Unannounced Dlawghar in Aligarh: अलीगढ़ में खत्म होंगे अघोषित डलावघर, समय से उठेगा कूड़ा

Unannounced Dlawghar in Aligarh कोल विधायक अनिल पाराशर और राज्य अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य अनीता जैन ने कड़ी आपत्ति जताई। कोल विधायक ने सभी अघोषित डलावघरों को खत्म करने और समय से कूड़ा उठाने के दिशा-निर्देश नगर निगम को दिए हैं।

Sandeep Kumar SaxenaSat, 18 Sep 2021 10:59 AM (IST)
कोल विधायक अनिल पाराशर और राज्य अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य अनीता जैन ने कड़ी आपत्ति जताई।

अलीगढ़, जेएनएन। सड़कों पर जगह-जगह बना रखे अघोषित डलावघर खत्म किए जाएंगे। कूड़ा डालने पर जुर्माना लगेगा। जागरण आपके द्वार कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को प्रकाशित 'मुश्किलें बढ़ा रहा सड़क पर बना डलावघर' खबर का संज्ञान लेकर नगला तिकोना पहुंचे कोल विधायक अनिल पाराशर और राज्य अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य अनीता जैन ने कड़ी आपत्ति जताई। कोल विधायक ने सभी अघोषित डलावघरों को खत्म करने और समय से कूड़ा उठाने के दिशा-निर्देश नगर निगम को दिए हैं। साथ ही आमजन से सड़क पर कूड़ा न डालने की अपील भी की। एटूजेड की टीम ने पूरे इलाके की साफ-सफाई की।

यह है मामला

वार्ड- 51 में नगला तिकोना के मुख्य मार्ग पर डलावघर बना हुआ है, जो नगर निगम के रिकार्ड में नहीं है। सफाईकर्मी और क्षेत्रीय लोग प्रतिदिन यहीं कूड़ा डालते हैं, जिससे कूड़े का ढेर लग जाता है। राहगीर और आसपास के दुकानदारों को काफी परेशानी होती है। क्षेत्रीय पार्षद डा. मुकेश शर्मा ने इस संबंध में शिकायत भी की, लेकिन निगम अधिकारी कोई कार्रवाई न कर सके। जागरण में प्रकाशित खबर के बाद मोनू दीवान के नेतृत्व में एटूजेड कंपनी की टीम सुबह 8:30 बजे मौके पर पहुंच गई और पूरे क्षेत्र में सफाई अभियान छेड़ दिया। कूड़ा उठाकर चूने का छिड़काव किया गया, सड़क-नालियां साफ की गईं। वहीं, कोल विधायक और आयोग की सदस्य ने क्षेत्रीय लोगों की समस्याएं सुनकर निस्तारण का आश्वासन दिया।

स्वच्छ भारत का नारा करें सार्थक

कोल विधायक अनिल पाराशर ने सभी को प्रधानमंत्री के जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने स्वच्छ भारत का नारा दिया है। इस नारे को सार्थक करने का सभी को प्रयास करना होगा।

खुले में कूड़ा डालना जन स्वास्थ्य के लिए भी ठीक नहीं है। नगर निगम को इसकी समुचित व्यवस्था करनी होगी।

अनिल पाराशर, कोल विधायक

स्वच्छता के प्रति लोगों को भी जागरूक होना चाहिए। खुले में कूड़ा न डालें, इससे आमजन ही प्रभावित होता है। निगम भी अपनी जिम्मेदारी समझे।

अनीता जैन सदस्य, राज्य अल्पसंख्यक आयोग

सड़क पर कूड़ा पड़ने से परेशानी होती है। जागरण ने ये मुद्दा उठाकर इस समस्या के समाधान का पूरा प्रयास किया है।

अखिलेश राघव, नगला तिकाेना

नगर निगम को इस ओर देखना चाहिए। बड़ा कूड़ेदान ही रखवा दिया जाए तो भी ठीक है।

दिनेश यादव, नगला तिकोना

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.