अलीगढ़ में नगर आयुक्त ने रूठों को मनाकर विकास कार्यों को दी रफ्तार

तबादला होने पर नगर आयुक्त से मिलने पहुंचे पार्षद कर्मचारी व समाजसेवी।

JagranTue, 27 Jul 2021 02:08 AM (IST)
अलीगढ़ में नगर आयुक्त ने रूठों को मनाकर विकास कार्यों को दी रफ्तार

जासं, अलीगढ़ : नगर आयुक्त के तौर पर एडीए उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह का कार्यकाल बेहतर रहा, सभी ने सराहा भी। शुरुआती दिनों में उलझने काफी रहीं। जनप्रतिनिधि नगर निगम के खिलाफ थे। प्रशासनिक कौशल और सौम्य व्यवहार के बल पर नगर आयुक्त ने न सिर्फ रूठों को मनाया, बल्कि इनके सहयोग से विकास कार्यों को रफ्तार भी दी। 265 दिन के कार्यकाल में उन्होंने कई अहम फैसले लिए, जिनकी सराहना भी हुई। सोमवार को उनके तबादले की खबर पाते ही आवास पर मिलने वालों का तांता लग गया। पार्षद, कर्मचारी, विभागीय अधिकारी व समाजसेवियों ने पगड़ी ल फूलमालाएं पहनाकर उन्हें सम्मानित किया।

शासन ने प्रेम रंजन सिंह को गोरखपुर विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष नियुक्त किया है। रविवार रात ही ये आदेश जारी हुए थे। उनके स्थान पर वाराणसी के नगर आयुक्त गौरांग राठी को अलीगढ़ भेजा गया है। वे यहां एडीए वीसी का कार्यभार भी देखेंगे। नगर आयुक्त के तबादले की खबर देररात ही इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गई। पुष्टि करने के लिए लोग इधर-उधर फोन करने लगे। सुबह होते ही लालडिग्गी स्थित आवास पर मिलने पहुंच गए। उपसभापति डा. मुकेश शर्मा, पार्षद विजय तोमर, सुरेंद्र पचौरी, मुशर्रफ हुसैन, संजय शर्मा आदि ने नगर आयुक्त को सम्मानित किया। पार्षदों ने कहा कि छोटे से कार्यकाल में नगर आयुक्त ने अहम फैसले लिए। संपत्ति कर से यूजर चार्ज हटावाया, गृहकर पर ब्याज माफी के अलावा सफाई कर्मचारियों का समायोजन कर वार्डों में स्वच्छता व्यवस्था दुरुस्त की। शहर की सीमा में शामिल गांवों में भी सफाई कर्मचारी नियुक्त किए। ईंधन की बचत कर निगम की आय बढ़ाई। रुके हुए प्रोजेक्ट भी शुरू कराए। आउटसोर्सिंग सफाई कर्मचारियों का वेतन बढ़ाया। जलापूर्ति के लिए मिनी ट्यूबवेल की योजनाएं बनाईं। प्रत्येक वार्ड में 50 लाख की परियोजनाओं के टेंडर निकाले।

नगर आयुक्त ने कहा कि पार्षदों और कर्मचारियों के सहयोग के बिना यह मुमकिन नहीं था। विकास कार्यों में जनप्रतिनिधियों का सहयोग बहुत जरूरी है और यह उन्हें मिला। नगर आयुक्त ने सभी का आभार जताते हुए विकास कार्यों में नए नगर आयुक्त का सहयोग करने की अपेक्षा की। इस अवसर पर अपर नगर आयुक्त अरुण कुमार गुप्त, जीएम जल अनवर ख्वाजा, सीटीओ विनय कुमार राय, कर निर्धारण अधिकारी आरपी सिंह, कर अधीक्षक राजेश गुप्ता, राजेश जैन, प्रभारी नगर स्वास्थ्य अधिकारी मनोज प्रभात आदि अधिकारी मौजूद रहे।

बेहतर तालमेल : चार नवंबर, 2020 को नगर निगम की बागडोर संभालते ही प्रेम रंजन सिंह ने जनप्रतिनिधियों व नगर निगम के बीच बनी खाई को पाटना शुरू कर दिया था। पार्षद व विधायकों से बेहतर तालमेल बनाना उनकी प्राथमिकता रही। छोटे-बड़े हर काम में इनके सुझावों पर अमल किया जाता। यही वजह है कि किसी प्रोजेक्ट में कोई अड़चन नहीं आई।

व्यापारियों ने भी कार्यकाल सराहा

अलीगढ़ व्यापारी संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने नगर आयुक्त को सम्मानित कर उनके कार्यकाल की सराहना की। मुख्य संयोजक अनिल सेंचुरी व मनीष अग्रवाल वूल ने कहा कि यूजर चार्ज, हाउस टैक्स पर नगर आयुक्त ने अहम फैसले लिए। व्यापारियों में हरिकिशन अग्रवाल, अन्नू बीड़ी, संजीव अग्रवाल, ऋषि मित्तल, प्रवीण बंसल, संजीव अग्रवाल, सचिन अग्रवाल मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.