UP Assembly Election 2022 : चुनाव प्रक्रिया को लेकर बसपा में घमासान, दो विधानसभा सीट पर प्रत्‍याशी घोषित

अलीगढ़ जागरण संवाददाता। बसपा में विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों की चयन प्रक्रिया व घोषणाओं के बीच संगठन में घमासान मचा हुआ है। 24 नवंबर को अलीगढ़ के मुख्य मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी सूरज सिंह को हटाकर बरेली की जिम्मेदारी दी गई थी।

Anil KushwahaMon, 29 Nov 2021 02:15 PM (IST)
बसपा में विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों की चयन प्रक्रिया व घोषणाओं के बीच संगठन में घमासान मचा हुआ है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। बसपा में विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों की चयन प्रक्रिया व घोषणाओं के बीच संगठन में घमासान मचा हुआ है। 24 नवंबर को अलीगढ़ के मुख्य मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी सूरज सिंह को हटाकर बरेली की जिम्मेदारी दी गई थी। 48 घंटे के अंतराल में पार्टी सुप्रीमो मायावती ने इन्हें अलीगढ़ वापस भेजने का फरमान जारी कर दिया। इनके समकक्ष दायित्व संभाल रहे रणवीर सिंह कश्यप को यहां से हटाकर बुंदेलखंड के चित्रकूट मंडल का मुख्य सेक्टर प्रभारी की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बाबू मुनकाद अली को भी अलीगढ़ मंडल से हटा दिया है। यह सिर्फ आगरा, मिर्जापुर मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी रहेंगे। इनकी जगह राजकुमार गौतम को कमान सौंपी गई है।

दो विधानसभा सीटों पर प्रत्‍याशियों की घोषणा

बसपा ने जिला की सात में से दो विधानसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इनमें छर्रा विधानसभा सीट से तिलकराज यादव व बरौली विधानसभा से पंडित नरेंद्र शर्मा शामिल हैं। 25 नवंबर को संगठन में हुए बदलाव को लेकर बसपा में सियासी पारा चढ़ गया था। सूत्रों के अनुसार सूरज सिंह को अलीगढ़ के मुख्य सेक्टर प्रभारी पद से हटाकर बरेली भेजने के बाद सिंह के खेमा में मायूसी थी। यह पार्टी सुप्रीमों मायावती के समक्ष पेश हुए। यहां मायावती ने सूरज सिंह का पक्ष जाना। गुटबाजी को लेकर भी चर्चा हुई। जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों के चयन को लेकर जिलाध्यक्ष रतनदीप सिंह के कैंप कार्यालय प्रकरण भी उठा। यहां सूरज सिंह खेमा मजबूती के साथ अपना पक्ष रखा।

बाबू मुनकाद अली की जगह राजकुमार गौतम को कमान

शनिवार को लखनऊ में हुई बैठक में पार्टी संगठन को लेकर एक बार फिर पत्ते फेंटे गए। यहां रणवीर कश्यप को बुंदेलखंड के जिलों की जिम्मेदारी देने से इनके समर्थकों में मायूसी है। रणवीर सिंह कश्यप ने बताया है कि शनिवार को बहनजी (मायावती) से बात हुई थी, उन्होंने चित्रकूट मंडल की कमान सौंपने के निर्देश दिए थे। वे पहले भी चित्रकूट व झांसी मंडल का दायित्व देख चुके हैं। पार्टी ने जो भी जिम्मेदारी दी है, उसे वे पूरी इमानदारी के साथ निभांएगे। बाबू मुनकाद अली की जगह राजकुमार गौतम कमान संभालेंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.