प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होने आए लोगों में किसी ने गवांई मोबाइल तो किसी ने बाइक Aligarh news

अलीगढ़ जागरण संवाददाता। मंगलवार को लोधा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा में लाखों की संख्‍या में भीड़ उमड़ी। इस दौरान उन्‍होंने अलीगढ़ को बड़ी सौगात दे गए। लेकिन उनके जाने के बाद जनसभा में आए लोगों मेंं मायूसी छा गयी।

Anil KushwahaTue, 14 Sep 2021 06:03 PM (IST)
बाइक चोरी की तहरीर देकर थाने से निकलता गाजियाबाद का सिपाही।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। मंगलवार को लोधा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा में लाखों की संख्‍या में भीड़ उमड़ी। इस दौरान उन्‍होंने अलीगढ़ को बड़ी सौगात दे गए। लेकिन उनके जाने के बाद जनसभा में आए लोगों मेंं मायूसी छा गयी। दरअसल जनसभा के दौरान किसी का मोबाइल चोरी हो गया तो किसी की बाइक चोरी हो गयी। इतना ही नहीं पार्किंग में खड़े पुलिस के वाहन भी चोरी हो गए। 

किसी का मोबाइल चोरी हुआ तो किसी की जेब कटी

प्रधानमंत्री की जनसभा में आये करसुआ निवासी प्रताप सिंह पुत्र चंद्रपाल एवं राम उपाध्याय पुत्र हरीश, टप्पल के गांव रसूलपुर निवासी रामपाल सिंह,लोधा के गांव नदरोई निवासी निशांत तिवारी, कीरतपुर निमाना निवासी योगेश, जवां के गांव छेरत निवासी विपिन कुमार आदि के मोबाइल चोरी हो गए। कई लोगोंं की जेबें भी कटीं।  

पुलिस ने पीड़ितों की तहरीर बदलवाई

मोबाइल चोरी की तहरीर देने पीड़ित थाना लोधा पहुंचे तो वहां मोबाइल चोरी की तहरीर बदलवा दी गयी और मोबाइल गिरने की तहरीर देने को कहा गया।

पाकिंग से सिपाही की बाइक सहित कई बाइक चोरी

प्रधानमंत्री मोदी आगमन के दौरान गाजियाबाद के ट्रैफिक कर्मी शिवकुमार की ड्यूटी यूनिवर्सिटी पर लगाई गयी थी। मोदी भाषण के बाद जब सिपाही बाइक लेने गया तो बाइक नहीं मिली जिसकी सूचना कंट्रॉल रुम पर दी गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी की एवं मोदी रैली में जवां के गांव सीयपुर निवासी कृष्ण कुमार शर्मा की पैशन प्रो, लोधा के गांव ल्होर्रा निवासी विपिन कुमार की प्लेटीना, मथुरा के गांव करारी निवासी गोपाल की हीरो डीलक्स बाइक चोरी हो गयीं पीड़ितों ने थाना लोधा पर तहरीर दी हैं।

एक तरफ उत्‍साह तो दूसरी ओर मायूसी लगी हाथ

प्रधानमंत्री को सुननेे आए लोगों में सुबह से उत्‍साह रहा लेकिन जब जनसभा समाप्‍त हुई और लोगों को वापस चलना हुआ तो किसी का मोबाइल गायब है तो किसी की जेब कट गयी। इतना ही नहीं पार्किंग से वाहन तक चोरी हो गए। ऐसे में सवाल उठता है कि इतनी भारी तादात में तैनात पुलिसकर्मी क्‍या कर रहे थे।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.