गंगा यमुना में जलस्‍तर बढ़ा, आसपास के ग्रामीण चिंतित, अफसरों की पैनी नजर Aligarh News

रुक-रुक कर हो रही बारिश और उत्तराखंड में नदियों के उफनाने से गंगा और यमुना नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि अभी खतरे के निशान से पानी दूर है लेकिन फिर भी प्रशासन पहले से अलर्ट हो गया है।

Sandeep Kumar SaxenaTue, 03 Aug 2021 11:13 AM (IST)
गंगा युमना का जलस्‍तर बढ़ने से ग्रामीण चिंतित हैं।

अलीगढ़, जेएनएन। रुक-रुक कर हो रही बारिश और उत्तराखंड में नदियों के उफनाने से गंगा और यमुना नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि, अभी खतरे के निशान से पानी दूर है, लेकिन फिर भी प्रशासन पहले से अलर्ट हो गया है। डीएम सेल्वा कुमारी जे की ओर से एसडीएम खैर और अतरौली को गंगा-यमुना के पानी पर गहन नजर रखने के निर्देश दिए है। इसी के चलते तहसील की टीमें पल-पल की नजर रख रही हैं। सोमवार को भी एसडीएम खैर ने यमुना किनारे बसे गांव का दौरा किया। लोगों से सचेत रहने की अपील की। दोनों तहसीलों में अब बाढ़ सुरक्षा समितियों को भी सक्रिय कर दिया गया है।

यह हैं हालात

जिले की सीमा से गंगा व यमुना दोनाें नदिया निकलती हैं। ऐसे में बारिश की वजह से बाढ़ से बचाव एवं राहत कार्यों के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। दोनों तहसीलों के संबंधित अफसरों को आमजन एवं पशुओं की सुरक्षा के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं।तटबंधों की निगरानी एवं उनकी मरम्मत का प्रबंध सुनिश्चित करने के साथ-साथ एसडीएम अतरौली एवं एसडीएम खैर के साथ सिंचाई विभाग के संबंधित सहायक अभियंताओं द्वारा तटबंधों पर कटाव निरोधक कार्यों का संयुक्त निरीक्षण करें। इस काम में कोई भी लापरवाही नहीं हाेनी चाहिए। सोमवार से खैर एसडीएम ने इसके तहत निरीक्षण की शुरुआत भी कर दी है। वहीं, एसडीएम अतरौली पंकज कुमार भी अलग एक-दो दिन में इस पर काम शुरू कर दिया हैं। दोनों तहसीलों में पहले ही बाढ़ चौकियों का गठन हो चुका है।

बढ़ रहा खतरा

यमुना नदी में 200 मीटर व गंगा में 178 मीटर जलस्तर पहुंचने पर खतरा बढ़ जाता है। पहाड़ों पर बारिश होने से गंगा-यमुना में पानी का स्तर बढऩे लगा है। इसी को देखते जिला प्रशासन अलर्ट हुआ है।

गंगा किनारे 16 गांव

अलीगढ़ में तहसील अतरौली के गांव दीनापुरए, गनेशपुर, सांकरा, अलिया नगला, किरतौली से सटकर गंगा निकलती है। गंगा में बाढ़ आने से 16 गांव प्रभावित होते हैं। कई गांव तो मुश्किल से 250 मीटर की दूरी पर ही बसे हैं। वहीं, यमुना किनारे खैर तहसील के गांव महाराजगढ़ व शेरपुर बसे हैैं। इन दोनों गांवों में बाढ़ का सबसे अधिक खतरा रहता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.