साइबर जागरूकता की चार विशेष पेंफ्लेट तैयार, एक लाख लोगों में बंटेगी Aligarh News

साइबर ठगी से लोगों को बचाने के मकसद से पुलिस ने नई पहल की है।

साइबर ठगी से लोगों को बचाने के मकसद से पुलिस ने नई पहल की है। चार तरह की विशेष पेंफ्लेट बनाई हैं। इनमें अलग-अलग तरह के फ्राड के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। प्रथम चरण में एक लाख पेंफ्लेट छपवाई जाएंगी।

Sandeep kumar SaxenaTue, 23 Feb 2021 10:34 AM (IST)

अलीगढ़, सुमित शर्मा। साइबर ठगी से लोगों को बचाने के मकसद से पुलिस ने नई पहल की है। चार तरह की विशेष पेंफ्लेट बनाई हैं। इनमें अलग-अलग तरह के फ्राड के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। प्रथम चरण में एक लाख पेंफ्लेट छपवाई जाएंगी, जिनको लोगों के बीच बांटने की तैयारी है। एक बुकलेट भी बनाई गई है, जो पुलिस विभाग से जुड़े अफसरों का ज्ञान बढ़ाएगी। 

 साइबर ठगी के मामले तेजी से बढ़े

डिजिटल होते जा रहे जमाने में साइबर ठगी के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले साल अलीगढ़ में चार सौ मुकदमे दर्ज हुए थे। ऐसे में पुलिस लोगों को जागरूक करने के लिए विशेष पहल कर रही है। इंटरनेट मीडिया सेल ने एक माह की मेहनत के बाद चार तरह के पेंफ्लेट तैयार किए हैं। इनमें साइबर फ्राड, बैंक संबंधी फ्राड, इंटरनेट मीडिया संबंधी फ्राड, ओएलएक्स फ्राड शामिल हैं। चारों तरह की ठगी को बारीकी से बताने के साथ सावधान के टिप्स भी दिए गए हैं। पेंफ्लेट तैयार हो चुके हैं। इसे अलग-अलग चरणों में छपवाया जाएगा। प्रथम चरण में चारों पेंफ्लेट की 25-25 हजार कापी छपवाई जा रही हैं। मार्च की शुरुआत में ही काम पूरा हो जाएगा। इन्हें लोगों के बीच बांटा जाएगा। सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलने पर फिर से इतनी ही कापी छपवाई जाएंगी। एसएसपी मुनिराज खुद पूरी टीम की निगरानी कर रहे हैं। टीम में इंटरनेट मीडिया सेल के प्रभारी विनोद कुमार मिश्रा के अलावा सह-प्रभारी समरपाल सिंह, नरेश कुमार, जयदीप सिंह, प्रवीन कुमार शामिल हैं। 

पेंफ्लेट में मिलेगी यह जानकारी 

पहली पेंफ्लेट में साइबर अपराध क्या है, साइबर सुरक्षा जागरूकता क्यों महत्वपूर्ण है, पहचान की चोरी से कैसे बचें, डाटा की चोरी से कैसे बचें, फिशिंग, लाटरी फ्राड शामिल है। दूसरी पेंफ्लेट में क्या है ओएलएक्स फ्राड, कैसे होते हैं शिकार, कैसे बच सकते हैं शामिल है। तीसरी पेंफ्लेट में बैंकिंग फ्राड कैसे और कितने तरह के होते हैं, डिजिटल पेमेंट करे वक्त कैसे जागरूक रहें, एटीएम कार्ड इस्तेमाल करते वक्त क्या सावधानी बरतें, जबकि चौथी पेंफ्लेट में सहानुभूति फ्राड, साइबर स्टाकिंग, साइबर बुलिंग, साइबर ग्रूमिंग के बारे में बताया गया है।

40 पेज की बुकलेट भी बनाई 

पुलिस ने 40 पेज की बुकलेट भी बनाई है। इसमें 11 चैप्टर हैं। जैसे साइबर अपराध क्या है? क्यों महत्वपूर्ण है? कितने प्रकार हैं? बैंकिंग फ्राड, ओएलएक्स संबंधी फ्राड, पोर्नोग्राफी, हैकिंग, वायरस अटैक, डाटा की चोरी, पहचान की चोरी, मोबाइल एप्लिकेशन संबंधी फ्राड आदि। इस बुकलेट को पुलिस विभाग के अधिकारियों व थाना में उपलब्ध कराया जाएगा। इसके जरिये अधिकारी लोगों के बीच जाकर जागरूक करेंगे। 

सुरक्षा आपकी संकल्प हमारा का नारा 

लाकडाउन में पुलिस ने दिन हो या रात, शहर हो या देहात, अलीगढ़ पुलिस हमेशा आपके साथ के नारे के साथ काम किया था। पेंफ्लेट भी इसका जिक्र है। साथ ही सुरक्षा आपकी संकल्प हमारा, जागरूक रहें-सुरक्षित रहें का भी नारा दिया गया है। 

साइबर ठगी के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जागरूकता ही इसका एकमात्र बचाव है। इसके लिए चार तरह के पेंफ्लेट तैयार किए गए हैं। इनमें साइबर ठगी से बचाव के टिप्स के अलावा अलग-अलग बिंदुअों को बारीकी से समझाया गया है। पुलिस की प्राथमिकता है कि ज्यादा से ज्यादा लोग जागरूक बनें। ऐसे में एक लाख पेंफ्लेट छपवाए जाएंगे, जिन्हें लोगों के बीच बांटा जाएगा। 40 पेज की एक बुकलेट भी है, जिसके जरिये पुलिस स्कूल-कालेजों में भी बच्चों को जागरूक करेगी।  

मुनिराज, एसएसपी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.