UP: Food Poisoning से कौशांबी में एक ही परिवार के 3 व प्रयागराज में एक मौत, 6 अस्‍पताल में भर्ती

रात में 55 वर्षीया सूरजकली का परिवार लगभग 9 बजे खाना खा सोने की तैयारी कर रहा था। इसी दौरान रात क़रीब 11 बजे वृद्ध शिवकली की अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। देखते ही देखते शिवकली का पुत्र कंधई बहू सीमा व संगीता व पोता की भी तबीयत ख़राब हो गई।

Brijesh SrivastavaWed, 04 Aug 2021 10:07 AM (IST)
कौशांबी के सराय अकिल में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। फूड प्‍वायजनिंग की आशंका है।

प्रयागराज, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के कौशांबी और प्रयागराज जनपद में बड़ी घटना हुई है। फूड प्‍वायजनिंग के कारण कौशांबी में तीन और प्रयागराज में एक मौत हो गई। दोनों घटनाओं में हुई इन घटनाओं में मृत लोग परिवार के सदस्‍य थे। कौशांबी के सराय अकिल में दो लोग अस्‍पताल में भर्ती हैं। वहीं प्रयागराज के होलागढ़ थाना क्षेत्र में फूड प्‍वायजनिंग की घटना में परिवार के चार सदस्‍य अस्‍पताल में इलाज करा रहे हैं। संबंधित थानों की पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।

पहली घटना कौशांबी जनपद में सराय अकिल थाना क्षेत्र की है। यहां के चक पिन्‍ह गांव में ज़हरीला खाना खाने से एक ही परिवार के पांच लोगों की हालत बिगड़ गई। एक बुजुर्ग महिला की घर पर ही मौत हो गई। जबकि इलाज़ के लिए ले जाते समय दो लोगों की रास्ते में मौत हो गई। परिवार के दो सदस्‍यों को प्राथमिक उपचार के बाद प्रयागराज के एसआरएन अस्‍पताल रेफर किया गया। वहां उनकी हालत ख़तरे से बाहर बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद अपर पुलिस अधीक्षक जिला अस्पातल पहुंचकर जांच-पड़ताल की। वही सरायअकिल पुलिस घटनास्थल चक पिनह गांव पहुंच कर पूछताछ कर रही है।   

सराय अकिल में खाना खाने के कुछ देर बाद होने लगी उल्टियां

सराय अकिल थाना क्षेत्र के चक पिन्ह गांव में बीती रात 60 वर्षीया सूरजकली उर्फ पतरकी का परिवार लगभग 9 बजे खाना खाकर सोने की तैयारी कर रहा था। इसी दौरान रात करीब 11 बजे वृद्ध सूरजकली की अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। देखते ही देखते सूरजकली का 30 वर्षीय पुत्र कंधई, 25 वर्षीय बड़ी बहू सीमा पत्‍नी कंधई, छोटी बहू संगीता पत्‍नी किशुन लाल, 5 वर्षीय पोता अनुराग उर्फ डीएम और की भी तबीयत ख़राब हो गई। सभी को उल्टियां होने लगीं।  

मौके पर सूरजकली व अस्‍पताल ले जाते समय बहू व पोते की मौत

कई उल्टी होने के बाद सूरजकली ने घर पर ही दम तोड़ दिया। रात करीब दो बजे चीख-पुकार मचने पर पड़ोसियों को मामले की जानकारी हुई। उन्‍होंने सूरजकली के पट्टीदारों को सूचना दी। तत्‍काल निजी वाहन से सभी को जिला अस्पताल इलाज के लिए वे ले जाने लगे। रास्ते में ही सीमा और उसके बेटे अनुराग की भी सांसे थम गई। जिला अस्पातल के चिकित्‍सकों ने दोनों को मृत घोषित किया। सूरजकली के पुत्र कंधई और छोटी बहू संगीता को प्राथमिक उपचार के बाद डाक्‍टरों ने प्रयागराज के एसआरएन अस्‍पताल रेफर  कर दिया। वहां उनकी हालत ठीक बताई जा रही हैं। उधर घटना की जानकारी पुलिस को मिलते ही सरायअकिल थाने की पुलिस गांव में तफ़्तीश कर रही है।

खाना न खाने से दो मासूमों की बची जान

सराय अकिल के इस परिवार के तीन सदस्‍यों की मौत व दो के अस्‍पताल में भर्ती होने का कारण फूड प्‍वायजनिंग बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस इसकी जांच कर रही है। शिवकली के परिवार ने मंगलवार की रात खाने में जौ की रोटी और सोयाबीन की सब्‍जी खाई थी। संयोग ही था कि सूरजकली की बहू सीमा के 3 वर्षीय पुत्र मोहित और डेढ वर्षीय माेहिनी बिना खाना खाए ही सो गए थे। इसलिए उनकी तबीयत नहीं खराब हुई और वे सुरक्षित हैं।

प्रयागराज में होलागढ़ के गांव में फूड प्‍वायजनिंग

फूड प्‍वायजनिंग की दूसरी घटना प्रयागराज जनपद में होलागढ़ क्षेत्र के भगवतीपुर खुटहना गांव में हुई। यहां फूड प्वाइजनिंग से एक की मौत परिवार के पांच सदस्‍य गंभीर हालत में हास्पिटल में भर्ती हैं। 40 वर्षीय सज्जन कुमार पटेल पुत्र राम रतन पटेल की मौत हो गई। वहीं सज्‍जन की पत्नी गीता देवी, पुत्र रचित, विनीता पटेल, अंकिता पटेल की हालत गंभीर है। इन सभी को प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। होलागढ पुलिस व स्‍थानीय प्रशासन के अधिकारी जांच-पड़ताल कर रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.