किसानों के मसीहा चौ.अजित को आत्मा की शांति के लिए हवन यज्ञ Aligarh News

किसान-मजदूरों के मसीहा रालोद सुप्रीमो चौ. अजित सिंह के निधन पर कार्यकर्ता शोक में डूबे हुए हैं। शुक्रवार को सिविल लाइन स्थित स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह गेस्ट हाउस में एक हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। आत्मा की शांति के लिए हवन में कार्यकर्ताओं ने आहूतियां दीं।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 07 May 2021 05:34 PM (IST)
किसान-मजदूरों के मसीहा, रालोद सुप्रीमो चौ. अजित सिंह के निधन पर कार्यकर्ता शोक में डूबे हुए हैं।

अलीगढ़, जेएनएन।  किसान-मजदूरों के मसीहा, रालोद सुप्रीमो चौ. अजित सिंह के निधन पर कार्यकर्ता शोक में डूबे हुए हैं। शुक्रवार को सिविल लाइन स्थित स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह गेस्ट हाउस में एक हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। जहां दिवंग छोटे चौधरी की आत्मा की शांति के लिए हवन में कार्यकर्ताओं ने आहूतियां दीं। अपने नेता के गम में कई कार्यकर्ताओं की आंखें तो डबडबा गईं। पूर्व प्रदेश महासचिव अब्दुला शेरवानी ने छोटे चौधरी के प्रति अपनी भावनाओं को इस अंदाज में कहा हज़ारों साल नर्गिस अपनी बे-नूरी पे रोती हैबड़ी मुश्किल से होता है चमन में दीदा-वर पैदा !

किसानों के मसीहा के रूप में जाना जाएगा

पूर्व प्रदेश महासचिव अब्दुला शेरवानी पूर्व के नेतृत्व में हुए इस अनुष्ठान में पूर्व प्रदेश सचिव ,कुलदीप डागुर रणधीर प्रधानव नीरज शर्मा, पूर्व खैर विधानसभा प्रत्याशी ओमपाल सूर्यवंशी, तत्कालीन गोंडा ब्लाक प्रमुखपति बीरपाल सिंह दिवाकर, नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य अमित ठेनुआ व नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य सुलेखा चौधरी के पति चौ.हरचरण सिंह आदि ने दो मिनट का मौन धारण कर दिवंगत आत्मा के लिए शांति के लिए परम पिता परमेश्वर से प्रार्थना की। अब्दुल्ला शेरवानी ने कहा के छोटे चौधरी का जाना एक युग का अंत हो गया। किसान, गरीब, मजदूरों के वह रहनुमा थे। ताउम्र इस तबके लिए उन्होंने काम किया था। उनके चले जाने से यह समाज अपने आप को सियासी स्तर पर कमजोर समझेगा। चौ. अजित सिंह की सियासत का विपक्षी दल कायल हुआ करते थे। कई बार गठबंधन सरकारों में उनकी अहम भूमिका रही। वे लोकदल से लेकर जनता पार्टी, जनता दल के गठन में छोटे चौधरी की भूमिका थी। पूर्व प्रदेश सचिव नीरज शर्मा ने कहा कि चौधरी साहब इतनी बड़ी शख्सियत के रूप में साधारण छवि के व्यक्ति थे। छोटे चौधरी साहब को दुनिया भर में हमेशा के लिए उन्हें ईमानदार नेता के रूप में पहचाना जाएगा। जब तक दुनिया कायम रहेगी उनको किसानों के मसीहा के रूप में जाना जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.