Pleasant : हर जुबां पर एक ही शब्‍द, वैक्‍सीनेशन से पहले बनी रहे यही स्‍थिति, जानिए क्‍या है मामला Aligarh news

आठ माह बाद जनपद में कोविड-19 वायरस का कोई नया केस सामने नहीं आया।

अलीगढ़ के बाशिंदों को यह खबर काफी सुकून पहुंचाने वाली है। बीता मंगलवार हर किसी के लिए मंगलकारी रहा। आठ माह बाद जनपद में कोविड-19 वायरस का कोई नया केस सामने नहीं आया। यही नहीं 14 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर घर भी पहुंच गए।

Publish Date:Wed, 13 Jan 2021 01:12 PM (IST) Author: Anil Kushwaha

अलीगढ़, जेएनएनः अलीगढ़ के बाशिंदों को यह खबर काफी सुकून पहुंचाने वाली है। बीता मंगलवार हर किसी के लिए मंगलकारी रहा।  आठ माह बाद जनपद में कोविड-19 वायरस का कोई नया केस सामने नहीं आया। यही नहीं, 14 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर घर भी पहुंच गए। इससे जनपद में सक्रिय मरीजों की संख्या मात्र 53 रह गई, जो दो या तीन में डिस्चार्ज कर दिए जाएंगे। इससे नया केस न मिलने व सक्रिय मरीजों की संख्या निरंतर घटने से अधिकारियों और हेल्थ वर्कर्स ने राहत की सांस ली। अब सभी लोग वैक्सीनेशन से पूर्व जनपद के कोरोना मुक्त होने की दुआ करने लगे हैं। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने कहा है कि मास्क का प्रयोग, बार-बार हाथों की सफाई और शारीरिक दूरी के नियम का पालन करके कोरोना को हराया जा सकता है। सीएमओ ने भी कोई नया केस न मिलने पर जनपदवासियों को बधाई दी। 

पहला केस अप्रैल में आया था

जनपद में कोरोना वायरस का पहला केस नौ अप्रैल 2020 को सामने आया था। तब शाहजमाल मस्जिद में ठहरा एक जमाती इमरान संक्रमित मिला था। कुछ दिनों तक राहत रही। फिर, 21 अप्रैल को दूसरा केस सामने आया। इसके बाद तो संक्रमण दर तेजी से बढ़ी। तब से लेकर सरकारी अमला ही नहीं आम आदमी भी वायरस से लड़ता नजर आया। फरवरी माह में मरीजों की संख्या निरंतर कम होती रही है। जनवरी में ज्यादातर दहाई के अंक तक नहीं पहुंच पाई। अब तक 11 हजार 263 मरीज संक्रमित पाए जा चुके हैं, इनमें से 11 हजार 164 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। मंगलवार की शाम करीब 2500 आरटी-पीसीआर, निजी लैब व एंटीजन किट की जांच सामने आई तो स्वास्थ्य विभाग में खुशी का माहौल छा गया। सीएमओ कार्यालय पर स्वास्थ्य कर्मियों ने एक-दूसरे को बधाई दी। हर कोई यही दुआ करता नजर आया कि वैक्सीनेशन की तिथि 16 जनवरी से पहले यही स्थिति बनी रही और वर्तमान में इलाज करा रहे सक्रिय मरीज भी ठीक होकर घर पहुंच जाए। बहरहाल, स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन ने लोगों को पहले की तरह ही सतर्कता बरतने की सलाह दी है। 

जिले  का हाल 

- 11, 263 संक्रमित मिल चुके हैं अब तक 

- 11, 164 मरीज ठीक हो चुके हैं 

- 53 सक्रिय केस हैं जनपद में 

- 56  लोगों की अब तक कोरोना से हो चुकी है मौत 

यह न करें 

- बिना मास्क के सार्वजनिक स्थलों व भीड़भाड़ वाली जगह पर न जाएं

- मास्क को मुंह पर बांधकर नाक को खुला नहीं छोड़ें। 

- दुकानों या अन्य सार्वजनिक स्थान पर किसी भी चीज को छूने से बचें। 

- बाहर निकलने के बाद मास्क या चेहरे को बार-बार न छूएं।

- खुद से कोई भी दवा का सेवन न करें 

- बीमारी के कोई भी लक्षण दिखने पर अनदेखी न करें। 

ये बरतें सावधानी 

-बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें।

- चेहरे पर मास्क, रूमाल, स्कार्फ आदि जरूर बांधें।  

-संभव हो तो बाहर भी हाथों को  सैनिटाइज करते रहें। 

-लोगों से कम से कम दो गज की दूरी बनाए रखें। 

- बाहर से घर लौटें तो कोहनी से ही दरवाजा खोलने के प्रयास करें।

- बाहर से लौटकर सबसे पहले साबुन से हाथ धाएं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.