कारिडोर के बीच से निकलेगा दो किमी लंबा फोरलेन, यूपीडा ने शुरू किया काम Aligarh news

डिफेंस कारिडोर के काम ने अब रफ्तार पकड़ ली है। कारिडोर के बीचोंबीच से एक दो किमी लंबा फोरलेन निकलेगा। यूपीडा ने इस पर काम शुरू कर दिया है। करीब 10 करोड़ की धनराशि इस पर खर्च होगी। टेंडर जारी हो चुका है।

Anil KushwahaSat, 12 Jun 2021 05:20 PM (IST)
डिफेंस कारिडोर के काम ने अब रफ्तार पकड़ ली है।

अलीगढ़, जेएनएन ।  डिफेंस कारिडोर के काम ने अब रफ्तार पकड़ ली है। कारिडोर के बीचोंबीच से एक दो किमी लंबा फोरलेन निकलेगा। यूपीडा ने इस पर काम शुरू कर दिया है। करीब 10 करोड़ की धनराशि इस पर खर्च होगी। टेंडर जारी हो चुका है। इस फोरलेन के दोनों ओर ही रक्षा हथियार बनाने वाली कंपनियां विकसित की जाएंगी। वहीं, जमीन का समतलीकरण पहले ही पूरा हो चुका है। फोर लेन के दोनो तरफ फैक्ट्रियां विकसित की जाएंगी। चारों और बाउंड्रीवाल का निर्माण होगा। इसके लिए भी टेंडर निकाला जाएगा। बिजली के पोल लगाने का भी काम चल रहा है। 

नाप को लेकर किसान हुए नाराज, एसडीएम ने समझाया

डिफेंस कारिडोर के लिए यूपीडा जमीन पर कब्जा ले रहा है। ऐसे में सरकारी के साथ ही किसानों की जमीन पर भी कब्जा लिया जा रहा है। अंडला के कुछ किसान जमीन की नाप को लेकर अंसंतुष्ट हैं। ऐसे में वह दो-तीन दिनों से इसका विरोध कर रहे थे। किसानों की शिकायतों पर गुरुवार को एसडीएम अंजनी कुमार सिंह मौके पर पहुंचे। यहां पर किसानों से बातचीत की। फिर किसानों की मांग पर चार-पांच लेखपालों की टीम को जांच लगाया। इस टीम ने ही पूरी जमीन का चिन्हांकन किया। इसके बाद किसान संतुष्ट हुए।

यूपीडा ने आठ हेक्टेयर जमीन एलिन एंड एलवन कंपनी को की आवंटित

केंद्र सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट डिफेंस कारिडोर जमीन पर उतरने लगा है। शुक्रवार को डिफेंस कारिडोर के नाम से यूपी की पहली रजिस्ट्री खैर तहसील में हुई। यूपीडा ने आठ हेक्टेयर जमीन का पहला बैनामा अलीगढ़ की ही एलिन एंड एलवन कंपनी के नाम किया है। कंपनी यहां पर ड्रोन समेत अन्य रक्षा क्षेत्र के अन्य कलपुर्जों का निर्माण करेगी। केंद्र सरकार ने सूबे भर के छह जिलों में डिफेंस कारिडोर विकसित करने की घोषणा की है। इनमें अलीगढ़, आगरा, झांसी, ललितपुर, कानपुर व लखनऊ शामिल हैं। जिले में खैर राेड स्थित अंडला व करसुआ में इसके लिए जमीन चिन्हित की गई है। जिसे विकसित करने की जिम्मेदारी यूपीडा को दी गई है। प्रशासन अभी तक 95 हेक्टेयर से अधिक भूमि का अधिग्रहण कर चुका है। इसमें 73 हेक्टेयर भूमि पर यूपीडा को कब्जा दे दिया गया है। कब्जे मिलते ही यूपीडा ने तेजी से काम करना शुरू कर दिया है। जमीन का समतलीकरण पूरा हो गया है। अब रक्षा हथियारों की कंपनियों को प्लाट आवंटन शुरू कर दिया गया है। शुक्रवार को यूपीडा के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्रीश चंद्र वर्मा, ओएसडी ओपी पाठक खैर तहसील के निबंधन कार्यालय पहुंचे। उनकी मौजूदगी में अलीगढ़ के प्रमुख उद्योग पति धनजीत वाड्रा की कंपनी एलिन एंड एलवन के नाम आठ हेक्टेयर का जमीन का बैनामा हुआ। इससे अलीगढ़ के निवेशकों में उत्साह है। जल्द ही आधा दर्जन से अधिक कंपनियों को भी रजिस्ट्री कराने की बात कही जा रही है। 

इनका कहना है

डिफेंस कारिडोर के लिए शुक्रवार को यूपी की पहली डीड अलीगढ़ में हुई। अब हर हफ्ते दो रजिस्ट्री कराने का लक्ष्य तय किया है। डिफेंस कारिडोर का काम अलीगढ़ में काफी तेजी से चल रहा है। -ओपी पाठक, ओएसडी, यूपीडा निवेशकों के लिए यह गौरव की बात है कि यूपी भर में डिफेंस कारिडोर की पहली रजिस्ट्री अलीगढ़ में हुई है। इसके लिए सांसद व डीएम बधाई के पात्र हैं। दोनों के प्रयासों से ही यहां पर सबसे पहले जमीन का आवंटन हुआ था।

धनजीत वाड्रा, मैनेजिंग डायरेक्ट, एलिन एंड एलवन कंपनी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.