अलीगढ़ में डिफेंस कारिडाेर के निवेशकों की राह आसान करेगी एसआइडीएम

डियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन अलीगढ़ चैप्टर (आइआइए) 30 नवंबर को सुबह 1030 बजे से ताला नगरी सेक्टर टू ए-31 प्रसिसन आइएनसी प्रांगण में एक कार्यक्रम आयोजित करेगी। इसमें एसअाइडीएम के रष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील मिश्रा सहित छह सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल भाग लेगा।

Anil KushwahaMon, 29 Nov 2021 09:02 AM (IST)
देश के पहले डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर के निवेशकों की सोसायटी आफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चरर्स राह आसान करेगी।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। देश के पहले डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर के निवेशकों की सोसायटी आफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चरर्स (एसआइडीएम) राह आसान करेगी। इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन अलीगढ़ चैप्टर (आइआइए) 30 नवंबर को सुबह 10:30 बजे से ताला नगरी सेक्टर टू ए-31 प्रसिसन आइएनसी प्रांगण में एक कार्यक्रम आयोजित करेगी। इसमें एसआइडीएम के रष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील मिश्रा सहित छह सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल भाग लेगा।

21 कंपनियों को भूमि आवंटित

आइआइए अलीगढ़ चैप्टर के अध्यक्ष शलभ जिंदल व सचिव मनीष बंसल ने रविवार को सेंटर प्वाइंट स्थित एक रेस्टोरेंट में प्रेसवार्ता में बताया है कि डिफेंस कारिडोर का अलीगढ़ नोड अलीगढ़ पलवल मार्ग स्थित अंडला पर विकसित किया जा रहा है। यहां 21 कंपनियों को भूमि आवंटित कर दी गई है। एक कंपनी ने फैक्ट्री निर्माण का काम भी शुरू कर दिया है। आइआइए का प्रयास है कि अलीगढ़ की एमएसएमई को भी डिफेंस कारिडोर में बड़ी हिस्सेदारी मिले। इसके साथ ही अन्य उद्यमी भी निवेश करने के इच्छुक हैं, या देशी-विदेशी रक्षामंत्रालय के लिए सेना के साजोसामान निर्मित करने के लिए मैन्युफैक्चरिंग से लेकर सप्लाई तक करना चाहते हैं, एसआइडीएम प्रतिनिधि मंडल उन उद्यमियों के हर संभावनाओं व जटिलता को हल करने के लिए मार्ग दर्शन करेगी।

यह लोग रहेंगे प्रतिनिधिमंडल में शामिल

आइआइए के सह सचिव आलोक झा व सदस्य ललेश सक्सेना ने बताया कि एसआइडीएम कन्फेडरेशन आफ इंडियन इंडस्ट्रीज (सीआइआइ) व एसआइडीएम रक्षामंत्रालय (वित्तविभाग) और निवेशकों के बीच समन्वय स्थापित करती है। मुख्यअतिथि के साथ एसआइडीएम के प्रबंध निदेशक सुनील मिश्रा, प्रबंध निदेशक लेफ्टिनेंट जनरल जयप्रकाश नेहरा, प्रधान सलाहकार रियर एडमिरल प्रीतम लाल, प्रमुख सलाहकार सीआइआइ व एसआइडीएम ब्रिगेडियर अमूल्य मोहन, डिप्टी दीपक कुमार शर्मा, एसआइडीएम एजीएम विकास बालाीन आदि प्रतिनिधि मंडल में आ रहे हैं।

मोदी सरकार तेजी से काम कर रही

दीप एक्सप्लो के सीएमडी तरुण सक्सेना ने बताया है कि डिफेंस कारिडोर के लिए मोदी सरकार तेजी से काम कर रही है। आत्म निर्भर भारत के साथ वाेकल फोर लोकल की मुहिम को धार दिया जा रहा है। रक्षामंत्रालय डिफेंस कारिडोर में रक्षा हथियारों के साथ आयुद्ध सामग्री में स्वदेशी कलपुर्जो व पार्ट्स लगाएगा। हम विदेशी बाजार पर निर्भर नहीं होगे। पहली खेप में 250 पार्ट्स के आयात पर रोक लगाई। 400 आयटमों के कलपुर्जे पर आयात करने पर रोक लगा दिया है। इन सभी उत्पादनों का निर्माण देश में किया जाएगा।

एमएसएमइ को मिलेगा बढ़ावा

फैसिलिटेशन काउंसिल व एआइआइए के सदस्य मनोज अग्रवाल ने कहा कि डिफेंस कारिडोर से अलीगढ़ एमएसएमई को बढ़ावा दिया जाएगा। यूपीडा ने निवेशकों को पहले कारिडाेर में जमीन खरीदने के लिए 25 प्रतिशत की सब्सिडी दी थी, अब एमएसएमई निवेशक उद्यमियों के समक्ष कड़ी शर्त रख दी है। जिसके तहत मेगा एंकर कंपनियों को ही लाभ मिलेगा। हम प्रतिनिधि मंडल से इस सब्सिडी की बहाली के लिए मांग रखेंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.