहे। अवध के तनुकेदार एसोसिएशन के आजीवन उपाध्यक्ष थे

Ankur TripathiTue, 27 Jul 2021 06:30 AM (IST)
कार्यक्रम में वक्ताओं ने कहा, चौधरी जी ने सिद्धांतों से नहीं किया कभी समझौता

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री एवं कायस्थ पाठशाला के पूर्व अध्यक्ष चौधरी नौनिहाल सिंह 'बाबू जी को सोमवार को उनकी 99 वीं जयंती पर याद किया गया। उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अमर रहे के नारे लगाए गए। कायस्थ पाठशाला मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे ट्रस्ट के अध्यक्ष चौधरी जितेंद्रनाथ सिंह ने कहा कि मेरे पिता चौधरी नौनिहाल सिंह एक मुखर व्यक्तित्व के धनी थे। उनका कांग्रेस पार्टी से बहुत लगाव था। इंदिरा गांधी जब यहां आती थीं, उन्हें नाम से पुकारती थीं।

बाबूजी एक सरल स्वभाव के व्यक्ति थे

चौधरी जीतेंद्रनाथ ने कहा कि उन्हें संगीत का बड़ा शौक था इसलिए बड़े-बड़े संगीतकार आते थे और संगीत संध्या होती थी। चौधरी नौनिहाल जी का जन्म 26 जुलाई 1926 को हुआ था। वह 25 वर्ष तक ट्रस्ट के महामंत्री एवं 12 वर्ष अध्यक्ष रहे। अवध के तनुकेदार एसोसिएशन के आजीवन उपाध्यक्ष भी थे। उनकी प्रतिमा अपने पैसे से चौधरी नौनिहाल सिंह छात्रावास में लगवाएंगे। कायस्थ पाठशाला के पूर्व अध्यक्ष चौधरी राघवेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि मेरे पिता एक आदर्शवादी व्यक्ति थे उन्होंने कभी भी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। सीएमपी डिग्री कालेज के पूर्व प्राचार्य आनंद श्रीवास्तव ने उनके जीवन से संबंधित कहानियां बताईं और उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। ट्रस्ट के प्रवक्ता एवं अतिरिक्त सचिव प्रशासन अनिल कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि बाबूजी एक सरल स्वभाव के व्यक्ति थे, जिन्होंने सदैव जनमानस की सेवा की। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री एसडी कौटिल्य ने किया। इस मौके पर आनंद श्रीवास्तव, विजय शंकर लाल, कौशलेंद्र नाथ सिंह, नवीन सिन्हा, रवि श्रीवास्तव, सत्य प्रकाश, कुलदीप नारायण श्रीवास्तव, रमेश श्रीवास्तव आदि मौजूद थे।

एनओसी रहित आनलाइन स्थानांतरण की व्यवस्था लागू हो

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ सेवारत की बैठक प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह की अध्यक्षता में हुई। इसका संचालन महामंत्री डा. सुनीत गिरि ने किया। वक्ताओं ने कहाकि ऑनलाइन स्थानांतरण के नाम पर शिक्षकों की भावनाओं से खिलवाड़ हो रहा है। मांग की गई कि एनओसी रहित आनलाइन स्थानांतरण की व्यवस्था लागू की जाए, पुरानी पेंशन व्यवस्था भी बहाल हो। तय किया गया कि नौ अगस्त को प्रदेश स्तर पर सभी जनपद मुख्यालयों पर जिलाधिकारी के माध्यम से विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन दिया जाएगा। इस दौरान डा. प्रमोद श्रीवास्तव, डा. राकेश सिंह, शैलेश राय, अनिल चौहान, आशीष, विनोद कुमार, सुरेंद्र प्रताप सिंह, अरविंद वर्मा, महेंद्र देव, महावीर सिंह, राजीव कुमार शर्मा, दिनेश कुमार आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.