अब चुनावी ड्यूटी कटवाना होगा मुश्किल, कर्मचारियों का डाटा एकत्रित करने में छूट रहे पसीने Aligarh News

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने पहली बार एक साथ चुनाव कराने का फैसला लिया है।चुनाव होते थे।

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने पहली बार एक साथ चुनाव कराने का फैसला लिया है। ऐसे में अब प्रशासन की तरफ से एक साथ इतने कर्मचारियों की व्यवस्था करने में पसीने छूट रहे हैं। अब तक ब्लाक वार चार चरणों में अलग-अलग चुनाव होते थे।

Sandeep kumar SaxenaWed, 24 Feb 2021 11:48 AM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन। राज्य निर्वाचन आयुक्त ने पहली बार एक साथ चुनाव कराने का फैसला लिया है। ऐसे में अब प्रशासन की तरफ से एक साथ इतने कर्मचारियों की व्यवस्था करने में पसीने छूट रहे हैं। अब तक ब्लाक वार चार चरणों में अलग-अलग चुनाव होते थे। इसी हिसाब से प्रशासन ने 20 हजार कर्मचारियों की व्यवस्था की थी, लेकिन इस बार एक साथ चुनाव होंगे। ऐसे में इस बार अतिरिक्त कर्मचारियों की व्यवस्था करनी होगी। करीब 28 से 30 हजार तक कर्मचारी लगेंगे। ऐसे में इनते कर्मियों का नाम एकत्रित करने में पसीने छूट रहे हैं। वहीं, अब चुनाव से ड्यूटी कटवाना भी काफी मुश्किल होगा। डीएम की तरफ से स्पष्ट आदेश हैं कि इमरजेंसी होने पर ही ड्यूटी कटेगी। 

 30 हजार कर्मचारियों की जरूरत 

जिले में कुल 12 ब्लाक हैं। अब तक इन सभी ब्लाकों में अलग-अलग पंचायत चुनाव हाेते थे। ऐसे में ब्लाकवार कर्मचारियों की ड्यूटी लगती थी। अब तक इसी हिसाब से तैयारी चल रही थी। प्रशासन की तरफ से कुल 20 हजार कर्मियों का डाटा एकत्रित हुआ था, लेकिन अब पहली बार  राज्य निर्वाचन आयोग ने एक साथ जिले में चुनाव कराने का फैसला लिया है। ऐसे में अब अतिरिक्त कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी। इसी के चलते प्रशासन के हाथ पैर फूल रहे हैं। करीब 30 हजार कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी। 

दूसरे जिले के भी कर्मचारी बुलाए जाएंगे : इस बार आयोग विधानसभा चुनाव की तर्ज पर चुनाव कर सकता है। इसमें अगर किसी जिले में कर्मचारियों व पुलिस कर्मियों की संख्या कम है तो दूसरे जिलों से पूर्ति कराई जाएगी। ऐसे में प्रशासन पहले अपने जिले से कर्मचारियों का डाटा एकत्रित कर रहा है। 

-

यह है जिले की स्थिति 

867 ग्राम पंचायत

10973 ग्राम पंचायत वार्डों की संख्या

47 जिला पंचायत वार्डों की संख्या

1126 क्षेत्र पंचायत वार्डों की संख्या

1375 मतदान केन्द्र

2883 मतदान स्थल

1801575 मतदाता

अब तक 20 हजार कर्मचारियों का डाटा एकत्रित हो चुका है, लेकिन अब एक साथ चुनाव होंगे। ऐसे में अतिरिक्त कर्मचारियों का डाटा भी जल्द अपलोड हो जाएगा। 

कौशल कुमार, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.