राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता बोले, सभी ईमानदारी से जिम्मेदारी निभाएं तब देश बनेगा विश्वगुरु Aligarh News

अलीगढ़ (जेएनएन) : श्री वाष्र्णेय (एसवी) डिग्री कॉलेज में नवनिर्मित अत्याधुनिक 'शेखर सर्राफ सभागार' का उद्घाटन मंगलवार को मुख्य अतिथि नगरीय विकास राज्यमंत्री (यूपी) महेशचंद्र गुप्ता ने फीता काटकर किया। 50 साल से ज्यादा पुरानी व जर्जर बिल्डिंग की जगह विद्यार्थियों के लिए वातानुकूलित व प्रोजेक्टर से लैस सभागार खुल गया।

ईमानदारी से पूरा करें सभी कार्य

मुख्य अतिथि गुप्ता ने कहा कि जिसकी जो जिम्मेदारी बनती है अगर उसको वो व्यक्ति या समाज ईमानदारी से पूरा करे तो राष्ट्र को विश्वगुरु बनने से कोई नहीं रोक सकता। वाष्र्णेय समाज ने विद्यार्थियों व समाज के लिए सभागार देकर अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया है।

राज्यमंत्री का किया सम्मान

उद्घाटन समारोह में छात्र-छात्राओं ने रंगारंग व सांस्कृति कार्यक्रमों पर नृत्य की प्रस्तुतियों से अतिथियों का स्वागत किया। एसवी कॉलेज प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष दिनेश कुमार ने राज्यमंत्री को सम्मानित किया। मुख्य अतिथि समेत शहर विधायक संजीव राजा, कोल विधायक अनिल पाराशर, छर्रा विधायक रवेंद्र पाल सिंह, पूर्व मेयर शकुंतला भारती, समिति अध्यक्ष शेखर सर्राफ व प्राचार्य डॉ. पंकज वाष्र्णेय ने दीप प्रज्वलन कर समारोह का शुभारंभ किया। संचालन डॉ. तनु वाष्र्णेय ने किया।

नए सभागार में सेमिनार व कार्यशाला 

प्राचार्य ने कहा कि नए सभागार में विद्यार्थियों के सेमिनार, कार्यशालाएं व कार्यक्रम कराए जाएंगे। पुराने रघुनाथ भवन का भी जीर्णोद्धार कराकर आधुनिक रूप में लाया जाएगा।

कंट्रोलर नहीं समिति करती विकास 

समिति अध्यक्ष ने राज्यमंत्री के सामने कहा कि सरकार को ऐसे हर संस्थान में प्रबंध समिति को लाना चाहिए जहां कंट्रोलर तैनात हैं। प्रबंध समिति ही विकास कर सकती है न कि कंट्रोलर।

सोलर प्लांट लगवाने का करेंगे प्रयास

शहर विधायक ने कहा कि एसवी कॉलेज ने समाज के लिए सभागार का निर्माण कराकर मिसाल पेश की है। 1984 में उन्होंने यहीं से ग्रेजुएशन व लॉ किया है। वे सभागार के लिए सोलर प्लांट लगवाने का प्रयास करेंगे। अब कॉलेज में काफी सुविधाएं विशिष्ट अतिथि दैनिक जागरण के संपादकीय प्रभारी व कॉलेज के पूर्व छात्र अवधेश माहेश्वरी ने अपने छात्र जीवन के पलों को विद्यार्थियों से साझा किया। बताया कि 1991 में उन्होंने एसवी कॉलेज से बीएड किया था। तब आगरा से रोज वे यहां पढऩे आते थे। तब ई-लाइब्रेरी, आधुनिक सभागार, सीसी टीवी कैमरे, कंप्यूटर कक्ष नहीं थे। बदलते दौर में कॉलेज काफी सुविधाओं से लैस हो गया है।

सराहना से बढ़ता मनोबल

समिति अध्यक्ष शेखर सर्राफ के बेटे सुमित सर्राफ ने कहा कि राज्यमंत्री ने वाष्र्णेय समाज के प्रयासों की सराहना की। सराहना से मनोबल बढ़ता है। भविष्य में और बेहतर करने की प्रेरणा मिली है।

भाषा व भाषण ने बटोरी तालियां

राज्यमंत्री के चुटकीले भाषण व भाषा पर सभागार में बैठे विद्यार्थियों ने भारत माता के जयकारे लगाकर तालियां बजाईं। राज्यमंत्री ने कहा कि मनमोहन सिंह जब विदेश जाते थे तो विदेश में किसी को पता नहीं चलता था। अब प्रधानमंत्री जाते हैं तो तोपों की सलामी दी जाती है। वहां देश की संस्कृति पहुंच रही है। विदेशी कहते हैं कि, बजरंगबली की प्रतिमा देख उनको शक्ति मिलती है। गौतम बुद्ध को देख शांति मिलती है। ऊॅं उच्चारण व योग से ऊर्जा का संचार होता है। कहा, योग दिवस पर 40 से ज्यादा मुस्लिम देशों में भी योग होता है। कहा, अल्लाहाबाद अब प्रयागराज होए गऔ..., फैजाबाद अयोध्या होए गऔ..., इस पर सभी ने जमकर तालियां बजाईं।

ये रहे मौजूद

समृद्धि टाउनशिप निदेशक सुमित सर्राफ, माहेश्वरी क्रिएटिव क्लब के संरक्षक संजय माहेश्वरी, अमित सर्राफ, पूर्व मेयर सावित्री वाष्र्णेय, सचिव सीए अतुल गुप्ता, मानवेंद्र प्रताप सिंह आदि।

राज्यमंत्री का किया स्वागत

भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ महानगर अध्यक्ष जय गोपाल, शहर विधायक व आशीष वाष्र्णेय, संदीप वाष्र्णेय, संजीव सिंघल, गौरव, आकाश दीप वाष्र्णेय, गिर्राज माहेश्वरी, आकाश कोल, हनी अग्रवाल, आलोक प्रताप सिंह, अंकित अग्रवाल, सुंदर वाष्र्णेय, नीरज व युवा मोर्चा सदस्य कान्हा वाष्र्णेय ने राज्यमंत्री के शहर आगमन पर स्वागत किया।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.