सराफा दुकान में डकैती और हत्या की वारदातों से प्रतापगढ़ में उबाल, पुलिस से झड़प, बाजार भी बंद

लूट और हत्या की दो बड़ी वारदातों ने व्यापारियों को सहमाने के साथ ही आक्रोशित भी कर दिया है।

श्याम बिहारी गली में सराफा की दुकान में 90 लाख रुपये की डकैती के विरोध में चौथे दिन रविवार को भी बाजार बंद है। वहीं शनिवार शाम पट्टी इलाके में सर्राफ की हत्या कर लूट की घटना के विरोध में पट्टी में अनिश्चितकालीन बंद करते हुए व्यापारियों ने जुलूस निकाला।

Publish Date:Sun, 10 Jan 2021 05:30 PM (IST) Author: Ankur Tripathi

प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़  जनपद में तीन रोज के भीतर लूट और हत्या की दो बड़ी वारदातों ने व्यापारियों को सहमाने के साथ ही आक्रोशित भी कर दिया है। श्याम बिहारी गली में सराफा की दुकान में 90 लाख रुपये की डकैती के विरोध में चौथे दिन रविवार को भी बाजार बंद है। वहीं शनिवार शाम पट्टी इलाके में सर्राफ की हत्या कर लूट की घटना के विरोध में पट्टी में अनिश्चितकालीन बंद करते हुए व्यापारियों ने जुलूस  निकाला। इस दौरान पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। नाराज कारोबारियों ने सोमवार को शहर में बंदी का ऐलान कर दिया है। शनिवार को देर रात पहुंचे एडीजी प्रयागराज प्रेम प्रकाश ने घटनास्थल पर पहुंचकर पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। घटना से आक्रोशित व्यापारियों को समझाने में डीएम और एसपी लगे हुए हैैं। रविवार को सुबह से शहर के चौक इलाके में एएसपी और सीओ बैरियर लगाकर वाहनों की चेकिंग कर रहे हैं। उधर, पुलिस की सात टीमें लगातार बदमाशों की तलाश में दबिश दे रही है, लेकिन घटना के 72 घंटे बाद भी नतीजा सिफर है।

लगातार तीसरे रोज संगीन वारदात से उबाल

पट्टी इलाके में शनिवार शाम दुकान बंद करने के बाद बाइक पर घर लौट रहे अहमद और उसके भाई को गोली मारकर बदमाशों ने गहनों भरा थैला लूट लिया था। इस घटना में अहमद की मौत हो गई थी। श्याम बिहारी गली की दुकान में डकैती के तीसरे ही रोज हत्या और लूट की एक और वारदात से कारोबारी सन्न रह गए। रविवार को 

पट्टी के सर्राफ अहमद के शव के पोस्टमार्टम के दौरान पूरे केशवराय गांव में भीड़ लगी रही। सीओ सिटी अभय कुमार पांडेय के साथ पट्टी सदर और अंतू थाने की पुलिस भी मौजूद रही। इसी बीच दोपहर में पट्टी चौक पर पहुंचे कैबिनेट मंत्री मोती सिंह ने भी घटना के संबंध में ली जानकारी और कारोबारियों से बात की। 

शव उतारने को लेकर व्यापारियों और पुलिस में हुई नोंकझोक

 पोस्टमार्टम के बाद अहमद का शव लेकर उनके स्वजनों के साथ पुलिस रविवार को दोपहर करीब दो बजे पट्टी कस्बे के चौक में पहुंची। वहां सैकड़ों की संख्या में मौजूद व्यापारियों तथा ग्रामीणों के साथ स्वजनों ने वाहन से शव उतारने का प्रयास किया। इस पर एएसपी पूर्वी सुरेंद्र द्विवेदी से लोगों की नोंकझोक हुई। करीब 20 मिनट तक नोंकझोंक चलती रही, लेकिन पुलिस ने शव वाहन का गेट नहीं खुलने दिया। इसके बाद कुछ लोगों के समझाने पर स्वजन शव लेकर घर चले गए। 

 

व्यापारियों ने सोमवार को शहर बंद का किया ऐलान 

सराफा दुकान में डकैती से आक्रोशित व्यापारियों ने रविवार को दोपहर श्याम बिहारी गली में बैठक की और घटना का 72 घंटे बाद भी पर्दाफाश नहीं होने पर सोमवार को शहर बंद करने का ऐलान किया। इसके बाद व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष राजेंद्र केसरवानी की अगुवाई में व्यापारियों ने श्याम बिहारी गली से शहर में जुलूस निकाला। चौक, बाबागंज, चुंगी, बलीपुर, आंबेडकर चौराहा, राजापाल टंकी चौराहा होते हुए शहर में जुलूस निकाल व्यापारियों से बंद में सहयोग करने की अपील की।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.