कोराना की तीसरी लहर से पहले ठोस तैयारी, सांसद विधायक ने स्वास्थ्य केंद्र गोद लेने का किया एलानAligarh News

आपरेशन कायाकल्प में स्कूलों की तर्ज पर ही अब स्वास्थ्य केंद्रों को भी दुरुस्त किया जाएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ की प्रेरणा पर अब राज्यमंत्री सांसद व विधायकों ने भी स्वास्थ्य केंद्र गोद लेने का एलान किया है। अस्पतालों में सुविधाओं की बढ़ोत्तरी के आदेश दिए हैं।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 11 Jun 2021 05:11 PM (IST)
राज्यमंत्री, सांसद व विधायकों ने भी स्वास्थ्य केंद्र गोद लेने का एलान किया है।

अलीगढ़, जेएनएन। आपरेशन कायाकल्प में स्कूलों की तर्ज पर ही अब स्वास्थ्य केंद्रों को भी दुरुस्त किया जाएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ की प्रेरणा पर अब राज्यमंत्री, सांसद व विधायकों ने भी स्वास्थ्य केंद्र गोद लेने का एलान किया है। शुक्रवार को सभी जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने अस्पतालों के गोद लेने की घोषणा कर दी। जल्द ही इन सभी पर काम शुरू हो जाएगा। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने स्वास्थ्य विभाग को सभी गोद लिए अस्पतालों में सुविधाओं की बढ़ोत्तरी के आदेश दिए हैं।

आपरेशन कायाकल्प

कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभागार में डीएम चंद्रभूषण सिंह की अध्यक्षता में जनप्रतिनिधि व अफसरों की संयुक्त बैठक आयोजित की गई। इसमें डीएम कहा कि राज्य सरकार ने पिछले चार सालों में प्रत्येक स्तर पर मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूती प्रदान की है। इसी कड़ी में अब सांसद एवं विधायक अपने-अपने क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं में आमूलचूल परिवर्तन लाने के लिए कदम बढ़ा चुके हैं। जिला प्रशासन जनप्रतिनिधियों से सम्पर्क और समन्वय स्थापित कर जनप्रतिनिधियों द्वारा गोद लिये हुए स्वास्थ्य केन्द्रों में व्यवस्थाओं को सूचारू बनाएं। बेसिक शिक्षा विभाग में आपरेशन कायाकल्प की तर्ज पर ही अब स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग की व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाना है। इससे मरीजाें को निजी अस्पतालों की तरफ दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी। उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि वह जनप्रतिनिधियों एवं तकनीकी विशेषज्ञ के साथ सीएचसी एवं पीएचसी का संयुक्त निरीक्षण कर वहां की आवश्यकताआओं की कार्ययोजना तैयार कराएं। सीडीओ अंकित खंडेलवाल ने कहा कि यदि किसी पीएचसी-सीएचसी पर साफ-सफाई की कोई समस्या है तो अवगत कराया जाए। स्थानीय स्तर से सफाईकर्मी की व्यवस्था की जाएगी। कोल विधायक अनिल पाराशर ने सुझाव दिया कि प्रत्येक सीएचसी पर ओपीडी, मेटेरनिटी सुविधा, चाहरदीवारी सहित इंडोर मरीज के भर्ती होने की समुचित व्यवस्था की जाए। बिजली-पानी की कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। छर्रा विधायक रवेन्द्रपाल सिंह ने कहा कि अकराबाद सीएचसी हाइवे पर स्थित है, लेकिन यहां की इमारत जीर्ण-शीर्ण अवस्था में है। ऐसे में ठोस कार्ययोजना के साथ कार्य करना बेहतर होगा।

इस तरह अस्पताल लिए हैं गोद

सांसद सतीश गौतम ने पीएचसी बरौली, राज्यमंत्री संदीप सिंह ने सीएचसी अतरौली, एमएलसी जयवीर सिंह ने सीएचसी हरदुआगंज, कोल विधायक अनिल पाराशर ने पीएचसी गड़राना व मडराक, छर्रा विधायक रवेन्द्रपाल सिंह ने सीएचसी अकराबाद व विजयगढ़, इगलास विधायक राजकुमार सहयोगी ने सीएचसी इगलास, एमएलसी डा. मानवेन्द्र प्रताप सिंह ने दीनदयाल अस्पताल के साथ ही पीएचसी जलाली एवं पनेठी को गोल लिया है। वहीं, शहर विधायक संजीव राजा ने अपने विधानसभा क्षेत्र के सभी 11 पीएचसी के एकसमान देखरेख का एलान किया है। जल्द ही अन्य जनप्रतिनिधि भी अपने गोद लिए अस्प्तालों की घोषणा कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.