फाफामऊ में दो गज की दूरी का ध्यान रख सुनी भागवत कथा

फाफामऊ में दो गज की दूरी का ध्यान रख सुनी भागवत कथा

शांतिपुरम कॉलोनी के रूद्र प्रयाग विद्या मंदिर कैंपस में आयोजित सात दिवसीय संगीतमयी श्रीमदभागवत कथा के पाचवे दिन शुक्रवार को दो गज की दूरी का ध्यान रखते हुए कथा सुनने के लिए श्रोताओं की भारी भीड़ जुटी।

Publish Date:Fri, 27 Nov 2020 08:51 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सूत्र, फाफामऊ : शांतिपुरम कॉलोनी के रूद्र प्रयाग विद्या मंदिर कैंपस में आयोजित सात दिवसीय संगीतमयी श्रीमदभागवत कथा के पाचवे दिन शुक्रवार को दो गज की दूरी का ध्यान रखते हुए कथा सुनने के लिए श्रोताओं की भारी भीड़ जुटी। कथा वाचक पंडित शिवम विष्णु पाठक ने जगदगुरु श्रीकृष्ण की 16 कलाओं की महिमा का बखान करते हुए कहा कि भागवत कथा सुनना साक्षात भगवान के दर्शन करने के समान ही है, जिसने भागवत कथा का श्रवण पान किया वह भौतिक सुखों को त्याग कर जीवन प्रभु की सेवा में बिताने लगता है और धर्मार्थ कार्य करने से अपनों के बीच सदैव स्मरणीय हो जाता है। भागवत कथा कल्याणकारी है इसको सुनने से मनुष्य बंधन मुक्त हो जाता है। जिस पर भगवान श्रीकृष्ण की कृपा हो गई उसे किसी और की कृपा की जरूरत नहीं हैं। मनोयोग से कथा सुनने से मनुष्य के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। कथा के दौरान कैंपस में आयोजक के द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए बैठने की व्यवस्था की गई है। बिना मास्क सड़क पर घूम रहे लोग

संवाद सूत्र, फाफामऊ : वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए केंद्र और प्रदेश सरकार तमाम कड़े कदम उठाए। फिर भी लोग बेवजह शासन के नियमों की अनदेखी कर खुलेआम बिना मास्क के सड़कों पर घूम रहे हैं। फाफामऊ और शांतिपुरम कॉलोनी के बाजारों में जुटने वाली खरीदारों की भीड़ भी बिना एक दूसरे से दो गज की दूरी बनाए सामानों की खरीदरी करने में जुटी रहती है। लोगों का कहना है कि बैंक हो या बाजार सभी जगह नियम-कानून की धज्जियां उड़ रही हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.