Dainik Jagran Vat Plantation Campaign : संकल्प हुआ साकार...श्रद्धा-समर्पण वट का पौधा लेगा विशाल आकार Aligarh News

Dainik Jagran Vat Plantation Campaign दैनिक जागरण ने अपने सातों सरोकारों को प्रमुखता दी है। पर्यावरण को खास अहमियत देते आए हैं। एक नई परंपरा और एक नई विचारधारा हो उत्पन्न करने का गुरुवार को कार्य किया गया।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 11 Jun 2021 07:40 AM (IST)
दैनिक जागरण ने अपने सातों सरोकारों को प्रमुखता दी है।

अलीगढ़, जेएनएन। Dainik Jagran Vat Plantation Campaign : हम पत्र ही नहीं बल्कि मित्र भी हैं। इसलिए दैनिक जागरण ने अपने सातों सरोकारों को प्रमुखता दी है। पर्यावरण को खास अहमियत देते आए हैं। एक नई परंपरा और एक नई विचारधारा हो उत्पन्न करने का गुरुवार को कार्य किया गया। यह नई परंपरा प्रबल प्रवाह बन गई, जो आने वाले दिनों में अथाह उत्साह पैदा करेगी। दैनिक जागरण एक हफ्ते से वट सावित्री को लेकर अभियान चला रहा था, जिसमें सुगाहिन महिलाओं को पूजन के दिन पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया जा रहा था। गुरुवार की सुबह हर किसी को आश्चर्य में डालने वाली थी। जहां महिलाओं के हाथ में वट की टूटी हुई डाली हुआ करती थी, घर और आंगन में उसे रखकर पूजन कर लिया करती थीं वहीं पूरा परि²श्य बदला हुआ था। सुबह अखंड सौभाग्वती के लिए सुगाहिनों ने वट सावित्री का व्रत रखा। सोलह श्रृंगार करके वह घरों से निकल पड़ी। सुहागिनों के हाथ में टूटी पेड़ की डाली नहीं, बल्कि वट का नन्हा सा पौधा था, जिसे पूजन के साथ वह रोपने के लिए जा रही थीं। कई सुगाहिनों ने तो पहले से ही तैयारी कर रखी थी, पार्क में दो दिन पहले गड्ढे खोदकर उसमें पौधा लगाया। जल अर्पित किया। कलावा लपेटा और आरती की। पौधे से अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद लिया। साथ ही देखरेख का संकल्प भी लिया।

व्रत का संकल्‍प पूरा होगा

सासनीगेट निवासी नाब्या सक्सेना ने कहा कि उन्होंने जब पौधा रोपा तो एक सुखद अनुभव हो रहा था, उसे विशाल परिसर में लगाया गया है, उसकी देखरेख भी वह करेंगी। बापूधाम निवासी पूजा सोमानी ने कहा कि दैनिक जागरण का अभियान अभिभूत करने वाला होता है, इससे व्रत का संकल्प पूरा होगा साथ ही हम पर्यावरण के प्रहरी भी बन सकेंगे। समाजसेवी गौरी पाठक ने सासनीगेट स्थित पार्क में पौधा लगाया। उन्होंने बताया कि पूरी टीम पौधा लगाने के लिए सुबह से उत्साहित थी। पौधा लगाने के बाद विधि-विधान से सभी ने पूजन किया। बीना अग्रवाल ने कहा कि जीवन में पहली बार ऐसा हुआ कि जब व्रत वाले दिन वट के पौधे को लगाने के लिए प्रेरित किया गया, यह सुखद अनुभव था।

दैनिक जागरण की मुहिम - वट से बाँधे सांसों की डोर के तहत प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय धनीपुर की प्रधानाध्यापिका नीलम सक्‍सेना व शिक्षिका विद्यालय परिसर में वट का पौधा रोपण करती हुईं।

विद्यालय परिसर में वट का पौधा लगाया

प्राथमिक विद्यालय, धनीपुर की प्रधानाध्यापिका नीलम सक्सेना ने विद्यालय परिसर में वट का पौधा लगाया। उन्होंने कहा कि परिसर में अच्छी जगह थी, इसलिए उसकी देखभाल भी ठीक हो पाएगी। रीना गुप्ता ने अपने घर के पास पौधा लगाया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में यह पौधा छाया देगा। सासनीगेट स्थित विकास नगर में ममता राघव और सुगंधी ने वट का पौधा लगाया। उन्होंने कहा कि जीवन में कभी नहीं सोचा था कि व्रत के साथ पौधा लगाएंगी।

गांवों में भी लगाए

ग्रामीण क्षेत्रों में भी सुगाहिनों ने कई स्थानों पर बरगद का पौधा लगाकर पूजन किया। मथुरा रोड स्थित आसना निवासी गौरी तोमर ने भी वट का पौधा लगाया, उन्होंने कहा कि यह दैनिक जागरण की प्रेरणा से संभव हो पाया है। सासनीगेट पर रुचि राघव ने पौधा लगाया। उन्होंने कहा कि वह इसकी अच्छे से देखरेख करेंगी। अर्जुनपुर गांव में मीरा जादौन ने पौधा लगाया। शिक्षिका अंजना बघेल ने भी पौधे लगाए।

नई इबारत लिखेगा अभियान

यह अभियान निश्चित आने वाले दिनों में नई इबारत लिखेगा। पर्यावरणविद सुबोधनंदन शर्मा ने बताया कि वट वृक्ष वास्तव में संजीवनी है। एक साथ इतने पौधे लगाए जाएंगे इसकी कल्पना नहीं थी। यदि ऐसी जागरूकता आ जाए तो निश्चित पर्यारवण को नुकसान होने से हम बचा लेंगे। उन्होंने कहा कि वट के पौधा छाया तो देता ही है औषधि के भी काम आता है। सभी से अपील की कि पौधे की अच्छे से देखरेख करें, जिससे वह वट वृक्ष बन सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.