डा. रवींद्र भ्रमर की 23वीं पुण्यतिथि पर अलीगढ़ में काव्य संध्या, टीकाकरण भी

अलीगढ़ जागरण संवाददाता। नव गीतकार डा. रवींद्र भ्रमर की 23वीं पुण्यतिथि पर आनंदवर्धन निज निवास शाकुंतलम मैरिस रोड पर आज एक काव्य- संध्या का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम शिखर संस्था के सौजन्य से आयोजित होगा।

Anil KushwahaPublish:Sun, 28 Nov 2021 06:10 AM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 06:29 AM (IST)
डा. रवींद्र भ्रमर की 23वीं पुण्यतिथि पर अलीगढ़ में काव्य संध्या, टीकाकरण भी
डा. रवींद्र भ्रमर की 23वीं पुण्यतिथि पर अलीगढ़ में काव्य संध्या, टीकाकरण भी

अलीगढ़, जागरण संवाददाता।  नव गीतकार डा. रवींद्र भ्रमर की 23वीं पुण्यतिथि पर आनंदवर्धन निज निवास, शाकुंतलम, मैरिस रोड पर आज एक काव्य-संध्या का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम शिखर संस्था के सौजन्य से आयोजित होगा। इसमें कवि अशोक अंजुम, हरीश बेताब, डा. मुजीब शहजर, नरेंद्र शर्मा नरेंद्र, नितिन नायाब, भारती शर्मा, दौलत राम शर्मा, सुधांशु गोस्वामी आदि शामिल होंगे।

अलीगढ़ में युद्धस्‍तर पर चल रहा टीकाकरण अभियान 

जिले में टीकाकरण अभियान युद्धस्तर पर चल रहा है। रोजाना 300-350 बूथों पर लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। रविवार को सभी सरकारी अस्पतालों व स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोनारोधी टीकाकरण किया जाएगा। सीएमओ डा. आनंद उपाध्याय ने बताया कि वर्तमान में तीन समूहों-18 से 44 वर्ष, 45 से 60 वर्ष व 60 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके लोगों का ही टीकाकरण किया जा रहा है। अब टीका लगवाने के लिए लाभार्थी को कोविड पोर्टल पर पहले से रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं है। वे नजदीकी केंद्र पर सीधे पहुंचकर भी रजिस्ट्रेशन कराकर टीका लगवा सकते हैं।

स्‍पाट रजिस्‍ट्रेशन की व्‍यवस्‍था

स्टाफ पहले रजिस्ट्रेशन करेगा, फिर स्लाट तय करके टीका लगा देगा। साथ में आधार कार्ड व मोबाइल नंबर साथ में रखें। जिला अस्पताल, महिला अस्पताल, दीनदयाल अस्पताल, मेडिकल कालेज, सभी सीएचसी, पीएचसी, अर्बन पीएचसी के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में बूथ लगाए जा रहे हैं। राशन की दुकानों पर भी टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। जो लोग शारीरिक समस्या के चलते बूथ तक नहीं पहुंच रहे टीमें उनके पास खुद पहुंच रही हैं, या फिर गाड़ी भेजकर उन्हें केंद्रों पर लाया जा रहा है। रविवार को अवकाश में काफी लोग घर पर ही रहेंगे, इसलिए 50 से अधिक बूथों पर टीकाकरण का प्लान बनाया गया है।