अलीगढ़ में खतरे के निशान से ऊपर पहुंचा गंगा का जलस्‍तर, एक दर्जन गांव में बाढ़ का खतरा Aligarh news

गंगा का पानी खतरे के निशान से ऊपर जा चुका है। अतरौली तहसील के एक दर्जन से अधिक गांव की बाढ़ की जद में हैं। सांकरा में पानी घुसने की शुरुआत हो गई है। ऐसे में प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। अतरौली एसडीएम को स्थलीय निरीक्षण किया।

Anil KushwahaTue, 22 Jun 2021 06:01 AM (IST)
गंगा का जलस्‍तर बढ़ने की सूचना पर मौके पर पहुंचे अधिकारी।

अलीगढ़, जेएनएन ।  गंगा का पानी खतरे के निशान से ऊपर जा चुका है। अतरौली तहसील के एक दर्जन से अधिक गांव की बाढ़ की जद में हैं। सांकरा में पानी घुसने की शुरुआत हो गई है। ऐसे में प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। अतरौली एसडीएम को स्थलीय निरीक्षण कर बाढ़ चौकी स्थापित करने के निर्देश दिए गए हैं। लोगों के साथ ही पशुओं को भी सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के इंतजाम किए जा रहे हैं। सोमवार सुबह छह बजे गंगा में 178.50 मीटर पानी रिकार्ड किया है। यह वर्तमान में करीब 223007 क्यूसेक है।

खैर में यमुना और अतरौली से निकलती हैं गंगा

जिले की खैर तहसील से यमुना व अतरौली से गंगा नदी निकलती है। यमुना में पानी का स्तर सामान्य है। वहीं, गंगा नदी में लगातार पानी बढ़ रहा है। अधिशासी अभियंता निचली गंग नहर नरौरा खंड ने सोमवार सुबह गंगा का मुअायना किया। इसकी रिपोर्ट डीएम चंद्रभूषण सिंह को दी। इसमें उन्होंने बताया कि सोमवार की सुबह गंगा का जलस्तर 178.50 मीटर तक पहुंच गया है। पानी के स्तर की प्रवृत्ति अभी और बढऩे की है। ऐसे में गंगातट से लगने वाले गांवों में बाढ़ आने से जनहानि, फसल हानि अथवा किसी तरह की पशु हानि से इंकार नहीं किया जा सकता है। गंगनहर के अधिशासी अभियंता की इस रिपोर्ट के आते ही प्रशासन अलर्ट हो गया है। तत्काल डीएम चंद्रभूषण सिंह ने अतरौली के एसडीएम और तहसीलदार सहित इलाका पुलिस को अलर्ट किया गया। वहां बाढ़ राहत चौकियों की स्थापना के लिए भी निर्देशित किया गया है। तत्काल अतरौली प्रशासन अलर्ट हो गया।

सांकरा में पानी ने किया प्रवेश

सोमवार शाम को सांकरा में गंगा का पानी प्रवेश करने लगा है। इससे गांव वालों में खलबली मची हुई है। लोगों में अफरा-तफरी है। कुछ लोगों ने गांव से पलायन शुरू कर दिया है। तहसील स्तरीय अफसरों ने बाढ़ से प्रभावित होने की आशंका वाले गांवों का दौरा कर ग्रामीणों को जल स्तर बढऩे की सूचना दी और सावधानी बरतने की सलाह दी। लोगों से ऊंचे स्थान पर जाने की अपील की जा रही है। तहसील स्तर के अफसरों के मुताबिक जल स्तर इसी तरह से बढ़ता गया तो जल्दी ही आस पास के गांव वालों को बाढ़ राहत चौकियों पर जाना पड़ेगा। यहां पर तैनात लेखपाल व अन्य राजस्व कर्मियों को सतर्क कर दिया है। पूर्ति विभाग, बिजली विभाग को भी अलर्ट कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग भी बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए अलर्ट किया गया है। सोमवार को एसडीएम पंकज कुमार ने पुलिस व प्रशासनिक अफस्रों के साथ संभावित गांव का दौरा किया।

इन गांव पर बाढ़ का खतरा

सांकरा, दीनापुर, गनेशपुर गंग, हमीदपुर, रुस्मतनगर, नगला जोगिया, सीकरी, गहतोली, गंगा नगला अलिया, गोपालपुर, हारुनपुर, अहतमाली, नयावली, शकूरगंज, सांकरा, टोडरपुर, गैर अहतमाली, टोडरपुर अहतमाली, कितरतौली, हारुनपुर, नगला सीसई और अलीपुर।

इनका कहना है

गंगा में तेजी से पानी बढ़ रहा है। ऐसे में प्रशासन ने पहले से ही इंतजाम शुरू कर दिए हैं। बाढ़ चौकी बनाई जा रही हैं। लोगों को बाढ़ आने पर ऊंचे स्थानों पर जाने की सलाह दी जा रही है।

पंकज कुमार, एसडीएम अतरौली

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.