100 के पार हुआ पेट्रोल तो बेकार हो जाएंगी नान स्पेस पंप, जानिए विस्‍तार से Aligarh News

पेट्रोल की कीमतें इन दिनों आसमान छू रही हैं। अलीगढ़ समेत आसपास के सभी जिलों में 99 रुपये प्रति लीटर के आसपास पेट्रोल की बिक्री हो रही है। पेट्रोल कीमतों के सौ के पार पहुंचने की भी आशंका जताई जा रही है।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 30 Jul 2021 06:39 AM (IST)
बढ़ती कीमतों से ग्राहक ही नहीं पेट्रोल पंप संचालक भी परेशान हैं।

अलीगढ़, सुरजीत पुंढीर। पेट्रोल की कीमतें इन दिनों आसमान छू रही हैं। अलीगढ़ समेत आसपास के सभी जिलों में 99 रुपये प्रति लीटर के आसपास पेट्रोल की बिक्री हो रही है। पेट्रोल कीमतों के सौ के पार पहुंचने की भी आशंका जताई जा रही है। बढ़ती कीमतों से ग्राहक ही नहीं पेट्रोल पंप संचालक भी परेशान हैं। सबसे अधिक परेशानी है नान स्पेस पंप मालिकों को हो रही है।। पेट्रोल की कीमत अगर सौ के पार होती है तो ये पंप बेकार हो जाएंगे। दरअसल, नान स्पेस पंपों में चार अंक से ज्यादा नंबर फीड नहीं हो सकते। 99.99 रुपये प्रति लीटर तक ही ये पंप संचालित हो सकती हैं। अलीगढ़ में ऐसी एक पंप है।

जापान की कंपनी ने लगाई थी पंप

जिले भर में 135 पंप हैं। इनमें एक मैरिस रोड स्थित सुधीर फिलिंग स्टेशन आइओसी का नान स्पेस पंप है। जिले की यह सबसे आधुनिक पंप है। 2017 में नान स्पेस मशीन लगीं थीं। इस पंप की सभी मशीनों का नोजल छत से लटका हुआ होता है। पेट्रोल-डीजल की माप बताने के लिए मीटर दीवार पर लगा होता है। जापान की एक निजी कंपनी से इन मशीनों की आपूर्ति हुई थी। इस मशीन के लगाने से जमीन नहीं घिरती। पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से पैदा हुए संकट को देखते हुए सुधीर फिलिंग स्टेशन के स्वामी ने नान स्पेस मशीनों की जगह पुरानी डिस्पेंसरिंग यूनिट लगवानी शुरू कर दिया है। इस खामी के बारे में उन्होंने कंपनियों को अवगत करा दिया गया है। कंपनी की तरफ से मशीन की आपूर्ति करने वाली जापान की जमीन से बातचीत चल रही है। आश्वासन दिया जा रहा है कि अगले 45 दिनों में साफ्टवेयर अपग्रेड किया जा सकेगा।

पांच गुना से भी ज्यादा है कीमत

नान स्पेस पंप व डिस्पेंसरिंग यूनिट की कीमत में पांच गुना तक अंतर होता है। नान स्पेस पंप की एक मशीन की कीमत 30 से 35 लाख रुपये है, वहीं, डेस्पेंसरिंग यूनिट की कीमत चार से पांच लाख रुपये है। दोनों की गुणवत्ता में भी बड़ा अंतर है। नान स्पेस पंप अन्य साधारण मशीनों से आधे समय में ही पेट्रोल डाल देती है। इससे वाहनों के इधर-उधर हटाने की भी जरूरत नहीं पड़ती है। जगह भी नहीं घिरती। वहीं, डिस्पेंसिरंग यूनिट के सामने से जब तक वाहन नहीं हटेगा, तब तक दूसरे वाहन में पेट्रोल नहीं डाल सकते हैं।

इनका कहना है

अलीगढ़ ही नहीं सभी नान स्पेस पंपों में यह दिक्कत आ रही हैं। कंपनी को इसके लिए अवगत करा दिया गया है। जापान की कंपनी से इसकी आपूर्ति हुई थी। मशीनों के अपग्रेडशन की बात चल रही है। तब तक के लिए डिस्पेंसरिंग यूनिट से ही डीजल पेट्रोल देने की व्यवस्था की जा रही है।

राजीव अग्रवाल, सुधीर फिलिंग स्टेशन, अलीगढ़

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.