छह दिसंबर को लेकर अलीगढ़ में हाई अलर्ट, सेक्टर स्कीम लागू

छह दिसंबर को लेकर जिलेभर में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं। शहर में सेक्टर स्कीम लागू की गई है। सभी नौ सेक्टरों में मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी तैनात कर दिए गए हैैं।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 05 Dec 2021 06:25 AM (IST)
शहरी क्षेत्र में एक जनवरी तक धारा 144 लगा दी गई है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। छह दिसंबर को लेकर जिलेभर में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं। शहर में सेक्टर स्कीम लागू की गई है। सभी नौ सेक्टरों में मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी तैनात कर दिए गए हैैं। संवेदनशील क्षेत्रों में विशेष निगरानी की जा रही है। बिना अनुमति के जुलूस व धरना प्रदर्शन पर रोक लगा दी गई है। क्षेत्रीय मजिस्ट्रेटों को भी भ्रमणशील रहने के निर्देश दे दिए हैं। शहरी क्षेत्र में एक जनवरी तक धारा 144 लगा दी गई है। एडीएम सिटी राकेश पटेल ने बताया कि अगर कोई प्रशासन की बिना अनुमति के कार्यक्रम करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इस तरह तैनात किए गए मजिस्ट्रेट

-सेक्टर एक कोतवाली नगर में चकबंदी अधिकारी प्रजापति मंगगई।

-सेक्टर दो सासनीगेट में सहायक अभियंता नलकूप खंड अमर सिंह

-सेक्टर तीन देहलीगेट में अवर अभियंता अलीगढ़ खंड गंगा नहर बाबू सिंह

-सेक्टर चार बन्नादेवी में अवर अभियंता नलकूप खंड सूरजपाल सिंह

-सेक्टर पांच गांधी पार्क में अवर अभियंता नलकूप खंड ब्रिजेश कुमार।

-सेक्टर छह क्वार्सी में अवर अभियंता, नलकूप खंड सौरभ अग्रवाल

-सेक्टर सात सिविल लाइंस में अवर अभियंता नलकूप खंड महेंद्र कुमार।

-सेक्टर आठ महुआखेड़ा में अवर अभियंता अलीगढ़ खंड गंग नहर ओमप्रकाश।

-सेक्टर नौ रोरावर में अवर अभियंता, अलीगढ़ खंड गंगा नहर उदयप्रताप।

पुलिस ने थमाए रेड कार्ड नोटिस

मथुरा में प्रस्तावित जलाभिषेक कार्यक्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन सतर्क है। ङ्क्षहदुत्ववादी संगठनों से जुड़े पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को रेड कार्ड नोटिस जारी किए जा रहे हैं। कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। इसके बाद भी नोटिस भेजे जाने को लेकर उनमें आक्रोश है। जिले से भी कुछ ङ्क्षहदुत्ववादी संगठनों ने मथुरा जाने का एलान कर दिया था। पुलिस-प्रशासन ने जिले के प्रमुख ङ्क्षहदुत्ववादियों को थाना वाइज चिह्नित किया है। नोटिस में उन्हें जनपद व गैर जनपदों में होने वाले प्रदर्शन व धरने में शामिल होने पर किसी प्रकार की अराजकता, हिंसा, लोक व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था के भंग होने पर उत्तरदायी मानने का जिक्र किया गया है। इस संबंध में हिंदुत्‍वादी संगठनों के पदाधिकारियों का कहना है कि मथुरा में होने वाले जलाभिषेक कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। फिर भी नोटिस भेजकर परेशान किया जा रहा है। सासनीगेट क्षेत्र में कई ऐसे नेता हैं, जिनके यहां चार दिन से पुलिस जा रही है और पूछताछ कर रही है। करणी सेना के जिलाध्यक्ष ज्ञानेंद्र ङ्क्षसह चौहान बन्नादेवी इलाके में रहते हैं, लेकिन उन्हें सासनीगेट थाने की पुलिस ने रेड कार्ड जारी किया है। करणी सेना के आइटीआइ रोड स्थित जिला कार्यालय पर हुई बैठक में रेड कार्ड नोटिस भेजे जाने की ङ्क्षनदा की गई। प्रदेश उपाध्यक्ष इं. वीपी ङ्क्षसह ने कहा कि पुलिस- प्रशासन का नोटिस भेजना निम्न स्तर की मानसिकता को दर्शाता है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिलाध्यक्ष ठा. ज्ञानेंद्र ङ्क्षसह चौहान ने कहा कि करणी सेना ङ्क्षहदुत्व की रक्षा की लड़ाई लड़ रही है। रेडकार्ड नोटिस भेजकर आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है। बैठक में कुलदीप राघव, जितेंद्र राघव, आशीष चौहान, विवेक अग्रवाल, प्रणय शर्मा, हिमांशु पंडित, संजीव कुशवाहा, कमल गुप्ता, जितेंद्र लोधी मौजूद थे।

--------------

छह दिसंबर को मथुरा में होने वाले कार्यक्रम को लेकर शांति एवं कानून व्यवस्था भंग न हो इसके लिए जिले के ङ्क्षहदुत्ववादी संगठनों के पदाधिकारियों को चिह्नित कर उन्हें रेड कार्ड नोटिस दिए गए हैं। ताकि वे शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करें। किसी तरह की गड़बड़ी करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।

कुलदीप सिंह गुनावत, एसपी सिटी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.