नन्‍हे हाथों में तख्‍तियां और जुबां पर एक ही शब्‍द टीबी, कैंसर मौत की सीढ़ी, बंद करो ये गुटखा-बीड़ी Aligarh news

गांव नगला नैहचला में नशाखोरी के खिलाफ स्वामी विवेकानंद जन चेतना यात्रा निकाली गई।

परोपकार सामाजिक सेवा संस्था तोछीगढ़ द्वारा गांव नगला नैहचला में नशाखोरी के खिलाफ स्वामी विवेकानंद जन चेतना यात्रा निकाली गई। संस्था के अध्यक्ष समाज सेवी इंजी. जतन चौधरी ने कहा कि नशे की बढ़ती हुई आदत से आए दिन हादसे होते रहते हैं।

Anil KushwahaTue, 02 Mar 2021 03:12 PM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन : परोपकार सामाजिक सेवा संस्था तोछीगढ़ द्वारा गांव नगला नैहचला में नशाखोरी के खिलाफ स्वामी विवेकानंद जन चेतना यात्रा निकाली गई। ग्रामीणों को नशाखोरी के दुष्प्रभावों के प्रति जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटक किया गया।

गांव की गलियों में घूमी रैली

रैली का शुभारंभ श्वेता सिंह व किसन सिंह ने किया। यात्रा के दौरान "टीबी, कैंसर मौत की सीढ़ी, बंद करो ये गुटखा-बीड़ी"  आदि गगन भेदी नारे लगाकर गांव की गलियों में ग्रामीणों को नशे की बुरी आदत छोड़ने को जागरूक किया। सत्य कृष्णांजलि पब्लिक स्कूल के शिवानी, पूनम, प्रिंस, गगन, अंशुल, अमन, ध्रुव व हर्षित ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से नशा खोरी छोड़ने के लिए ग्रांवासियों को  प्रेरित क्या।

नशे की बढ़ती लत चिंता का विषय

संस्था के अध्यक्ष समाज सेवी इंजी. जतन चौधरी ने कहा कि नशे की बढ़ती हुई आदत से आए दिन हादसे होते रहते हैं। कैंसर जैसी भयंकर बीमारी का मुख्य कारण भी नशाखोरी ही है। देश के युवाओं में अपराधिक प्रवृतियां बढ़ती जा रही हैं।

यह लोग रहे उपस्‍थित

चौधरी देवेंद्र सिंह सिकरवार ने कहा कि नशाखोरी से सामाजिक, आर्थिक व मानसिक हानि  होती है। इस मौके पर नीलम, गौरव, धर्मेंद्र, पुष्पेंद्र, अनुराग, प्रशांत, पायल, घमंडी सिंह, भूरी देवी, रंजीत सिंह, साधना, वंदना, लक्ष्मी, काजल, वैष्णवी, विवेक, ललित, कन्हैया, राघव, पवन, सुमित, जतिन, मोहित, रजनी, गुंजन, चेतन, आरती, राधा आदि थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.