पूरब में प्रयागराज तो मथुरा से पश्‍चिम का सियासी समीकरण साधेंगी प्रियंका Aligarh news

23 फरवरी को मथुरा में आयोजित रैली में शामिल होंगी प्रियंका।

उततर प्रदेश में सियासी जमीन तलाश रही कांग्रेस अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में पूरे दमखम से उतरेगी। पूरब में प्रयागराज से सियासी समीकरण साधने की कवायद शुरू हुई है तो पश्मिच में मथुरा से इसका आगाज होगा।

Anil KushwahaSun, 21 Feb 2021 08:05 AM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन :  सूबे में सियासी जमीन तलाश रही कांग्रेस अगले साल विधानसभा चुनाव में पूरे दमखम से उतरेगी। पूरब में प्रयागराज से सियासी समीकरण साधने की कवायद शुरू हुई है तो पश्‍चिम में मथुरा से इसका आगाज होगा। 23 फरवरी को मथुरा में आयोजित किसान चौपाल में अलीगढ़ से लेकर आगरा और बरेली से लेकर बदायूं तक के नेताओं व कार्यकर्ताओं को बुलाया गया है। इसमें संगठन के परख तो होगी ही, विधानसभा चुनाव में दावेदारों की फीडबैक भी ली जाएगी। भले ही इस रैली को किसान चौपाल का नाम दिया गया हो, मगर हाईकमान की नजर युवाओं पर होगी।  

19 को होना था कार्यक्रम 

पूर्व में यह कार्यक्रम 19 फरवरी को होना था, मगर पिछले दिनों पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन सतीश शर्मा की कैंसर से मौत के बाद स्थगित कर दिया गया। कांग्रेस की पूर्व प्रदेश महासचिव रूही जुबैरी ने बताया कि अब यह कार्यक्रम 23 फरवरी को मथुरा के सांख रोड पालीखेड़ा में होना निश्चित हुआ है, इसमें प्रियंका गांधी शामिल होंगी। प्रदेशाध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सभी वरिष्ठ नेताअों, प्रदेश पदाधिकारियों, जिला-शहर कमेटियों के समस्त अध्यक्ष व कार्यकर्ताओ को किसान चौपाल में पहुंचने का आह्वान किया है। पार्टी नेताओं को लिखे पत्र में कहा है कि इस कार्यक्रम को सफल बनाना हम सबका दायित्व है। सभी से आग्रह है कि अपने अधिक से अधिक साथियों के साथ पहुंचकर इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना योगदान दें। 

किसान चौपाल में ताकत दिखाएगी कांग्रेस 

अलीगढ़, हाथरस, एटा, कासगंज, मथुरा, आगरा, फीरोजाबाद, गौतमबुद्धनगर, इटावा, औरेया, फर्रूखाबाद, कन्नौज, बुलंदशहर, बरेली, बदायूं के पार्टी नेताओं, पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को खासतौर से बुलाया गया है। इससे साफ है कि किसान चौपाल में भीड़ जुटाकर कांग्रेस अपनी ताकत का प्रदर्शन भी करेगी। भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में किसान चौपाल करके कांग्रेस की ओर से उसके अध्यात्मिक लगाव का संदेश दिया जाएगा। प्रिंयका गांधी लोगों का ध्यानाकर्षण के लिए साधु-संतों से मिलेंगे। यमुना के भी दर्शन करने जाएंगी।  

अलीगढ़ से 100 बस का दावा 

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष चौ. सुरेंद्र सिंह ने कहा कि यह रैली एतिहासिक होगी। इसमें समाज का वह वर्ग, जो सरकार की नीतियों से त्रस्त है शामिल होकर सरकार के खिलाफ हुंकार भरेगा। अलीगढ़ से कम से कम 100 बसों में कार्यकर्ता जाएंगे। मथुरा जाने की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.