सिर्फ दो किलोमीटर दूर थी शिवानी, 34 दिन के हर पल ने मां को रुलाया Aligarh news

सरोज नगर के गली नंबर छह के किनारे रहने वाले राजा की ढाई साल की बेटी शिवानी 22 जून की रात गायब हुई थी। मां रेखा सुबह उठी तो बेटी को गायब थी। पुलिस ने शिवानी को दो किलोमीटर दूर रेंज हिल्स स्कूल के पास से बरामद किया।

Anil KushwahaTue, 27 Jul 2021 05:55 AM (IST)
बच्‍ची को पाकर खुशी से रो पड़े परिजन।

अलीगढ़, जेएनएन।  सरोज नगर के गली नंबर छह के किनारे रहने वाले राजा की ढाई साल की बेटी शिवानी 22 जून की रात गायब हुई थी। मां रेखा सुबह उठी तो बेटी को गायब देख होश उड़ गए। पुलिस ने शिवानी को महज दो किलोमीटर दूर रेंज हिल्स स्कूल के पास से बरामद किया। लेकिन, इन 34 दिन के हर पल में मां बेटी को याद करके रोई। बच्ची अभी बोलने में सक्षम नहीं है। लेकिन, सोमवार सुबह जैसे ही उसने मां को देखा तो हंसते हुए लिपट गई। इधर, मां के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे।

सात माह में पांच बच्‍चे चोरी 

सात माह के अंदर चोरी हुए पांच बच्चों को पुलिस ने सकुशल बरामद किया है। इनमें तीन बच्चे अलीगढ़ के थे। इनमें ढाई साल की शिवानी के अलावा गांधीपार्क क्षेत्र में झुग्गियों में रहने वाले सुरेश का डेढ़ा साल का बेटा, जबकि बृजेश की दो साल की नातिन शामिल थी। इन परिवारों को सुबह बच्चों के मिलने की जानकारी मिली तो खुशी का ठिकाना न था। बिना खाना खाए परिवार अपने बच्चे की एक झलक पाने के लिए पुलिस लाइन पहुंच गए। यहां बच्चे को देखकर सकून मिला। पुलिस ने परिवारों को मुल्जिमों के बारे में भी जानकारी दी। खुद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बच्चों को दुलारा और परिवार से बातचीत कीं। बच्ची के दादा बृजेश ने बताया कि बच्ची का पाकर पूरी जिंदगी मिल गई है। अब कुछ नहीं चाहिए। शिवानी की मां रेखा ने बताया कि बच्ची के जाने के बाद नींद तक नहीं आती थी। अन्य बच्चों को जंजीर से बांधकर सोती थीं। सड़क से गुजरने वाले हर वाहन पर निराह रहती थी। पिता राजा ने कहा कि जब एक माह हो गया तो लगा कि पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर रहा। लेकिन, अब पुलिस का कैसे शुक्रिया करूं, समझ नहीं आ रहा।

एकजुट हुए परिवार तो खुशी में बांटी मिठाई

लौहार का काम करने वाले परिवार मुख्यत एटा चुंगी, धनीपुर मंडी पर रहते हैं। एक-एक झुग्गी सरोज नगर व रेंज हिल्स स्कूल के पास है। बच्चों को साथ लेकर तीनों परिवार जब शाम करीब छह बजे एटा चुंगी पर लौटे तो सभी परिवार एकजुट हो गए। बारी-बारी से सभी ने बच्चों को गोद में लेकर दुलार किया। इसके बाद राजा ने सड़क पर खड़े होकर लोगों में लड्डू बांटे।

आरोपित धोनी चलाता था ठेला

पकड़ा गया आरोपित धोनी धनीपुर मंडी के पास गोलगप्पे का ठेला चलाता था। यहीं से वह बड़े परिवारों व उनके बच्चों के बारे में जानकारी जानकारी हासिल करता था कि किसके पास कितने बच्चे हैं और किसको बच्चे की जरूरत है। फिर गिरोह के सदस्य उसी परिवार पर नजर रखते थे और महिलाओं की मदद से डीलिंग करते थे।

...नहीं तो आइटीआइ रोड से एक और बच्चा हो जाता चोरी

बच्चा चोरी करने वाले गिरोह की तलाश में पुलिस करीब एक माह से लगी हुई थी। लेकिन, रविवार को जब आइटीआइ रोज से एक और बच्चा चोरी की सुगबुगाहट लगी तो पुलिस दोपहर में ही अलर्ट हो गई। पहले तीन आरोपितों को पकड़ा। फिर एक-एक करके सभी 16 आरोपित गिरफ्तार हुए। इसके लिए रातभर छापेमारी की और पांच बच्चे बरामद किए।

बच्‍चों को जंजीर से बांधा जाता था

ढाई साल की शिवानी के चोरी होने के बाद जब बच्चों को जंजीर में बांधकर सोने की जानकारी मिली तो एसएसपी कलानिधि नैथानी ने एसपी सिटी कुलदीप सिंह गुनावत के नेतृत्व में टीम बना दी। इसमें एएचटीयू (मानव तस्करी रोधी इकाई) की टीम के अलावा सीओ तृतीय श्वेताभ पांडेय की निगरानी में महुआखेड़ा थाना प्रभारी विनोद कुमार, गांधीपार्क थाना प्रभारी हरिभान सिंह व शहर की एसओजी टीम के प्रभारी संदीप शामिल थे। सबसे पहले सीसीटीवी कैमरे में एक जगह बाइक सवार लोग ट्रेस हुए। इसके बाद मुखबिर की मदद से आरोपितों का सुराग मिला। लेकिन, रविवार को सूचना मिली कि एक और बच्चा चोरी होने वाला है। इस पर रविवार दोपहर 10 बजे ही टीमें सक्रिय हो गईं। पहले दुर्योधन, अनिल व शुभम पकड़े गए तो एसएसपी कलानिधि नैथानी रात में ही धनीपुर मंडी पहुंच गए और टीम को लीड किया। स्पष्ट कहा कि सभी बच्चों की बरामदगी होने तक कोई नहीं सोएगा। रातभर छापेमारी करके पांच बच्चों को बरामद किया गया।

25 हजार का मिला इनाम

सफलता पर एसएसपी ने टीम को 25 हजार के इनाम की घोषणा की है। टीम में दारोगा धर्मेंद्र कुमार, हेड कांस्टेबल सुखवीर, सुभाष चंद्र, पुष्पेंद्र, सिपाही अंकुश डबास, विजय राना व प्रशांत कुमार शामिल हैं।

पुलिस से बोले परिवार, आप भगवान हो

जब पुलिस लाइन में परिवारों ने खोए बच्चों को देखा तो खुशी का ठिकाना न था। परिवारों ने पुलिस का धन्यवाद किया। एसएसपी, एसपी सिटी व अन्य अफसरों से कहा, आप हमारे लिए भगवान का रूप हो।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.