अलीगढ़ में भूख हड़ताल करेंगी सपा महिला सभा की कार्यकर्ता, ये है वजह

रामघाट रोड पर पीएसी के निकट बदहाल पड़ी सड़क को दुरुस्त कराने की मांग सपा महिला सभा ने की है। जिलाध्यक्ष डा. गुलिस्ता के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने इस संबंध में जिलाधिकारी के नाम एक ज्ञापन कलक्ट्रेट में एसीएम द्वितीय बी अंजुम को सौंपा।

Sandeep Kumar SaxenaSat, 24 Jul 2021 08:56 AM (IST)
आठ दिन में सड़क न सुधरी तो भूख हड़ताल की जाएगी।

अलीगढ़, जेएनएन। रामघाट रोड पर पीएसी के निकट बदहाल पड़ी सड़क को दुरुस्त कराने की मांग सपा महिला सभा ने की है। जिलाध्यक्ष डा. गुलिस्ता के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने इस संबंध में जिलाधिकारी के नाम एक ज्ञापन कलक्ट्रेट में एसीएम द्वितीय बी अंजुम को सौंपा। जिलाध्यक्ष ने कहा कि अलीगढ़ में भाजपा के सात विधायक, सांसद, एमएलसी होने के बाद भी प्रमुख मार्ग खस्ता हाल में है। आए दिन यहां हादसे हो रहे हैं। वाहन फंस जाते हैं। कोई सुनवाई नहीं हो रही। आठ दिन में सड़क न सुधरी तो भूख हड़ताल की जाएगी। ज्ञापन देने वालों में संतोष सूर्यवंशी, समीना बेगम, मेहराज जहां, कामिनी कपूर, संगीता सिंह आदि थीं।

पीएसी के पास मार्ग खस्‍ता हाल

उधर, रामघाट रोड पर पीएसी के पास दिन मुश्किलें कम होने की अपेक्षा बढ़ती जा रही हैं। सरकारी तंत्र के सुस्त कार्य के चलते राहगीरों को अभी भी गड्ढों से निजात नहीं मिली है। शुक्रवार को भी जलभराव और गड्ढों के चलते भीषण जाम लग गया। वाहनों की लंबी कतारें लगी रहीं, जिससे लोगों को घंटों मुश्किलों का सामना करना पड़ा। पीडब्ल्यूडी दो दिनों में सिर्फ पत्थर डलवा पाया है। निर्माण कार्य अभी नहीं शुरू हुआ है। रामघाट रोड पर पीएसी के पास समस्या और बढ़ती जा रही है। जलभराव के चलते अब गड्ढे बढ़ते जा रहे हैं, जिसके चलते कार और दोपहिया वाहनों के पहिए पूरी तरह से डूब जा रहे हैं। आटो और ई-रिक्शा पलट रहे हैं। कई बाइक और स्कूटी सवार घायल हो गए। इसे लेकर सरकारी तंत्र एकदम गंभीर नहीं है। जनप्रतिनिधियों को भी जनता की कोई चिंता नहीं है। जलभराव से हाहाकार मचने के बाद पीडब्ल्यूडी ने पत्थर डलवा दिए हैं। दो दिन से पत्थर सड़क पर पड़े हैं, उसे डाला भी नहीं गया है। शुक्रवार को घंटों लोग जाम में फंसे रहे।

खेतोें में घुसा पानी

बारिश में हुए जलभराव से खेत भी न बच सके। मडराक इलाके में अलीगढ़ ड्रेन कटने से कई खेत डूब गए थे। शुक्रवार को सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष अज्जू इश्हाक ने कार्यकर्ताओं के साथ इन इलाकों का दौरा किया। गांव ईशनपुर, नगला ढक, मुकंदपुर, मडराक का दौरा कर किसानों से नुकसान की जानकारी जी। उन्होंने बताया कि खेत में पानी भरने से धान की फसल बर्बाद हो गई है। कुछ किसानों के मकान भी ढह गए। शनिवार को डीएम से मुलाकात कर आपदा राहत कोष से किसानों को मुआवजा देने की मांग की जाएगी। इस अवसर पर पूर्व प्रधान सत्येंद्र कुशवाहा, नौशाद, किशन लाल, मुंशी लाला, दिवाकर, विशाल शर्मा, बादशाह खान, इकराम खान, सद्दाम, जितेंद्र कुशवाह, नुरल हसन, असगर मलिक, जावेद मलिक, तारीक पठान, जाहिद कदीर, बाबू सिंह, देवी शर्मा, महेश पाल सिंह आदि लोग मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.