पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी रिकू की हत्या, दोनों गिरफ्तार

टप्पल के गांव जलालपुर के रिकू की हत्या में पुलिस ने उसकी पत्नी व पड़ोसी युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर रिकू की हत्या की थी।

JagranSat, 04 Dec 2021 12:41 AM (IST)
पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी रिकू की हत्या, दोनों गिरफ्तार

अलीगढ़ : टप्पल के गांव जलालपुर के रिकू की हत्या में पुलिस ने उसकी पत्नी व पड़ोसी युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर रिकू की हत्या की थी। हत्या को हादसा दिखाने के मकसद से शव सड़क किनारे फेंक दिया था। पूछताछ में पत्नी ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश भी की।

गांव जलालपुर निवासी 32 वर्षीय रिकू करीब आठ साल से उसरह बाईपास कजरार रोड पर पत्नी व बच्चों के साथ मकान में रहता था। वह गुरुग्राम में ट्रक चलाता था। 28 नवंबर की शाम को वह गुरुग्राम जाने के लिए निकला था। 29 नवंबर को सुबह पांच बजे घर से करीब तीन सौ मीटर दूर दौड़ लगाने वाले युवक ने उसका शव सड़क किनारे पड़ा देखा। गर्दन पर चोट के निशान थे। इसमें बड़े भाई गुड्डू ने हत्या की आशंका जताते हुए रिकू की पत्नी व पिसावा के गांव शाहपुर के प्रधान संजय के खिलाफ मुकदमा लिखाया। पुलिस की जांच में संजय का कोई दोष नहीं निकला। इंस्पेक्टर देवेंद्र कुमार ने बताया कि हत्या में रिकू की पत्नी पूनम व उसके प्रेमी मुनेश उर्फ मोनू शामिल थे। दोनों को जेल भेज दिया है। इंस्पेक्टर के मुताबिक, करीब एक साल पहले मोनू ने पूनम के पड़ोस में मकान का निर्माण करवाया था। इस दौरान वह पूनम के मकान में रहने लगा। तभी दोनों में नजदीकियां बढ़ गईं। पूनम ने पूछताछ में बताया कि रिकू शराब पीकर उससे मारपीट करता था। करीब एक साल से प्रताड़ना अधिक हो गई थी, जिससे वह परेशान हो चुकी थी। दीपावली पर रिकू गुरुग्राम से घर आया, तब भी उसने मारपीट की। इधर, मोनू की पत्नी भी उसे छोड़ कर चली गई थी। पूनम ने मोनू के साथ मिलकर रिकू की हत्या की योजना बनाई।

पड़ोस के किराएदार

की ले गए बाइक

मोनू व रिकू साथ में शराब पी लेते थे। 28 नवंबर को रिकू ने पहले से ही शराब पी रखी थी। मोनू ने शाम को रिकू से कहा कि पास के गांव चलते हैं। वहां बैठकर शराब पीएंगे। इस पर रिकू राजी हो गया। उस दिन मोनू के पास बाइक नहीं थी। उसने पड़ोसी अन्य किराएदार अजय के घर के बाहर खड़ी बाइक उठाई, जिसका लाक बगैर चाबी के खुल जाता था। मोनू बाइक पर बैठाकर रिकू को ले जाने लगा तो पूनम आ गई और रिकू के अधिक शराब पीने का हवाला देकर साथ जाने की जिद करने लगी। रिकू के विरोध के बावजूद पूनम बाइक पर पीछे बैठ गई। इससे पहले उसने अपने पास रस्सी रख ली। रास्ते में रिकू विरोध करने लगा तो मोनू ने उसके पेट में कोहनी मार दी, जिससे रिकू की पसली टूटने से वह अचेत हो गया। तभी पूनम ने उसके रस्सी गले में डाल दी, फिर दोनों ने गला घोंट दिया।

यहां से पकड़े गए आरोपित

मोनू पड़ोसी अजय की बाइक रखने गया तो तब तक मकान का गेट बंद हो चुका था। उसने बाइक बाहर ही खड़ी कर दी। अजय ने सुबह बाइक बाहर खड़ी देखी तो उसे अटपटा लगा। दूसरी तरफ पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो उसमें एक बाइक पर पीछे महिला बैठी दिखी थी। रिकू की जैकेट से उसे पहचाना गया। पूनम लौटकर घर आई तो छोटी बेटी जाग गई। इसके बाद पूनम ने मोनू को देररात फोन भी किया था। पूनम को लगा था कि शव सड़क किनारे फेंक दिया है। पुलिस इसे सड़क हादसा मानेगी। इसके चलते पूनम को सरकार से आर्थिक मदद मिल जाएगी, जिससे वह मोनू के साथ मिलकर नया जीवन शुरू कर सकेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.