बच्चों में ऐसे जागृत होगी पढ़नेे की इच्‍छा, अपनाएं ये तरीका : संत स्वामी हरिकांत Aligarh News

शहर के एटा चुंगी स्थित वैष्णो धाम कालोनी धर्म की नगरी बन गई है।

शहर के एटा चुंगी स्थित वैष्णो धाम कालोनी धर्म की नगरी बन गई है। यहां मंदिर और उसमें गूंजते भजन-कीर्तन से पूरी कालोनी पवित्र हो गई है। संत स्वामी हरिकांत हरिहरानंद महाराज के पधारने से तो मानों अमृत की बारिश होती है।

Sandeep kumar SaxenaSun, 21 Feb 2021 01:32 PM (IST)

अलीगढ़,जेएनएन। शहर के एटा चुंगी स्थित वैष्णो धाम कालोनी धर्म की नगरी बन गई है। यहां मंदिर और उसमें गूंजते भजन-कीर्तन से पूरी कालोनी पवित्र हो गई है। संत स्वामी हरिकांत हरिहरानंद महाराज के पधारने से तो मानों अमृत की बारिश होती है। भक्ति और भाव का मेल यहां देखते ही बनता है। स्वामी हरिकांत हरिहरानंद महाराज ने कहा कि कलयुग में जीव घर गृहस्थी के जंजाल में उलझा रहता है। प्रतिस्पर्धा के कारण परिवार और बच्चों को लालन-पालन उसके लिए बड़ी जिममेदारी होती है। ऐसे में प्रभु के लिए समय निकालना कठिन हो जाता है। आगे बढ़ने कि होड़ में मनुष्य जीवन भर जतन करने में अपना समय व्यतीत कर देता है। ऐसे में उसका प्रभु की ओर ध्यान ही नहीं जाता और हम सच्चाई से दूर होते जाते हैं। 

भजन कीर्तन से न हों दूर

जीवन की सच्चाई प्रभु की भक्ति में है। उनकी भक्ति आपको सुख और शांति की राह पर ले जाती है। इसलिए जीवन में सुख-संपदा आने के बाद भगवान को नहीं भूलना चाहिए। क्योंकि ऐसे समय में लोग दौलत और शोरहत की चादर तानकर सो जाते हैं। वो भगवत भजन से दूर होते जाते हैं। बस उन्हें चारों ओर पैसा ही पैसा नजर आता है। कैसे अधिक से अधिक एकत्र कर लें, उसी में ध्यान लगा रहता है। स्वामी हरिकांत हरिहरानंद महाराज ने कहा कि जीवन में भक्ति मार्ग को मत छोड़िए। यही रास्ता है, जो आपको सुख-शांति की ओर ले जाता है। इसलिए पूजा-पाठ करिए। कहीं पर भी भागवत, रामकथा हो वहां कुछ देर के लिए जरूर बैठें। वेद-पुराण और भागवत घर में जरूर रखें। जिससे कभी न कभी बच्चों को भी पढ़ने की इच्छा जरूर जागृत होगी। अगर मनुष्य सम्पत्ति के आने पर प्रभु का ध्यान करे तो विपत्ति कभी नहीं आएगी।

सिर्फ लुटने में लगे हैं

हरिकांत महाराज ने बहुत ही सरल और सहज भाव में कहा आज हर व्यक्ति लूटने में लगा है। व्यापारी ग्राहक को ठगने की कोशिश करता है। ग्राहक भी किसी न किसी रुप में अन्य व्यक्ति को लूटने की कोशिश करता है, मगर किसी को यह चिंता नहीं है कि हम एक-दूसरे की कड़ी हैं। दुनिया गोल-गोल है। आज यदि हम तुम्हें लूट रहे हैं तो कल मुझे भी कोई लूटेगा। दुनिया में तमाम सीसीटीवी कैमरे लगे होने के बाद भी लूट, डकैती, चोरी और अन्य अपराध नहीं रुक रहे हैं। मगर, इंसान को पता नहीं है कि ऊपर वाला सब देखता है। उसके कैमरे से कोई बच नहीं सकता। वह एक पल में सब स्कैन कर लेता है। इसलिए पुण्य कमाएं, लूट-खसोट और संपत्ति एकत्र करना बंद कर दें। कम से कम में जीवन व्यतीत करने की आदत डालें। देखा नहीं केदारनाथ में आए सैलाब ने मकान और कार को खिलौने की तरह बहा दिया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.