Poisonous Liquor Scandal : शराब माफिया अनिल चौधरी की साढ़े पांच करोड़ की संपत्ति जब्त करने के आदेश Aligarh news

जहरीली शराब प्रकरण में संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई में पुलिस को पहली शुरू कर दी है। इसमें एसएसपी कलानिधि नैथानी ने शनिवार को प्रकरण में कार्रवाई की समीक्षा की। इसमें शराब माफिया अनिल चौधरी की पांच करोड़ 30 लाख की संपत्ति जब्त करने के आदेश दिए गए हैं।

Anil KushwahaSun, 25 Jul 2021 05:39 AM (IST)
जहरीली शराब प्रकरण में संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई में पुलिस को पहली शुरू कर दी है।

अलीगढ़, जेएनएन । जहरीली शराब प्रकरण में संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई में पुलिस को पहली शुरू कर दी है। इसमें एसएसपी कलानिधि नैथानी ने शनिवार को प्रकरण में कार्रवाई की समीक्षा की। इसमें शराब माफिया अनिल चौधरी की पांच करोड़ 30 लाख की संपत्ति जब्त करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही हर हफ्ते दो मामलों में इसी तरह जब्तीकरण की कार्रवाई करने को कहा। एसएसपी हर शनिवार कार्रवाई की समीक्षा करेंगे। साथ ही सीओ को हर दिन समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं।

57 दिन में सभी मुकदमों में चार्जशीट लगी

शराब प्रकरण में 57 दिन के अंदर सभी 33 मुकदमों में चार्जशीट लग चुकी हैं। इसमें मौत से संबंधित 13 मुकदमे थे, जबकि अवैध फैक्ट्रियों से बरामदगी के आधार पर 20 मुकदमे लिखे गए। छह टीमों ने लगातार काम किया। नतीजतन 86 आरोपित पकड़े गए। अब संपत्ति जब्तीकरण के क्रम में पहली सफलता भी मिल गई है। इसके तहत अनिल चौधरी की पांच करोड़ 30 लाख की चल संपत्ति जब्त की जाएगी। इसे लेकर शनिवार को एसएसपी कलानिधि नैथानी ने पुलिस लाइन सभागार में बैठक के दौरान गैंगस्टर अधिनियम की पांच विवेचनाओं के संबंध में जब्तीकरण की कार्रवाई की समीक्षा की। चार अन्य मामलों में भी दो दिन के अंदर गैंगस्टर के तहत चार अतिरिक्त मुकदमे दर्ज करने के आदेश दिए। कहा कि हर सप्ताह कम से कम दो मामलों में जब्तीकरण की कार्रवाई करें। यह सिलसिला रविवार से ही शुरू होगा। एसएसपी ने बताया कि पांच अन्य अपराधियों समेत एक दर्जन और अपराधियों को माफिया घोषित कराने के आदेश दिए गए हैं। इनमें मदन गोपाल, विजेंद्र कपूर, गंगाराम प्रधान, दिलीप उर्फ छोटू व अनिल डिबाई आदि शामिल हैं। एसएसपी ने कहा कि अब संपत्ति जब्तीकरण पर पूरा फोकस है। इसमें लगातार कार्रवाई होगी।

17 की हिस्ट्रीशीट खुली, 20 के आदेश

चार्जशीट किए गए 17 आरोपितों की हिस्ट्रीशीट खुल चुकी है। वहीं एसएसपी ने 30 अन्य आरोपितों की हिस्ट्रीशीट खोलने के आदेश दिए हैं, ताकि ताउम्र उनकी निगरानी हो सके। हर गैंग का गैंगस्टर अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराने के साथ अलग से गैंग पंजीकृत करने को कहा, जिससे कि गैंग अलग नाम पाकर रिकार्ड में दशकों तक जाना जाए। बैठक में ज्वाइंट डायरेक्टर प्रासीक्यूशन समेत सभी एडिशनल एसपी व क्षेत्राधिकारी मौजूद थे।

अब तक हुई बरामदगी

पुलिस ने अलग-अलग आरोपितों को कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की और बरामदगी करवाई। अब तक गुरुग्राम समेत कुल पांच अवैध शराब फैक्ट्रियां पकड़ी गईंं। 7505 लीटर अवैध शराब, 9366 ढक्कन, 4672 रैपर, 10 हजार 202 क्यूआर कोड, एक हजार लीटर से अधिक स्प्रिट, ढाई सौ से अधिक पेटी पैंकिग कार्टून सहित, छह वाहन, 9100 प्रीफोम (मोल्डिंग इंजेक्शन), 24 हजार 95 पव्वे बरामद किए गए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.