मंडलायुक्‍त ने कहा, विकास कार्यों को तेजी से करें पूरा, अफसर गुणवत्ता की करते रहें परख Aligarh News

मंडलायुक्त ने कहा कि भूमि से जुड़े मामलों की जनकारी भू स्वामी को होनी चाहिए।

मंडलायुक्त ने कहा कि भूमि से जुड़े मामलों की जनकारी भू स्वामी को होनी चाहिए। ग्राम सभा सार्वजनिक सम्पत्ति रजिस्टर में सही प्रविष्टियों को भरकर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएं। अलीगढ़ में हरियाणा सीमा विवाद में जनपद के 589 किसान प्रभावित हैं।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 02:00 PM (IST) Author: Sandeep kumar Saxena

अलीगढ़, जेएनएन। मंडलायुक्त जीएस प्रियदर्शी की अध्यक्षता में कमिश्नरी सभागार में शुक्रवार को राजस्व कार्यों की मंडलीय बैठक हुई। इसमें राजस्व संहिता के प्रचलित वादों के सर्वाधिक निस्तारण में अलीगढ़ के एडीएम वित्त विधान जायसवाल की सराहनना हुई। मंडलायुक्त ने कहा कि भूमि से जुड़े मामलों की जनकारी भू स्वामी को होनी चाहिए। ग्राम सभा सार्वजनिक सम्पत्ति रजिस्टर में सही प्रविष्टियों को भरकर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएं। अलीगढ़ में हरियाणा सीमा विवाद में जनपद के 589 किसान प्रभावित हैं। ठोस और प्रभावी कारवाही करते हुए किसानों को राहत पहुंचाई जाए। बड़े बकायदारों के खिलाफ किसी प्रकार की  रियायत न करते हुए वसूली की कार्यवाही की जाय।

लेखपाल फोटोग्राफी के साथ साक्ष्‍य पत्रावलियों में लगाएं

मंडलायुक्त ने सरकार द्वारा संचालित न्याय आपके द्वार योजना का प्रचार प्रसार करते हुए कार्य किया जाएं। न्याय आपके द्वार योजना पर बेहतर कार्य के लिए डीएम हाथरस की मंडलायुक्त द्वारा प्रशंसा की गई। कृषि भूमि में से वर्गमीटर में होने वाले बैनामों कि पत्रवलियां तहसील अनिवार्यता के साथ भेजने के निर्देश दिए गए। बिना पैमाइश दाखिल दफ्तर हो रहीं पत्रवलिया पर रोष प्रकट करते हुए 2 साल के मामलों का रिव्यू करने के निर्देश दिए गए। वाद निस्तारण मामले में पारदर्शिता एवं गति लाने के उद्देश्य से निर्देशित किया कि जब लेखपालों को सरकार द्वारा लैपटॉप प्रदान किया गया है तो फोटोग्राफी साक्ष्य के साथ रिपोर्ट क्यों नही लगाई जा रही है। विभिन्न प्रकार के आवंटन में जनपदों द्वारा सरकार की मंशानुरूप कार्य नही करने पर जिलाधिकारियों को निर्देश दिए। कहा कि, आवंटन कार्य मे तेज़ी लाई जाय।  लोकवाणी मद में जो सामग्री उपकरणों की खरीद की जा सकती है , खरीदारी की जाए।  इस मौके पर डीएम अलीगढ़ चंद्रभूषण सिंह, डीएम कासगंज सीपी सिंह, हाथरस डीएम रमेश रंजन समेत अन्य मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.