भारत स्काउट्स एंड गाइड्स के जिला कोषाध्यक्ष पद से डॉ. योगेंद्र को हटाने के मामले ने तूल पकड़ा

डॉ. योगेंद्र सिंह का कहना है कि व्हाट्सएप पर वायरल पत्र के माध्यम से नौ अक्टूबर 2020 को पद से हटाने की सूचना मिली थी। उन्होंने डीआइओएस को पत्र लिखकर अनियमित नियुक्ति को निरस्त करते हुए सभी वित्तीय अभिलेख वापस किए जाने की मांग की।

Brijesh SrivastavaSat, 20 Mar 2021 03:39 PM (IST)
भारत स्काउट्स एंड गाइड्स के जिला कोषाध्यक्ष पद से हटाए गए डॉ. योगेंद्र सिंह ने पत्र भेजा है।

प्रयागराज, जेएनएन। भारत स्काउट्स एंड गाइड्स के जिला कोषाध्यक्ष पद से डॉ. योगेंद्र सिंह को हटाने का मामला तूल पकड़ रहा है। इस मामले को लेकर डॉ. योगेंद्र ने मुख्य आयुक्त को पत्र लिखा है। इसमें बताया है कि उत्तर प्रदेश स्काउट एंड गाइड जिला संस्था प्रयागराज के जिला मुख्यायुक्त व डीआइओएस आरएन विश्वकर्मा के आदेश पर राजकीय एवं अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों से प्रतिवर्ष लाखों रुपये अंशदान के रूप में जमा कराए जाते हैं। 

पत्र में कहा कि लगभग डेढ़ साल पहले तीन लाख रुपये का भुगतान वेद प्रकाश भगत को किए जाने की स्वीकृति दी गई। प्रादेशिक सचिव आनंद सिंह रावत के अनुसार मुख्यालय से 30 हजार रुपयों की मांग की गई थी। कोरोना संक्रमण के कारण उक्त प्रशिक्षण का आयोजन स्थगित कर दिया गया। इस बीच डॉ. योगेंद्र सिंह ने रकम कोष में जमा कराने का अनुरोध किया। फिर भी राशि जमा नहीं कराई गई। 

वाट्सएप पर मिली पद से हटाने की सूचना

डॉ. योगेंद्र सिंह का कहना है कि व्हाट्सएप पर वायरल पत्र के माध्यम से नौ अक्टूबर 2020 को पद से हटाने की सूचना मिली थी। उन्होंने डीआइओएस को पत्र लिखकर अनियमित नियुक्ति को निरस्त करते हुए सभी वित्तीय अभिलेख वापस किए जाने की मांग की फिर भी अब तक कोई अभिलेख वापस नहीं किए गए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.