Paryushana Parva : भौतिक सुखों का त्याग ही उत्तम ब्रह्मचर्य Aligarh news

अलीगढ़ जागरण संवाददाता। दशलक्षण पर्व पर महानगर के जैन मंदिरों में श्रद्धालुओं ने तीर्थकरों की वेदी पर पूजा-अर्चना की। रविवार को पयुर्षण पर्व पर ब्रह्मचर्य अनंत चतुर्दशी को हुए अनुष्ठानों में भौतिक सुखों का त्याग ही उत्तम ब्रह्मचर्य बताया।

Anil KushwahaMon, 20 Sep 2021 05:30 AM (IST)
दशलक्षण पर्व पर महानगर के जैन मंदिरों में श्रद्धालुओं ने तीर्थकरों की वेदी पर पूजा-अर्चना की।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। दशलक्षण पर्व पर महानगर के जैन मंदिरों में श्रद्धालुओं ने तीर्थकरों की वेदी पर पूजा-अर्चना की। रविवार को पयुर्षण पर्व पर ब्रह्मचर्य अनंत चतुर्दशी को हुए अनुष्ठानों में भौतिक सुखों का त्याग ही उत्तम ब्रह्मचर्य बताया।

अनंत चतुर्दशी को श्रीजी का हुआ अभिषेक

पयुर्षण पर्व के दसवें दिन उत्तम ब्रह्मचर्य अनंत चतुर्दशी को श्री पार्श्वनाथ दिगंबर जैन खंडेलवाल पंचायत मंदिर में श्रीजी का अभिषेक हुआ। उसमें लगभग 40 पुजारियों ने अभिषेक किया। इसके पश्चात प्रथम शांति धारा महेंद्र कुमार पांडेया व सौरभ पांड्या, द्वितीय शांति धारा विजय कुमार जैन पारस स्टेशनरी, तीसरी शांति धारा अतुल कुमार जैन व अर्पित जैन लुहाडिया परिवार और चौथी शांतिधारा कपिल अग्रवाल व अध्ययन अग्रवाल गायत्री इंडस्ट्रीज के परिवार ने की। पांचवी शांति जतिन जैन व अर्पित जैन जैन ने परी की। सुरेश जैन ने कहा कि भौतिक सुखाें का त्याग ही उत्तम ब्रह्मचर्य है। सभी को अपने से बड़ों का आदर-सम्मान करना चाहिए। माता-पिता, सास-बहू की सेवा करनी चाहिए।

निर्वाण कांड पढ़कर लाडू चढ़ाया गया

इसी क्रम में आज वासुपूज्य भगवान का मोक्ष कल्याणक था, इस उपलक्ष्य में निर्वाण कांड पढ़कर लाडू चढ़ाया गया। श्राबक- श्रावकायों ने पूजन पाठ किया। शाम को तत्वार्थ सूत्र एवं भक्तामर का पाठ किया गया। उसके पश्चात कलश हुए। प्रथम स्वर्ण कलश अदन जैन, द्वितीय स्वर्ण कलश बरखा सलोनी, लहर झरना पाटनी परिवार द्वारा हुआ। तीसरा स्वर्ण कलश कैलाश चंद जैन व गौरव जैन सोनल लाक द्वारा हुआ। चतुर्थ स्वर्ण कलश शीतल जैन- शशांक जैन छाबड़ा परिवार ने किया। इसी क्रम में प्रथम रजत कलशर्श्री अशोक दोषी, द्वितीय रजत कलश स्व. देवेंद्र कुमार जैन परिवार व तीसरा रजत कलशर्श्री मिलाप चंद जैन लुहाडिया परिवार द्वारा हुआ। चाैथा रजत कलर्स अनिल दोषी परिवार द्वारा हुआ।

सांस्‍कृतिक कार्यक्रमो का आयोजन

शाम को भजन संध्या के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। जिन आस्था मंडल द्वारा भक्ति से भरपूर भजन की प्रस्तुति दी। प्रायोजक अनिल जैन दोषी व निशांत जैन दोषी परिवार ने भजन प्रस्तुत करने वालों को पुरस्कार दिया। कुछ श्रावकायो ने तीन दिन निर्जल व्रत कर तेला किया। प्रथम सुमन जैन पत्नी राजीव जैन मथुरा वाले, दूसरी विजय जैन की पुत्र वधू आयुषी जैन व तीसरी साक्षी जैन पुत्री विनोद कुमार जैन हिंदुस्तान इलेक्ट्रिकल जिन का उद्यापन सोमवार को सुबह आठ बजे श्री लखमी चंद पांडेय खंडेलवाल मंदिर परिसर से होगा। इस मौके पर श्री पारसनाथ दिगंबर जैन खंडेलवाल पंचायत मंदिर की कमेटी व कैलाश जैन, ओम प्रकाश जैन, विजय जैन, मुनेश जैन, अभिनव जैन, प्रियंका जैन, राजीव जैन, संजीव जैन, राजीव पाटनी, सुरजीत पाटनी, भारत पाटनी, प्रवीण लुहाडिया, अतुल जैन, नरेंद्र कुमार जैन, धर्मेंद्र कुमार जैन, मनोज जैन, सुरेश कुमार जैन, मुकेश जैन, सरिता जैन, मीना जैन, शेफाली जैन, नीरू पाटनी, सीमा पारस, रंजू जैन, गरिमा जैन, चारू जैन, एकता जैन आदि ने बढ़-चढ़कर भाग लिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.