एक माह बाद भी नहीं पकड़े जा सके कारोबारी से लूट करने वाले बदमाश Aligarh news

क्वार्सी क्षेत्र के मानसरोवर कालोनी से एक माह पहले दिनदहाड़े जिओ मोबाइल कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर से हुई 1.68 लाख की लूट की वारदात में शामिल बदमाशों काे पुलिस अब तक नहीं खोज सकी है। मानसरोवर कालोनी निवासी नीरज सैनी जिओ कंपनी के जिला डिस्ट्रीब्यूटर हैं।

Anil KushwahaMon, 27 Sep 2021 10:06 AM (IST)
एक माह पूर्व मोबाइल डिस्‍ट्रीब्‍यूटर से लूट के मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। क्वार्सी क्षेत्र के मानसरोवर कालोनी से एक माह पहले दिनदहाड़े जिओ मोबाइल कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर से हुई 1.68 लाख की लूट की वारदात में शामिल बदमाशों काे पुलिस अब तक नहीं खोज सकी है। मानसरोवर कालोनी निवासी नीरज सैनी जिओ कंपनी के जिला डिस्ट्रीब्यूटर हैं। 22 अगस्त को कलेक्शन का रुपया बैग में रखकर बैंक में जमा कराने स्कूटी से जा रहे थे। जैसे ही वे पार्क के पास पहुंचे तभी पहले से ही खड़े अपाचे बाइक सवार बदमाशों ने रोक लिया। बदमाश हेलमेट पहने हुए थे। आरोप है कि बदमाशों ने पिस्टल दिखाते हुए स्कूटी पर रखे बैग को झपट लिया और 100 फुटा रोड की ओर भाग गए। कारोबारी के अनुसार बैग में 1.68 लाख रुपये रखे हुए थे।

बदमाश कारोबारी की दिनचर्या से थे वाकिफ, भेदिया की तलाश

घर से चंद कदम दूर चलते ही बदमाशों के लूट की वारदात को अंजाम देने से साफ है कि बदमाश कारोबारी की दिनचर्या से खूब वाकिफ थे। उन्हें यह भी पता था कि कारोबारी बैंक में रुपये जमा कराने अकेले ही जाएंगे। पुलिस इस घटना में कारोबारी के किसी कर्मचारी या करीबी का हाथ होने की संभावना जताते हुए जांच में जुटी है।

फुटेज में कैद हुई बदमाशों की बाइक

पुलिस ने वारदात के बाद के बाद मानसरोवर, ज्ञान सरोवर, 100 फुटा रोड समेत कई स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला। इनमें हेलमेट लगाए हुए दो बदमाश जाते हुए दिखाई पड़े हैं। बाइक का नंबर भी धुंधला दिखाई पड़ा है।

इनका कहना है

मोबाइल फोन कारोबारी से लूटपाट करने वाले बदमाशों की बाइक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में कैद हुई है। बदमाशों की पहचान कराई जा रही है, जल्द बदमाशों काे पकड़ा जाएगा।

- कुलदीप सिंह गुनावत, एसपी सिटी

फंदे से लटककर युवक ने दी जान

अलीगढ़। थाना बन्नादेवी क्षेत्र के मोहल्ला नई बस्ती में शनिवार को युवक ने फंदे पर लटक कर खुदकुशी कर ली। घटना के पीछे की वजह के बारे में स्वजन कुछ भी नहीं बता पा रहे हैं। बन्नादेवी इंस्पेक्टर विनोद कुमार ने बताया कि नई बस्ती निवासी रमेश चंद्र का 26 वर्षीय बेटा सौरभ मजदूरी करता था। रात में खाना खाकर सौरभ कमरे में चला गया। फिर कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और फंदे से लटककर खुदकुशी कर ली। देर रात सौरभ के कमरे से न निकलने पर स्वजन को कुछ शक हुआ। जंगले से झांक कर देखा तो सौरभ का फंदे पर लटका हुआ था। यह देख स्वजन की चीख निकल पड़ी। इंस्पेक्टर के अनुसार मामला खुदकुशी से जुड़ा हुआ है। जिसके पीछे की वजह के बारे में स्वजन कुछ भी नहीं बता पा रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.