गेहूं खरीद: प्रदेश के टाप फाइव मंडलों में अलीगढ़, अब तक 2.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद Aligarh News

कोरोना महामारी और मौसम की दुश्वारियों के बाद भी गेहूं खरीद प्रभावित नहीं हुई। प्रदेश के 18 मंडलों में 47 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद हो चुकी है। खरीद में टाप फाइव मंडलों में अलीगढ़ का नाम पांचवे स्थान पर है।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 11 Jun 2021 09:57 AM (IST)
गेहूं खरीद में टाप फाइव मंडलों में अलीगढ़ का नाम पांचवे स्थान पर है।

अलीगढ़, जेएनएन। कोरोना महामारी और मौसम की दुश्वारियों के बाद भी गेहूं खरीद प्रभावित नहीं हुई। प्रदेश के 18 मंडलों में 47 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद हो चुकी है। खरीद में टाप फाइव मंडलों में अलीगढ़ का नाम पांचवे स्थान पर है। अलीगढ़ में अब तक 2.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है। जबकि, बरेली मंडल 7.20 लाख मीट्रिक गेहूं खरीद कर पहले स्थान पर है। अलीगढ़ जनपद की बात करें तो मंडल के चारों जिलों में यहां सर्वाधिक 1.38 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी है। किसानों का भुगतान भी हो रहा है। जनपद में 32 हजार से अधिक किसानों को 220 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया गया। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि 70 दिनों में जितनी खरीद हुई है, पहले कभी नहीं हुई। रबी सीजन में किसानों का जोर गेहूं पर ही था। उत्पादन भी बेहतर हुआ। पिछले सीजन में किसानों ने 1925 रुपये प्रति कुंतल के हिसाब से 1,08,564 मीट्रिक टन गेहूं बेचा था। इस बार समर्थन मूल्य 50 रुपये बढ़कर 1975 रुपये प्रति कुंतल मिल रहा है। गेहूं का रकबा भी पिछले साल के मुकाबले 1306 हेक्टेयर अधिक है।

एफसीआइ के गोदाम फुल

गेहूं की खरीद इतनी हुई कि एफसीआइ के गोदाम फुल हो गए। गेहूं रखने के लिए तीन नए गोदाम लिए हैं। इनमें सूतमिल स्थित हरिबाबा वेयर हाउस, कासिमपुर व अतरौली स्थित एसडब्ल्यूसी के गोदाम में गेहूं का भंडारण किया जा रहा है।

जनपद में बीते साल हुई खरीद

94 क्रय केंद्र मंडियों में हुए थे स्थापित

1925 रुपये प्रति कुंतल था समर्थन मूल्य

108564 मीट्रिक टन हुई थी गेहूं की खरीद

26618 किसानों ने क्रय केंद्रों पर बेचा था गेहूं

208 करोड़ रुपये हुआ किसानों को भुगतान

जनपद में इस साल स्थिति

01 अप्रैल से शुरू हुई गेहूं की खरीद

107 सरकारी क्रय केंद्र मंडियों में स्थापित

1975 रुपये प्रति कुंतल मिल रहा समर्थन मूल्य

1.38 लाख मीट्रिक टन अब तक हुई खरीद

33818 किसानों ने क्रय केंद्रों पर बेचा गेहूं

220 करोड़ रुपये किसानों को हुआ भुगतान

15 जून तक होनी है गेहूं की खरीद

कृषि पर नजर

3.04 लाख हेक्टेयर है कृषि योग्य भूूमि

2.88 लाख हेक्टेयर है सिङ्क्षचत भूमि

33324 हेक्टेयर में नहरों से होती है ङ्क्षसचाई

5053 हेक्टेयर में राजकीय नलकूप से ङ्क्षसचाई

238821 हेक्टेयर है खरीफ का रकबा

285096 हेक्टेयर है रबी का रकबा

22851 हेक्टेयर है जायद का रकबा

पिछले छह साल में गेहूं की स्थिति

वर्ष, रकबा (हेक्टेयर), उत्पादन (मीट्रिक टन), उत्पादकता (कुंतल प्रति हेक्टेयर)

2015-16, 216572, 709923, 32.78

2016-17, 218163, 868289, 39.08

2017-18, 223557, 961295, 43

2018-19, 227340, 978398, 43.06

2019-20, 223574, 921572, 41.22

2020-21, 224880, 996266, 44.30

पिछले साल की तुलना में अलीगढ़ जनपद में गेहूं की अधिक खरीद हुई है। प्रदेश के 18 मंडलों में अलीगढ़ पांचवे स्थान पर है। किसानों को भुगतान भी समय पर किया जा रहा है। कोई शिकायत नहीं मिली है। बोरों की समस्या भी अब नहीं है। तीन नए गोदाम लिए हैं, जिनमें भंडारण कराया जा रहा है।

किशन पाल सिंह, डिप्टी आरएमओ

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.