ब्राह्मणों पर डोरे डालने अलीगढ़ आएंगे बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा

पूर्व ऊर्जा मंत्री व सादाबाद विधायक रामबीर उपाध्याय परिवार के भाजपा में शामिल होने से बसपा को तगड़ा झटका लगा है। भाजपा ने उपाध्याय की पत्नी व पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय को जिला पंचायत अध्यक्ष बनाकर ब्राह्मण समाज में सेंध लगाई है।

Anil KushwahaTue, 27 Jul 2021 06:15 AM (IST)
बसपा ने जातीय संतुलन साधने के लिए ठोस रणनीति को अंजाम दिया है।

अलीगढ़, जेएनएन। भाजपा ने पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी व पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय को जिला पंचायत अध्यक्ष बनाकर ब्राह्मण समाज में सेंध लगाई है। मायावती की ब्ल्यू बिग्रेड डेमेज कंट्रोल में जुट गई है। तीन अगस्त को अलीगढ़ में बसपा ब्राह्ममण समाज भाईचार सम्मेलन आयोजित करने जा रही है। विप्र समाज को साधने के लिए राष्ट्रीय महासचिव व सांसद सतीश चंद्र मिश्रा इसे संबोधित करेंगे। पार्टी ने इसकी तैयारियां शुरु कर दी हैं। विप्र समाज के सम्मेलनों की शुरूआत भगवान राम की नगरी अयोध्याय से शुरु हुए हैं।

बसपा ने जातीय संतुलन साधने के लिए ठोस रणनीति को अंजाम दिया है। पार्टी ने बसपा भाइचारा बनाओं कमेटी के जरिये सभी वर्ग में घुसपैठ बनाएगी। इसकी शुरूआत 23 जुलाई से ब्राह्मण समाज भाईचार बनाओं सम्मेलन से हो चुकी है। इसके बाद सतीश चंद्र मिश्रा अलीगढ़ में इस मंडलीय ब्राह्माण सम्मेलन को संबोधित करने जा रहे हैं। बसपा की स्थापना से लेकर अबतक रामबीर उपाध्याय व पूर्व केबिनेट मंत्री व एमएलसी ठा. जयीवीर सिंह के भाजपा में चले जाने के बाद यह पहला विधानसभा चुनाव होगा।

सोशल इंजीनियरिंग ही होगा मूल मंत्र

बसपा इस बार भी सोशल इंजीनियरिंग के जरिये विधानसभा चुनाव में उतरने जा रही है। पार्टी जिसकी जितनी संख्या भारी, उतनी उसकी हिस्सेदारी का ही मूल मंत्र होगा। आरक्षित सीटों को छोड़कर बांकी की सभी सीटों पर उसी को विधानसभा का प्रत्याशी बनाया जाएगा, जिस समाज के ज्यादा वोट होंगे। विधानसभा बार क्षत्रिय, ब्राह्मण, यादव, वैश्य, मुस्लिम व अन्य जाति की बसपा भाईचार बनाओ कमेटियों का गठन कर जातीयों को साधा जाएगा। 30 जुलाई तक सभी जाति की विधानसभा स्तर पर कमेटियों का गठन होना तय हुआ है।

इगलास व खैर में होंगे जाट सम्मेलन

इगलास व खैर में जाट समाज की भाईचारा बनाओं कमेटी का गठन हो चुका है।

मंडल अध्यक्ष शिवकांत शर्मा व बाम सेफ के ओम प्रकाश सिंह का कहना है कि इगलास में जल्द ही जाट भाईचारा बनाओं सम्मेलन होगा। इसके लिए मंडल की चारो सुरक्षित विधानसभाओं में कमेटियों का गठन का काम चल रहा है। इगालास, खैर, एटा जिले की जलेसर व हाथरस की हाथरस शहर विधानसभाओं पर जुझारु कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी दी जाएगी।

जल्द आएंगे बाबू मुनकाद अली

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सांसद बाबू मुनकाद अली को सोमवार को आयोजित कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर में आना था, किन्हीं कारणों से वे नहीं आ सके। जल्द ही वे संगठन की समीक्षा करने के लिए आएंगे। ताकि मिश्रा के समक्ष संगठन की समीक्षा हो सके। इस काम में मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी सूरज सिंह, अशोक सिंह, अरविंद आदित्य, रणवीर कश्यप लगाए गए हैं। जिलाध्यक्ष रतनदीप सिंह का कहना है कि पहले विप्र सम्मेलन को सफल बनाना है। इसके बाद अन्य सम्मेलन होंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.