CM Yogi Project: राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय की डिजाइन का होगा विस्तार Aligarh News

राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय का भवन जितना बाहर से भव्य होगा उतना ही अंदर से विशाल होगा। इसके लिए अब भवन की डिजाइन को विस्तार दिया जाएगा। अब तक जो डिजाइन बनी थी वो विवि के द्वार और प्रमुख भवनों की बनी थी।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 19 Sep 2021 07:25 AM (IST)
राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय का भवन भव्य होगा।

अलीगढ़, राज नारायण सिंह। राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय का भवन जितना बाहर से भव्य होगा, उतना ही अंदर से विशाल होगा। इसके लिए अब भवन की डिजाइन को विस्तार दिया जाएगा। अब तक जो डिजाइन बनी थी वो विवि के द्वार और प्रमुख भवनों की बनी थी। शिलान्यास के बाद निर्माण की तैयारियां तेज हो गई हैं। एक अक्टूबर से निर्माण कार्य में तेजी लाई जाएगी, जिसे जनवरी 2023 तक पूरा किया जाना है।

राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्‍य यूनिवसिर्टी 

लोधा ब्लाक के गांव मूसेपुर में विश्वविद्यालय का शिलान्यास पीएम नरेन्द्र मोदी ने 14 सितंबर को किया था। सीएम योगी आदित्यनाथ विवि का निर्माण समय से पूरा कराना चाहते हैं। इसके चलते पीडब्ल्यूडी सतर्क है। विभाग भी जल्द कार्य शुरू कराने की तैयारी में है। शिलान्यास समारोह के लिए लगाया गया टेंट आदि का सामान 25 सितंबर तक हटा दिया जाएगा। हिसार की ईश्वर सिंह एसोसिएट एंड कंस्ट्रशन प्राइवेट लि. कंपनी विवि के भवन का निर्माण करेगी। भवन की डिजाइन नागर शैली में बनाई गई है, जिस पर सीएम योगी आदित्यनाथ मोहर लगा चुके हैं। इसमें प्रशासनिक भवन, छात्रावास, स्टेडियम और पुलिस चौकी आदि थी। अब इसमें विभिन्न संकायों के भवन, सड़कें आदि डिजाइन में शामिल किए जाएंगे। इसमें साइंस, कामर्स और आट्र्स आदि संकाय के भवन होंगे। आधुनिक शिक्षा के प्रमुख केंद्र के रूप में भी विवि को देखा जा रहा है, इसलिए यहां पर विदेशी भाषाओं की भी पढ़ाई होगी। इनके भवनों का भी निर्माण कराया जाएगा।

नोएडा की कंपनी बनाएगी विस्तारित डिजाइन

विश्वविद्यालय में एमबीए, एमसीए आदि के भी कोर्स होंगे। साथ ही डिफेंस से संबंधित तमाम डिप्लोमा, डिग्री के कोर्स चलाए जाएंगे। इसके लिए भवन बनने हैं। ये भवन परिसर में किन-किन स्थानों पर बनेंगे, कितनी दूरी पर होंगे, इनकी गैलरी कैसी होगी, पार्क आदि कहां होंगे? यह सब विस्तारित डिजाइन में होगा। कैंटिन, मेडिकल सुविधा आदि के भवनों का भी निर्माण कराया जाएगा। विस्तारित डिजाइन में विवि में यह भी होगा कि कितनी सड़कें निकाली जाएंगी, हास्टल कहां-कहां होंगे। डिजाइन नोएडा की कंपनी डिजाइन एसोसिएट इनकारपोरेट आॢकटेक्चर तैयार करेगी।

देशी पौधों से ढका होगा परिसर

विवि परिसर में देशी पौधों को लगाने पर जोर दिया जाएगा, जो पर्यावरण के लिए सहायक हों। इसलिए परिसर में एक दर्जन से अधिक निकाली जाने वाली सड़कों के चारों तरफ छायादार वृक्ष होंगे। इसमें अशोक, आंवला, कदम आदि के पेड़ लगाए जाएंगे।

शिलान्यास का पत्थर हटाया

पीएम ने जिस पत्थर का शिलान्यास के समय अनावरण किया था, उसे सुरक्षा की दृष्टि से हटवा दिया गया है। यह पत्थर ठीक मंच के सामने था। पीएम के कार्यक्रम के बाद से पूरा परिसर खाली हो गया है। पत्थर कहीं क्षतिग्रस्त न हो जाएं, इसलिए उन्हेंं खुले मैदान से हटवा कर सुरक्षित स्थान पर रखवा दिया गया है।

विवि के निर्माण को लेकर एजेंसी को निर्देशित कर दिया गया है। एक अक्टूबर से कार्य तेज हो जाएगा। पूरी कोशिश होगी कि हम भवन का निर्माण समय से पूरा करा दें, जिससे शिक्षण कार्य प्रारंभ हो सके।

एमएच सिद्दीकी, मुख्य अभियंता, पीडब्ल्यूडी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.