गुजरात जाने के लिए निकले निजी कंपनी के कर्मचारी का शव रेलवे ट्रैक पर मिला

इगलास के गांव करूआ निवासी युवक गुजरात के जैसलमेर में एक निजी कंपनी में बतौर कर्मचारी तैनात था। रविवार की देर शाम को वो गुजरात जाने के लिए घर से निकला। रविवार की तड़के कोतवाली हाथरस गेट के हतीसा भंगवतपुर के निकट युवक का शव रेलवे ट्रेक पर पड़ा मिला।

Anil KushwahaPublish:Mon, 29 Nov 2021 04:08 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 04:52 PM (IST)
गुजरात जाने के लिए निकले निजी कंपनी के कर्मचारी का शव रेलवे ट्रैक पर मिला
गुजरात जाने के लिए निकले निजी कंपनी के कर्मचारी का शव रेलवे ट्रैक पर मिला

हाथरस, जागरण संवाददाता। इगलास के गांव करूआ निवासी युवक गुजरात के जैसलमेर में एक निजी कंपनी में बतौर कर्मचारी तैनात था। रविवार की देर शाम को वो गुजरात जाने के लिए घर से निकला। रविवार की तड़के कोतवाली हाथरस गेट के हतीसा भंगवतपुर के निकट युवक का शव रेलवे ट्रेक पर पड़ा मिला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

गुजरात के जैसलमेर में करता था नौकरी

गांव करूआ निवासी 32 वर्षीय हरेंद्र गुजरात के जैसलमेर में नौकरी करता था। रविवार सुबह उसका शव हतीसा भंगवतपुर के निकट रेलवे ट्रैक पर पड़ा मिलने की सूचना पर परिवार में हाहाकार मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही शव मिलने की सूचना पर स्वजन कोतवाली हाथरस गेट पर पहुंच गए। स्वजन ने पुलिस को लिखकर दिया कि रविवार की शाम को नौकरी पर जाने की बात कहकर हरेंद्र निकला था। मृतक को नशा करने का शौंक था। नशे की हालत में वो ट्रेन से गिर गया होगा,जिससे उसकी मौत हो गई।

फंदे पर लटककर दी जान

सासनी के गांव लुटसान में रविवार रात को एक 20 वर्षीय युवक मामुद्दीन ने फंदे पर लटककर अपनी जान दे दी। युवक के आत्महत्या कर लिए जाने की सूचना पर पुलिस गांव पहुंच गई। शव को फंदे से उतारकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। युवक की मौत से परिवार में हाहाकार मच गया। काफी प्रयास करने के बाद भी पुलिस यह जानकारी नहीं कर पाई कि आखिरकार किस कारण से युवक ने फंदे पर लटककर अपनी जान दी।