आग की चिंगारी बनी शोला, 163 बीघा गेहूं की फसल जली

आग की चिंगारी बनी शोला, 163 बीघा गेहूं की फसल जली

खैर थाना क्षेत्र के गांव शिवाला में शुक्रवार को अज्ञात कारणों से करीब 125 बीघा गेहूं की खड़ी फसल जलकर राख हो गई।

JagranFri, 09 Apr 2021 09:05 PM (IST)

अलीगढ़ : खैर थाना क्षेत्र के गांव शिवाला में शुक्रवार को अज्ञात कारणों से करीब 125 बीघा गेहूं की खड़ी फसल जलकर राख हो गई। आग की लपटें देख काफी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए और अपने संसाधनों से आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली। ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी। दमकल ने पहुंच कर बमुश्किल आग पर काबू पाया। आग से गांव का 15 वर्षीय किशोर दिनेश पुत्र राजेंद्र झुलस गया। उसे शिवाला स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। आग में नौ किसानों प्रमोद, दुर्गा प्रसाद, ओमप्रकाश, हरिओम, राजीव, मेवाराम, ओमप्रकाश, लाला प्रसाद व मुकेश उपाध्याय की करीब 125 बीघा फसल जलकर बर्बाद हो गई है। फसल जलने से किसानों का लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। सूचना पर थाना पुलिस और हल्का लेखपाल नारायन हरि शर्मा मौके पर पहुंच गए और किसानों की जली फसल के आंकलन के साथ ही आग के कारणों की जांच में जुटी है।

जसरथपुर व बमनोई में 10 बीघा का लांक जला

संवाद सूत्र अकराबाद : क्षेत्र के गांव बमनोई व जसरथपुर में अचानक आग लगने से दो खेतों में कटा रखा, लगभग 10 बीघा गेहूं का लांक जलकल राख हो गया। जसरथपुर निवासी कालीचरण व रमेश चंद्र बघेल का गांव के निकट ढाई-ढाई बीघा खेत है। दोनों ने खेत काटकर लांक इकट्ठा कर दिया था। शुक्रवार दोपहर अचानक आग की लपटें देख गांव के तमाम लोग दौड़ पड़े। ग्रामीणों ने बमुश्किल आग पर काबू पाया। वहीं बमनोई में भी कोमलसिंह जाटव के खेत में किसी राहगीर द्वारा जलती बीड़ी फेंक देने से करीब पांच बीघा खेत का लांक जल गया।

ऊतरा में 10 बीघा व दौरऊ में 10 बीघा गेहूं की फसल जली

संसू, बरला : थाना बरला के गांव ऊतरा में हरपाल सिंह फौजी के 10 बीघा गेहूं की फसल में अज्ञात कारणों से आग लग गई। लपटें देख ग्रामीण दौड़े चले आए। सूचना पर दमकल ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, मगर तब तक फसल जल चुकी थी।

संसू, गभाना: क्षेत्र के दौरऊ में शुक्रवार शाम को बिजली के तारों से निकली चिगारी से लगी आग में पांच बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। भूपाल नगलिया निवासी ध्यानपाल सिंह के दौरऊ मोड़ स्थित खेतों में गेहूं की फसल खड़ी हुई है। शाम को खेतों के पास में लगे ट्रांसफार्मर से निकली चिगारी से खड़ी फसल में आग लग गई। आग ने पड़ोस के ऋषिपाल सिंह निवासी दौरऊ के खेतों में भूसा बनाने को पड़े अवशेषों को भी अपनी चपेट में ले लिया। ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और अथक प्रयासों के बाद आग को बुझाया, लेकिन तब तक ध्यानपाल सिंह की पांच बीघा गेहूं की फसल व ऋषिपाल सिंह के दो बीघा भूसे के अवशेष जलकर राख हो गए।

एक बुर्जी व तीन बिटौरे जले

क्षेत्र के कटरा में अज्ञात कारणों से लगी आग में बुर्जी-बिटौरे जलकर राख हो गए। गांव के पप्पू बाल्मीकि व राकेश बाल्मीकि के हाईवे किनारे खाली पड़ी जमीन पर बुर्जी व बिटौरे रखे हुए थे। शुक्रवार सुबह अज्ञात कारणों से बिटौरों में आग लग गई। जानकारी पाकर ग्रामीण एकत्रित हो गए और आग बुझाने का प्रयास करने लगे, लेकिन आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। सूचना पर पहुंची दमकल ने ग्रामीणों की मदद से आग को बुझाया। तब तक तीन बिटौरे व एक बुर्जी जलकर राख हो गई।

सुमेरा में 13 बीघा गेहूं

का लांक जला

जवां : क्षेत्र के गांव सुमेरा में अज्ञात कारणों से शुक्रवार शाम गांव के मुकेश पुत्र रामवीर सिंह के खेत में पड़े गेहूं के लांक में आग लग गई। जिसमें उसकी 13 बीघा फसल जलकर राख हो गई। सूचना पर पीआरवी की गाड़ी पहुंची और ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया, तब तक किसान के सारे गेहूं का लांक जलकर राख हो गया था। मामले में राजस्व विभाग को दी गई सूचना पर हल्का लेखपाल ने मौके पर जाकर नुकसान का मुआयना किया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.