बदमाश बोला- कोई सामने आए तो गोली मार देना, सोचना मत Aligarh News

पुलिस देररात तक बदमाशों की तलाश में काम्बिंग कर रही थी।

पिसावा कस्बे में सराफा कारोबारी से पांच की लूट करने वाले बदमाश पूरी तैयारी के साथ आए थे। घटना को देखते हुए स्पष्ट है कि बदमाशों ने पहले रैकी कर रखी थी। उन्हें पता था कि कारोबारी कब और कहां से दुकान से घर लौटते थे।

Sandeep kumar SaxenaThu, 25 Feb 2021 08:14 AM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन। पिसावा कस्बे में सराफा कारोबारी से पांच की लूट करने वाले बदमाश पूरी तैयारी के साथ आए थे। घटना को देखते हुए स्पष्ट है कि बदमाशों ने पहले रैकी कर रखी थी। उन्हें पता था कि कारोबारी कब और कहां से दुकान से घर लौटते थे। वहीं बदमाश को लोगों ने भागते हुए देखा था। इनमें एक बदमाश ने ये तक कहा कि कोई सामने आए तो गोली मार देना, सोचना मत। पुलिस देररात तक बदमाशों की तलाश में काम्बिंग कर रही थी। सीसीटीवी में भी बदमाश ट्रेस हो गए हैं। 
पिसावा कस्बे में रहने वाले राजा का कस्बे में ही डाकघर के पास राजा ज्वेलर्स के नाम से शोरूम है। घर और दुकान के बीच करीब पांच सौ मीटर की दूरी है। शोरूम पर बेटा अजय वर्मा व उसका साला टीनू वर्मा बैठते हैं।
ऐसे की थी बदमाशों ने लूट
 बुधवार शाम सवा सात बजे अजय व टीनू रोज की तरह शोरूम को बंद करके पैदल ही घर लौट रहे थे। सौ मीटर दूर एक गली में सन्नाटे में पांच से सात हथियारबंद बदमाशों ने रोक लिया। बैग छीनने का प्रयास किया। विरोध करने पर पिस्टल तान दी और बैग छीनकर ले गए। बैग में पांच लाख रुपये नकद व तिजोरियों की चाबी थीं। बदमाश पैदल ही कुछ दूर निकले तो युवकों ने शोर मचाया। अजय ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से बदमाशों की ओर फायरिंग भी की। फायरिंग की आवाज से आसपास के दुकानदार इकट्ठा हुए। लेकिन, तब तक बदमाश भाग चुके थे। आसपास के लोगों के मुताबिक, बदमाश एक स्कार्पियो में आए थे। ड्राइवर कार में बैठा था। जबकि पांच-सात बदमाश बाहर निकल गए। घटना को अंजाम देकर स्कार्पियो से ही फरार हो गए।  दरअसल, अजय वर्मा अपने साले चीनू के साथ रोजाना शाम को ही घर लौटते हैं। रास्ते में एक गली ऐसी पड़ती है, जहां सन्नाटा रहता है। बदमाशों ने इसी गली को वारदात करने के लिए चुना। इसीलिए स्कीर्पियो को दूर खड़ा कर दिया। वहां से पैदल आए और लूट करके भाग गए। ड्राइवर को कार में ही छोड़ दिया था, ताकि भागने के दौरान वह तैयार रहे। 
बदमाश हथियारों से लैस थे
बदमाश हथियारों से लैस थे। लेकिन, फायरिंग नहीं की। जब उन्होंने हथियार दिखाए तो अजय ने बैग दे दिया। फिर बदमाश जब भागने लगे तो पीछा भी किया। करीब 30 मीटर दूरी से फायरिंग भी की। इसके बाद अन्य दुकानदार इकट्ठा हुए। लोगों ने बताया कि एक कार खड़ी थी। लेकिन, ये जानकारी नहीं थी कि इसी में बदमाश आए हैं। सीओ इगलास मोहसिन खान का कहना है कि बदमाशों ने सन्नाटे का फायदा उठाकर वारदात को अंजाम दिया। कारोबारी ने फायरिंग की, जिसके बाद लोगों को घटना की जानकारी हुई। आसपास के लोगों ने बताया है कि बदमाश स्कार्पियो में आए थे। सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है।
व्यापारियों में रोष

कस्बे के भीड़भाड़ वाले स्थान पर दिन छिपते ही हुई लूट व फायरिंग की घटना से व्यापारियों में रोष है। व्यापार मंडल के महामंत्री निरंजन लाल गुप्ता ने बताया कि इस घटना से व्यापारियों को सुरक्षा की चिंता सताने लगी है।

 
बाइक सवारों ने तमंचे के बल महिला से बैग लूटा
अलीगढ़ : सिविल लाइन थाना क्षेत्र के टेलीफोन एक्सचेंज के सामने बुधवार रात को बाइक सवार बदमाशों ने तमंचे के बल पर महिला से बैग लूट लिया। महिला अपनी दो बेटियों के साथ टिर्री से घर लौट रही थी। तुर्कमान गेट निवासी बुशरा जेएन मेडिकल कालेज के वार्ड नंबर 35 में भर्ती हैं। बुधवार शाम को उनकी मां सुरैया व दो बहनें हिना व इकरा अजीज खाना देने मेडिकल आई थीं। रात करीब साढ़े नौ बजे टिर्री से तीनों लौट रही थीं। टेलीफोन एक्सचेंज के सामने बाइक सवार दो युवक आए। एक युवक ने तमंचा दिखाया, जबकि दूसरे ने बैग झपट लिया। बैग में पांच हजार रुपये व जरूरी कागजात थे। इंस्पेक्टर रवींद्र कुमार दुबे ने बताया कि बदमाशों की तलाश की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.