खैर व पलवल के अधिकारियों ने भूमि विवाद व शराब तस्करी पर किया मंथन

विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर खैर तहसील प्रशासन व पलवल प्रशासन की संयुक्त बैठक एसडीएम पलवल आइएएस सुश्री वैशाली सिंह खैर एसडीएम केबी सिंह की अध्यक्षता में जिला सचिवालय सभागार पलवल में हुई जिसमें दोनों तरफ की मुख्य भूमि विवाद व चुनाव को प्रभावित करने वाले असामाजिक तत्वों व व्यक्तियों पर चर्चा की गई।

JagranFri, 03 Dec 2021 01:01 AM (IST)
खैर व पलवल के अधिकारियों ने भूमि विवाद व शराब तस्करी पर किया मंथन

अलीगढ़: विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर खैर तहसील प्रशासन व पलवल प्रशासन की संयुक्त बैठक एसडीएम पलवल आइएएस सुश्री वैशाली सिंह, खैर एसडीएम केबी सिंह की अध्यक्षता में जिला सचिवालय सभागार पलवल में हुई, जिसमें दोनों तरफ की मुख्य भूमि विवाद व चुनाव को प्रभावित करने वाले असामाजिक तत्वों व व्यक्तियों पर चर्चा की गई। उन पर प्रभावी रोक के लिए सामंजस्य बनाकर निगरानी रखने का निर्णय लिया गया। अराजक तत्वों को चिह्नित कर कार्रवाई की योजना तैयार की गई। इसका बड़ा कारण यूपी के मुकाबले हरियाणा में शराब के दाम 30-40 प्रतिशत तक कम होना माना जा रहा है। इसलिए चुनाव के दौरान हरियाणा से तस्करी कर लाने वाली शराब पर रोक लगाने को यूपी पुलिस ने हरियाणा पुलिस से सहयोग मांगा। इसको लेकर बार्डर पर चेकिग बढ़ाने का निर्णय लिया गया।

बता दें कि हरियाणा के पलवल की सीमा ब्लाक टप्पल से सटी है। जिससे यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में हरियाणा से शराब की बड़े स्तर पर तस्करी की जाती है। चुनाव में जीतने को लेकर प्रत्याशी खूब शराब बांटते हैं। ऐसे में नकली व सस्ती शराब बांटी जाती है। हरियाणा में यूपी के मुकाबले अंग्रेजी शराब करीब 30 व देशी शराब 40 प्रतिशत सस्ती है। इसके अलावा शराब तस्कर इससे भी सस्ती शराब उपलब्ध करा देते हैं। इसका खुलासा यूपी पुलिस को पिछले पंचायत चुनाव में शराब तस्करों के खिलाफ चलाए अभियान में हुआ। बैठक में तहसीलदार होडल संजीव नागर, तहसीलदार हीरालाल सैनी, सीओ खैर इंदु सिद्धार्थ, डीएसपी होडल सज्जन सिंह, टप्पल एसओ देवेंद्र सिंह,जिला आबकारी अधिकारी अलीगढ़ डा. सतीश चंद्र, आबकारी इंस्पेक्टर विचित्र कुमार, इंस्पेक्टर होडल अनूप सिंह, इंस्पेक्टर चांदहट रामचंद, इंस्पेक्टर हसनपुर मोहन सिंह, एसीटीओ अलीगढ़ रवेंद्र पवार, सीटीओ अलीगढ़ राजू कुमार आदि अधिकारी उपस्थित रहे। इस बारे में एसडीएम केबी सिंह ने बताया कि बैठक में शराब की तस्करी व भूमि विवाद प्रमुख मुद्दा रहा, जिस पर दोनों से कठोर निर्णय लेने पर सहमति बनी है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.