टेली काउंसिलिंग सेवा के माध्यम से मुस्कुराहट लाएगी एनएसएस, जानिए कैसे Aligarh News

स्वयं सेवक क्षेत्रों में जाकर जनजागरूकता फैलाने से कभी पीछे नहीं रहते हैं।

राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के स्वयं सेवक समाज में विभिन्न कामों व क्षेत्रों में जन जागरूकता के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। कोई आपदा हो या कोरोना महामारी का दौर ये स्वयं सेवक क्षेत्रों में जाकर जनजागरूकता फैलाने से कभी पीछे नहीं रहते हैं।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 14 May 2021 10:59 AM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन। राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के स्वयं सेवक समाज में विभिन्न कामों व क्षेत्रों में जन जागरूकता के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। कोई आपदा हो या कोरोना महामारी का दौर ये स्वयं सेवक क्षेत्रों में जाकर जनजागरूकता फैलाने से कभी पीछे नहीं रहते हैं। यहां तक कि केंद्र सरकार के स्वच्छ भारत मिशन के तहत इन स्वयं सेवकों ने गली-मोहल्लों में सफाई अभियान चलाकर लोगों को प्रेरित किया। अब राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने नई जिम्मेदारी भी उठाने के लिए कदम बढ़ा दिए हैं। अब एनएसएस टेली काउंसिलिंग के जरिए लोगों के चेहरे पर मुस्कुराहट लाएगी। साथ ही लोगों का मानसिक तनाव दूर करने में भी सहायता करेगी।

एनएसएस  के स्‍वयंसेवकों को नई जिम्‍मेदारी

राष्ट्रीय सेवा योजना, उत्तरप्रदेश और यूनिसेफ की ओर से "मुस्कुराएगा इंडिया" अभियान के तहत बच्चों, युवाओं व जनसाधारण का मानसिक तनाव कम करने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। यह जानकारी डीएस डिग्री कालेज की एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी व डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा की जनसंपर्क अधिकारी डा. सुनीता गुप्ता ने दी। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तरप्रदेश में मुस्कुराएगा इंडिया टेली काउंसिलिंग सेवा शुरू की जा रही है। जिस पर किसी भी समय काल रजिस्टर की जा सकती है। सूचना प्राप्त होने के बाद उत्तरप्रदेश के समस्त विश्वविद्यालयों से प्रशिक्षित परामर्शदाता हेल्पलाइन नंबर 6390905002 के माध्यम से सोमवार से शनिवार दोपहर 3:00 से 7:00 बजे के बीच टेलिफोनिक जुड़ेंगे। इस महामारी में विभिन्न तरह की समस्याओं से ग्रसित लोगों में नकारात्मकता पनप रही है। जिससे वे लोग और अधिक तनाव ग्रस्त हो रहे हैं। सभी को तनाव मुक्त करने के लिए साइको-सोशल काउंसिलिंग की जाएगी।

 24 घंटे व सातों दिन तत्पर होंगे स्‍वयं सेवक

 प्रदेश में प्रशिक्षित परामर्शदाताओं के माध्यम से समस्त समस्याओं के निदान के लिए उचित मार्गदर्शन करेंगे। साथ ही कोविड की दूसरी लहर से निपटने के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना ने प्रदेश स्तर के साथ अलग-अलग जनपद में एक्शन ग्रुप के माध्यम से खाद्य सामग्री आपूर्ति, दवा वितरण, बेड की उपलब्धता, आक्सीजन की उपलब्धता, प्लाज्मा एवं रक्तदान के साथ साइको-सोशल काउंसिलिंग में मदद के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना के पूर्व एवं वर्तमान स्वयंसेवकों के माध्यम से सशक्त नेटवर्क तैयार किया है। जो इस महामारी में 24 घंटे व सातों दिन तत्पर होंगे। अलीगढ़ से काउंसलर डा. सुनीता गुप्ता, डा. नीता वाष्र्णेय, डा. तनु वाष्णेय, डा. केके सिंह, डा. राजीव कुमार शर्मा, डा. कृष्ण कुमार सिंह नामित किए गए हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.