प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर स्वास्थ्य विभाग मुस्तैद, कंटिजेंसी व डेफिनेटिव हास्पिटल तैयार Aligarh news

आपात स्थिति में लोधा के जेडी हास्पिटल व जीवन ज्योति हास्पिटल में कंटिंजेंसी व जेएन मेडिकल कालेज में डेफिनेटिव सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। इनमें विशेषज्ञ उपकरण दवा खून एंबुलेंस समेत तमाम सुविधाएं होंगी। मोबाइल हेल्थ टीमें भी बनाई गई हैं।

Anil KushwahaMon, 13 Sep 2021 05:52 AM (IST)
चौदह सितंबर के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के अलावा तमाम वीपीआइपी शामिल होंगे।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता।  चौदह सितंबर के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के अलावा तमाम वीपीआइपी शामिल होंगे। अतः सुरक्षा के साथ स्वास्थ्य के लिए भी व्यापक तैयारियां की गई हैं। आपात स्थिति में लोधा के जेडी हास्पिटल व जीवन ज्योति हास्पिटल में कंटिंजेंसी व जेएन मेडिकल कालेज में डेफिनेटिव सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। इनमें विशेषज्ञ, उपकरण, दवा, खून, एंबुलेंस समेत तमाम सुविधाएं होंगी। मोबाइल हेल्थ टीमें भी बनाई गई हैं। सीएमओ समेत अन्य अधिकारियों ने स्वास्थ्य सेवाओं का जायजा लिया।

वीआईपी मूवमेंट का मिलेगा लाभ

सीएमओ डा. आनंद उपाध्याय ने बताया कि पूर्व में वीआइपी मूवमेंट के अनुभव का लाभ उठाते हुए सभी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। कार्यस्थल के निकट लोधा के जीवन ज्योति हास्पिटल को कंटिजेंट हास्पिटल बनाया गया है, जिसके नोडल जिला अस्पताल के सीएमएस डा. रामकिशन होंगे। उनकी टीम यहां तैनात रहेगी। जरूरी दवा, आक्सीजन, उपकरण (थर्मामीटर, पल्स आक्सीमीटर, ब्लड प्रेशर मशीन आदि), माइनर सर्जरी का सामान उपलब्ध रहेगा, ताकि मरीज को तत्काल उपचार मिल सके। यदि कोई गंभीर मरीज होगा तो उसे डेफिनेटिव हास्पिटल (जेएन मेडिकल कालेज) में भर्ती कराया गया। यहां पर अत्याधुनिक सुविधाअों के साथ हर तरह के विशेषज्ञ (कार्डियोलाजिस्ट, नेफ्रोलाजिस्ट, एमडी मेडिसिन, पेथोलाजिस्ट आदि) तैनात रहेंगे, ताकि वीआइपी के इलाज में कोई कमी न रहे। मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल डा. शाहिद अली सिद्दीकि स्वयं इसके नोडल बनाए गए हैं। इसके अलावा प्रधानमंत्री की स्पेशल मेडिकल टीम भी होंगी, जो साथ आएगी। सभी सीएचसी-पीएचसी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में 14 को 24 घंटे सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। सीएमओ कार्यालय में 24 घंटे कंट्रोल रूम सुचारू रहेगा। डाक्टरों व स्टाफ को विभिन्न जिम्मेदारियां दी गई हैं। सभी के अवकाश निरस्त कर दिए गए हैं। सीएमएस दीनदयाल को सेफ हाउस की जिम्मेदारी मिली है।  

एंबुलेंस की व्यवस्था

31 एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस होंगी। इनमें तीन अलीगढ़ की व दो-दो एंबुलेंस 14 अन्य जनपदों से मंगाई गई हैं। इसी तरह 108 सेवा की 29 एंबुलेंस होंगी। 15 एंबुलेंस अलीगढ़ व 14 दूसरे जनपदों की होंगी। प्रत्येक प्रवेश द्वार से लेकर हर प्वाइंट पर एक एंबुलेंस होगी। इस तुरह कुल 60 एंबुलेंस होंगी। कुल डाक्टरों समेत 324 कर्मी एंबुलेंसों पर तैनात होंगे। प्रत्येक वीआइपी के ग्रुप का ब्लड भी उपलब्ध रहेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.